38 साल से नहीं हुआ बुखार और अब इनके सिवा पूरा परिवार है कोरोना पॉज़िटिव, ये है इस अफसर की इम्यूनिटी का राज

उत्तर प्रदेश की राजधानी के रहने वाले इस शख्स की कहानी आज लोग बड़ी दिलचस्पी से के साथ सुन रहे हैं। इन्होने खुद लोगों को बताया है कि किस तरह इनके परिवार में सभी कोरोना संक्रमित हुए हैं जबकि उन्होने किस तरह खुद इस वायरस के संक्रमण से बचाया है।

38 साल से नहीं हुआ बुखार और अब इनके सिवा पूरा परिवार है कोरोना पॉज़िटिव, ये है इस अफसर की इम्यूनिटी का राज

Tuesday April 27, 2021,

3 min Read

"उत्तर प्रदेश की राजधानी के रहने वाले इस शख्स की कहानी आज लोग बड़ी दिलचस्पी के साथ सुन रहे हैं। इन्होने खुद लोगों को बताया है कि किस तरह इनके परिवार में सभी कोरोना संक्रमित हुए हैं जबकि उन्होने किस तरह इस वायरस के संक्रमण से खुद को बचाया है। इतना ही नहीं इन शख्स का ये भी दावा है कि उन्हे बीते 38 सालों में कभी बुखार तक नहीं आया है।"

f

फोटो साभार: NBT

कोरोना वायरस महामारी ने इस समय पूरे देश को अपने शिकंजे में जकड़ा हुआ है। 26 अप्रैल की शाम सामने आए आए आंकड़ों के अनुसार देश में बीते 24 घंटों में 2 लाख 75 हज़ार से अधिक नए मामले दर्ज़ किए गए हैं, जबकि इसी के साथ कुल एक्टिव मामलों की संख्या 28 लाख के पार जा चुकी है। ऐसी परिस्थिति में एक ओर जहां लोग कोरोना की दहशत में जी रहे हैं वहीं एक शख्स ऐसे भी हैं जिन्होने यह साबित कर दिया है कि लाइफस्टाइल में सुधार करके इस वायरस से बड़ी आसानी से जीता जा सकता है।


उत्तर प्रदेश की राजधानी के रहने वाले इस शख्स की कहानी आज लोग बड़ी दिलचस्पी के साथ सुन रहे हैं। इन्होने खुद लोगों को बताया है कि किस तरह इनके परिवार में सभी कोरोना संक्रमित हुए हैं जबकि उन्होने किस तरह इस वायरस के संक्रमण से खुद को बचाया है। इतना ही नहीं इन शख्स का ये भी दावा है कि उन्हे बीते 38 सालों में कभी बुखार तक नहीं आया है। फिलहाल वे खुद ही कोरोना संक्रमित अपनी बीवी और दो बच्चों की सेवा कर रहे हैं।

कोरोना की चपेट में आया परिवार

लखनऊ के गोमती नगर के निवासी संजय सिंह पेशे से फाइनेंस अफसर हैं और घर में उनके सिवा उनकी पत्नी एक बेटा और एक बेटी हैं। संजय ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि सबसे पहले परिवार के सदस्यों में कोरोना के लक्षण दिखने शुरू हुए तो उन्होने फौरन सभी की जांच कराई और इसके बाद ही उनके सिवा परिवार के सभी सदस्य कोरोना पॉज़िटिव पाये गए।


इसके बाद बिना घबराते हुए संजय ने सभी को घर पर ही आइसोलेट कर दिया और इस तरह घर के सदस्य बीते 16 अप्रैल से घर पर ही आइसोलेट हैं। संजय बताते हैं कि वे बीते 1 साल से घर पर ही हैं और पूरे ऐतिहात बरत रहे हैं, ऐसे में उन्हे बिल्कुल भी अंदाजा नही है कि घर के सदस्यों में संक्रमण किस तरह फैला है।

38 साल से नहीं आया बुखार

मीडिया से बात करते हुए संजय ने दावा किया है कि उन्हे बीते 38 सालों से बुखार नहीं आया है। संजय खुद को फिट मानते हैं और इसके पूरा क्रेडिट वह अपनी लाइफस्टाइल को देते हैं। संजय का कहना है कि वह रोजाना दो से ढाई घंटे व्यायाम करते हैं।


फिट रहने के लिए संजय अपने दिन की शुरुआत सुबह पौने पाँच बजे कर देते हैं। गुनगुने पानी को पीने के बाद वह पहले फ्रेश होते हैं और फिर वॉक पर निकल जाते हैं। संजय इस दौरान साइकलिंग भी करते हैं और साथ में कभी कभी बैडमिन्टन भी खेलते हैं। संजय का दावा है कि बीते कई सालों में उनका एक भी दिन व्यायाम के बिना नहीं बीता है। संजय अपनी डाइट को लेकर भी काफी सचेत रहते हैं और वह हेल्दी खाने पर ही भरोसा करते हैं।

कर रहे हैं घर के सारे काम

परिवार के सदस्यों का ख्याल रखते हुए संजय घर के सारे काम कर रहे हैं जिसमें झाड़ू-पोछा और बर्तन की धुलाई भी शामिल है। संजय का कहना है कि इस लॉकडाउन के दौरान भी वो किसी भी कीमत पर अपने व्यायाम पर ब्रेक नहीं लगने दे रहे हैं।


Edited by Ranjana Tripathi