शेयर बाजारों में लगातार दूसरे दिन तेजी, सेंसेक्स 157 अंक चढ़ा; स्पाइसजेट 9% उछलकर बंद

By Ritika Singh
October 06, 2022, Updated on : Thu Oct 06 2022 12:25:41 GMT+0000
शेयर बाजारों में लगातार दूसरे दिन तेजी, सेंसेक्स 157 अंक चढ़ा; स्पाइसजेट 9% उछलकर बंद
बुधवार को विजयादशमी के चलते शेयर बाजारों में अवकाश रहा था.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

विदेशी निवेशकों की लिवाली के बीच मेटल, सूचना प्रौद्योगिकी और पूंजीगत सामान कंपनियों के शेयरों में तेजी से स्थानीय शेयर बाजार गुरुवार को बढ़त के साथ बंद हुए. वैश्विक बाजारों में मिले-जुले रुख और तेल की कीमतों में तेजी के बावजूद घरेलू बाजार मजबूत रहे. तीस शेयरों पर आधारित BSE Sensex 156.63 अंक चढ़कर 58,222.10 पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान एक समय यह 513.29 अंक तक चढ़ गया था.गुरुवार सुबह सेंसेक्स 58,314.05 पर खुला. पूरे दिन के कारोबार में सेंसेक्स 58,578.76 का उच्च स्तर और 58,173.70 का निचला स्तर छुआ.


सेंसेक्स के शेयरों में टाटा स्टील, लार्सन एंड टुब्रो, ICICI बैंक, HCL टेक्नोलॉजीज, इन्फोसिस और एक्सिस बैंक प्रमुख रूप से लाभ में रहे. सबसे ज्यादा 2.27 प्रतिशत और 2.24 प्रतिशत क्रमश: टाटा स्टील और एलएंडटी के शेयर चढ़े. बीएसई पर लिस्टेड 30 कंपनियों में से 12 के शेयर गिरावट के के साथ बंद हुए हैं. भारती एयरटेल, हिंदुस्तान यूनिलीवर, इंडसइंड बैंक, एचडीएफसी और बजाज फाइनेंस के शेयर गिरावट में बंद हुए. सबसे ज्यादा 2.53 प्रतिशत भारती एयरटेल गिरा.

Nifty50

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी (NSE Nifty) 57.50 अंक यानी 0.33 प्रतिशत की बढ़त के साथ 17,331.80 अंक पर बंद हुआ. एनएसई पर फाइनेंशियल सर्विसेज, FMCG, फार्मा, हेल्थकेयर इंडेक्स को छोड़कर अन्य सभी सेक्टोरल इंडेक्स बढ़त के साथ बंद हुए हैं. सबसे ज्यादा 3.25 प्रतिशत निफ्टी मेटल चढ़ा है. निफ्टी पर JSW स्टील, कोल इंडिया, हिंडाल्को, टाटा स्टील और एलएंडटी टॉप गेनर्स रहे. दूसरी ओर भारती एयरटेल, हिंदुस्तान यूनिलीवर, एचडीएफसी, डिविसलैब और इंडसइंड बैंक टॉप लूजर्स रहे. बुधवार को विजयादशमी के चलते शेयर बाजारों में अवकाश रहा था.

स्पाइसजेट 9% चढ़ा

वित्त मंत्रालय ने कोविड-19 महामारी से प्रभावित विमानन उद्योग को नकदी संकट से उबारने में मदद करने के लिए आपात ऋण सुविधा गारंटी योजना (ECLGS) में संशोधन किया है. मंत्रालय ने इस योजना के तहत कर्ज की सीमा को 400 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 1,500 करोड़ रुपये कर दिया है. इस खबर के आने के बाद स्पाइसजेट के शेयरों को पंख लग गए. दरअसल कहा जा रहा है कि कंपनी को संशोधित ECLGS के तहत अतिरिक्त 1,000 करोड़ रुपये मिलने की उम्मीद है. स्पाइसजेट को अपनी सेवाओं में सुधार लाने के लिए लगभग 2000 करोड़ रुपये की जरूरत है. स्पाइसजेट का शेयर गुरुवार को बीएसई पर 8.84 प्रतिशत की तेजी के साथ 41.85 रुपये पर बंद हुआ है. वहीं एनएसई पर यह 8 प्रतिशत से ज्यादा के उछाल के साथ 41.55 रुपये पर बंद हुआ है.

JSW Energy 13% चढ़ा

जेएसडब्ल्यू एनर्जी लिमिटेड का शेयर बीएसई पर 12.79 प्रतिशत चढ़कर 330.65 रुपये और एनएसई पर 13.20 प्रतिशत चढ़कर 331.95 रुपये पर बंद हुआ है. जेएसडब्ल्यू एनर्जी की पूर्ण स्वामित्व वाली सब्सिडियरी जेएसडब्ल्यू नियो एनर्जी ने महाराष्ट्र सरकार के साथ एक एग्रीमेंट साइन किया है. यह एग्रीमेंट रायगढ़ में एक 960 मेगावाट हाइड्रो पंप स्टोरेज प्रॉजेक्ट लगाने के लिए है. इस खबर के बाद जेएसडब्ल्यू एनर्जी के शेयरों में उछाल आया.

वैश्विक बाजारों की स्थिति

एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और जापान का निक्केई लाभ में रहे, जबकि चीन का शंघाई कंपोजिट और हांगकांग का हैंगसेंग गिरावट में बंद हुए. यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में गिरावट का रुख रहा. अमेरिकी बाजार बुधवार को मामूली गिरावट में बंद हुए. इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड वायदा 0.14 प्रतिशत चढ़कर 93.50 डॉलर प्रति बैरल पर पहुंच गया. विदेशी संस्थागत निवेशकों ने बुधवार को 1,344.63 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे.

रुपया 32 पैसे गिरकर सर्वकालिक निचले स्तर पर

कच्चे तेल की कीमतों में मजबूती से पैदा हुए भारी उतार-चढ़ाव के बीच गुरुवार को रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 32 पैसे गिरकर 81.94 (अस्थायी) के सर्वकालिक निचले स्तर पर आ गया. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपये ने 81.52 के स्तर पर खुलने के साथ सकारात्मक शुरुआत की थी लेकिन कच्चे तेल की कीमतों में उतार-चढ़ाव होने से रुपये पर दबाव देखा गया. कारोबार के दौरान रुपये ने 81.51 का उच्च स्तर और 81.94 का निचला स्तर भी देखा.


कारोबार के अंत में रुपया 81.94 रुपये प्रति डॉलर के सर्वकालिक निचले स्तर पर बंद हुआ. इस तरह रुपये में पिछले कारोबारी दिन के मुकाबले 32 पैसे की भारी गिरावट दर्ज की गई. मंगलवार को रुपया 81.62 प्रति डॉलर के स्तर पर बंद हुआ था. बुधवार को दशहरा के अवसर पर बाजार बंद रहा था.