[स्टार्टअप भारत] बच्चों के लिए केमिकल-फ्री प्रोडक्ट्स बना रहा है मध्य प्रदेश का ये स्टार्टअप

सानिध्य पारीक और शुचि शर्मा द्वारा शुरू किया गया, Mtoto एक शुजालपुर स्थित ऑनलाइन बेबी केयर प्रोडक्ट स्टार्टअप है जो केमिकल फ्री प्रोडक्ट्स बनाता है।

[स्टार्टअप भारत] बच्चों के लिए केमिकल-फ्री प्रोडक्ट्स बना रहा है मध्य प्रदेश का ये स्टार्टअप

Sunday April 25, 2021,

4 min Read

नए-नए पैरेंट्स बनने वाले सानिध्य पारीक और शुचि शर्मा इस बात को लेकर चिंतित थे कि उनके नवजात शिशु के लिए किन प्रोडक्ट् का इस्तेमाल किया जाए। अधिकांश नए माता-पिता की तरह, यह कपल भी ऐसे बेबी केयर प्रोडक्ट्स की तलाश कर रहा था जो केमिकल-फ्री हों और किसी भी तरह से बच्चे को नुकसान न पहुंचाएं।


सानिध्य कहते हैं, "हमने पैरेंट्स से बात करते हुए एक बात देखी - बदलते समय और टेक्नोलॉजी के साथ, माता-पिता अपने बच्चे की भलाई के बारे में अधिक सचेत हो गए हैं। हम भी अपने बच्चे को पालने में शामिल सभी पहलुओं को लेकर अधिक सचेत और चिंतित हो गए।”


इसने कपल को 2020 में मध्य प्रदेश के शुजालपुर में Mtoto शुरू करने के लिए प्रेरित किया। स्टार्टअप में केमिकल-फ्री बेबी केयर प्रोडक्ट्स जैसे शैंपू, मॉइस्चराइजिंग लोशन, डायपर रैश क्रीम, आदि ऑफर किए जाते हैं और यह दावा करता है कि इसके प्रोडक्ट्स SLS, SLES, पेराबेंस और खनिज तेल जैसे हानिकारक केमिकल से मुक्त हैं।


कपल ने सानिध्य की बहन सलोनी पारीक को भी कोर टीम का हिस्सा बनने के लिए चुना।

सही मैन्युफैक्चरिंग

सानिध्या कहते हैं, "प्रोडक्शन के लिए जरूरी हर मटेरियल पर कुछ वर्षों तक विस्तृत मार्केट और प्रोडक्ट रिसर्च के बाद, हमने निष्कर्ष निकाला और अहमदाबाद में थर्ड पार्टी मैन्युफैक्चरर के साथ प्रोडक्ट्स के निर्माण की प्रक्रिया को आगे बढ़ाया।"


वह बताते हैं कि मैन्युफैक्चरर यानी निर्माता को सही कच्चे माल का उपयोग करने पर ध्यान केंद्रित करना था। सानिध्य का कहना है कि टीम इस्तेमाल किए जाने वाले कच्चे माल और मुख्य मैन्युफैक्चरिंग प्रोसेस को लेकर काफी सजग थी।


f

सलोनी पारीक, कोर टीम मेंबर

सानिध्य कहते हैं, “जब बच्चों के लिए कुछ भी करने की बात आती है तो हमें बेहद सावधान और सतर्क रहने की जरूरत होती है। हमारे स्टैंडर्ड काफी हाई थी। हम इस बात को लेकर निश्चित थे कि हमें कोई भी ऐसा SLS, SLES या कोई अन्य केमिकल नहीं चाहिए जो किसी भी तरह से बच्चे को नुकसान पहुंचा सके। इस प्रकार, हमने विभिन्न निर्माताओं को ट्राई करने, उनका परीक्षण करने, और उसके बाद ही सही थर्ड पार्टी निर्माता को अंतिम रूप देने पर ध्यान केंद्रित किया।"

प्रोडक्ट और कोविड-19

बूटस्ट्रैप होने के कारण, कंपनी को ऐसे महत्वपूर्ण प्रोडक्ट्स पर ध्यान केंद्रित करना था जो नए माता-पिता के लिए आवश्यक थे, वे चार प्रोडक्ट पर जम गए - नीम और एलोवेरा के साथ Mtoto सुपर कामिंग हेड टू टो वॉश; एलोवेरा, आलमंड ऑयल और जिंक ऑक्साइड के साथ Mtoto बेबी डायपर रैश क्रीम; Mtoto ट्रूली जेंटल बेबी शैम्पू; और शीया बटर, लीकोरिस एक्सट्रैक्ट, स्वीट आलमंड ऑयल, विटामिन ई और एलोवेरा के साथ Mtoto परफेक्टली मॉइस्चराइजिंग बेबी लोशन।


महामारी के दौरान टीम को सबसे बड़ी चुनौती तब मिली जब वे अप्रैल 2020 में अपने प्रोडक्ट्स को बाजार में उतारने वाले थे। महामारी और इसके चलते लगे लॉकडाउन का मतलब था कि कारखानों को बंद करना पड़ा। हालांकि, अक्टूबर 2020 तक, टीम निर्माण प्रक्रिया को फिर से शुरू करने में सक्षम थी, और वे नवंबर 2020 में वे ऑनलाइन लाइव हो गए।


सानिध्य का कहना है कि ब्रांड की बिक्री धीरे-धीरे बढ़ रही है। इन प्रोडक्ट्स की कीमत 300 रुपये से 400 रुपये प्रति यूनिट है। टीम वर्तमान में ऑनलाइन बिक्री और मार्केटिंग पर केंद्रित है। प्रोडक्ट्स की उनकी वेबसाइट पर और अमेजॉन, फ्लिपकार्ट और फर्स्टक्राई जैसे ईकॉमर्स मार्केटप्लेस पर खरीदारी की जा सकती है।

ि

बाजार

बेबी केयर प्रोडक्ट्स के लिए भारतीय बाजार 2020 और 2025 के बीच 15 प्रतिशत की सीएजीआर से बढ़ने की उम्मीद है। जहां जॉनसन एंड जॉनसन, पैम्पर्स और अन्य जैसे बेबी प्रोडक्ट्स के लिए कई स्थापित ब्रांड हैं, तो वहीं अब बच्चों के लिए केमिकल फ्री प्रोडक्ट्स को लेकर मार्केट में आवश्यकता और जागरूकता बढ़ रही है। ऐसे कई उल्लेखनीय भारतीय स्टार्टअप हैं जो इस स्पेस में हैं जैसे कि मदर स्पर्श, मामाअर्थ, प्रियंका रैना का माते (Maate), द बेबी एटेलियर, और बमचम जैसे कुछ नाम हैं।


अपने प्रोडक्ट्स को लेकर बात करते हुए, सानिध्य कहते हैं, “Mtoto बेबी केयर प्रोडक्ट्स मेड इन इंडिया हैं जिन्हें बच्चे की कोमल और नाजुक त्वचा को स्वस्थ और सुरक्षित रखने के लिए बनाया गया है। यह बच्चे की त्वचा को साफ करता है और उन्हें पूरे दिन मॉइस्चराइज और स्वस्थ रखता है।"


टीम में अब करीब 10 लोग हैं जो अपनी पहुंच बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं। स्टार्टअप भी जल्द ही नए प्रोडक्ट्स लॉन्च करने की तैयारी में है।