सेंसेक्स 762 अंक की छलांग के साथ रिकॉर्ड स्तर पर बंद, निफ्टी 18,400 पार

By रविकांत पारीक
November 24, 2022, Updated on : Thu Nov 24 2022 13:19:22 GMT+0000
सेंसेक्स 762 अंक की छलांग के साथ रिकॉर्ड स्तर पर बंद, निफ्टी 18,400 पार
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

स्थानीय शेयर बाजारों (stock market) में गुरुवार को लगातार तीसरे कारोबारी सत्र में तेजी का सिलसिला जारी रहा और बीएसई (BSE) का 30 शेयरों पर आधारित सूचकांक सेंसेक्स (Sensex) 62,272.68 अंक के सर्वकालिक उच्चस्तर (all- time high) पर पहुंच गया.


बीएसई का 30 शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 762.10 अंक यानी 1.24 प्रतिशत उछलकर 62,272.68 अंक के रिकॉर्ड उच्चस्तर पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान एक समय यह 62,412.33 अंक के अपने सर्वकालिक उच्चस्तर पर पहुंच गया था.


नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) का निफ्टी (Nifty) भी 216.85 अंक यानी 1.19 प्रतिशत की बढ़त के साथ 18,484.10 अंक पर बंद हुआ. कारोबार में दौरान यह अपने 52 सप्ताह के उच्चस्तर 18,529.70 तक गया था. शेयर बाजार में तीन दिन से जारी तेजी से निफ्टी में दो प्रतिशत या 324 अंक तथा सेंसेक्स में 1,167 अंक या दो प्रतिशत की वृद्धि हुई है.


बाजार में बीएसई का मिडकैप 0.52 प्रतिशत और स्मॉलकैप 0.42 प्रतिशत चढ़ गया.


अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व की बैठक के ब्यौरे में ब्याज दरों में वृद्धि के नरम रुख से निवेशकों की धारणा को समर्थन मिला जिससे वैश्विक और स्थानीय बाजार में तेजी आई.


सेंसेक्स के शेयरों में एचसीएल टेक्नोलॉजीज, इन्फोसिस, विप्रो, पावर ग्रिड, टेक महिंद्रा, टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एचडीएफसी, एचडीएफसी बैंक और महिंद्रा एंड महिंद्रा लाभ में रहे. इन्फोसिस के शेयर में सबसे अधिक 2.93 प्रतिशत की तेजी आई.


वहीं, बजाज फिनसर्व, टाटा स्टील, बजाज फाइनेंस और कोटक महिंद्रा बैंक के शेयर गिरावट में रहे.


एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, जापान का निक्की और हांगकांग का हैंगसेंग लाभ में रहा जबकि चीन के शंघाई कम्पोजिट में नुकसान रहा. यूरोप के बाजारों में दोपहर के कारोबार में तेजी थी. अमेरिकी बाजार वॉल स्ट्रीट में बुधवार को तेजी दर्ज की गई. इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.46 प्रतिशत की गिरावट लेकर 85.02 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया.


शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार, विदेशी संस्थागत निवेशकों (FIIs) ने बुधवार को 789.86 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे.


विदेशी बाजारों में डॉलर के कमजोर होने तथा घरेलू शेयर बाजार में तेजी के बीच निवेशकों की कारोबारी धारणा मजबूत हुई जिसके चलते अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में गुरुवार को अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले रुपया 30 पैसे की तेजी के साथ 81.63 (अस्थायी) प्रति डॉलर पर बंद हुआ.


बाजार सूत्रों ने कहा कि अमेरिका के कमजोर आर्थिक आंकड़े और फेडरल रिजर्व के आक्रामक रवैये में नरमी के संकेत के बाद अंतरराष्ट्रीय कारोबार में डॉलर कमजोर हो गया.


अब सोने-चांदी की कीमतों पर नज़र डालें, तो HDFC Securities के मुताबिक, वैश्विक बाजारों में बहुमूल्य धातुओं की कीमतों में तेजी के बीच दिल्ली सर्राफा बाजार में गुरुवार को सोना 323 रुपये बढ़कर 53,039 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया. अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना बढ़कर 1,755.75 डॉलर प्रति औंस तथा चांदी तेजी के साथ 21.55 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रही थी.

1252 लोगों ने इस स्टोरी को पसंद किया

D2C स्टार्टअप RapidBox ने जुटाई 36 करोड़ रुपये की फंडिंग