2023 में इन्फ्लुएंसर और ब्रैंड्स के बीच देखने को मिलेंगे ये 5 मार्केटिंग ट्रेंड

By Upasana
December 26, 2022, Updated on : Mon Dec 26 2022 04:01:33 GMT+0000
2023 में इन्फ्लुएंसर और ब्रैंड्स के बीच देखने को मिलेंगे ये 5 मार्केटिंग ट्रेंड
सोशल मीडिया ऐसे इंडस्ट्री है जिसके ट्रेंड हर साल बदलते रहते हैं. WhizCo की को-फाउंडर और CMO प्रेरणा गोयल ने हमारे साथ कुछ ऐसे ही टॉप 5 इंफ्लुएंसर मार्केटिंग ट्रेंड्स साझा किए हैं जो 2023 में भी नजर आएंगे और ब्रैंड्स-इंफ्लुएंसर दोनों के काम आ सकते हैं…….
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

आजकल लोगों की पूरी जिंदगी सोशल मीडिया के इर्दगिर्द ही सिमट कर रही गई है. अगर ये कहा जाए कि सोशल मीडिया हमारी जिंदगी का एक अटूट हिस्सा बन चुका है तो ये कहना भी गलत न होगा. लेकिन ये ऐसी इंडस्ट्री है जिसके ट्रेंड हर साल बदलते रहते हैं.


व्हिजको की को-फाउंडर और सीएमओ प्रेरणा गोयल ने हमें कुछ ऐसे ही टॉप 5 इंफ्लुएंसर मार्केटिंग ट्रेंड्स बताए हैं जो 2023 में भी नजर आएंगे और ब्रैंड्स-इंफ्लुएंसर दोनों के काम आ सकते हैं…….

सोशल कॉमर्स का क्रेज

2022 में सोशल कॉमर्स काफी ट्रेंड में रहा. आने वाले सालों में भी ये ट्रेंड बने रहने वाला है. लोगों का खरीदारी का तरीका भी बड़ी तेजी से बदला है, लोग अब सीधे ऐप से शॉपिंग करने को ज्यादा तरजीह दे रहे हैं.


सोशल मीडिया पर एक पोस्ट देखकर सीधे पेमेंट करने का ऑप्शन लोगों के काफी सहूलियत भरा साबित हो रहा है. 2023 में भी ये सोशल मीडिया ट्रेंड बने रहने की उम्मीद है.


प्रेरणा का कहना है कि सोशल कॉमर्स में ग्रोथ के ढेरों मौके हैं. लेकिन कुछ ब्रैंड्स को अभी भी सोशल मीडिया कॉमर्स से दूर ही रखनी चाहिए.


दरअसल इस सेगमेंट में आने के लिए आपको अपने टारगेट मार्केट और कौन सा प्लैटफॉर्म आपके लिए सही होगा उस बारे में गहरी रिसर्च करनी होगी. देखना होगा कि जो आपका टारेगट मार्केट और टारगेट प्लैटफॉर्म है क्या वो सोशल कॉमर्स एक्टिविटीज सपोर्ट करते हैं या नहीं.


क्या वहां आपके बिजनेस को स्केल मिल पाएगी? क्या ये कदम आपके ओवरऑल ग्रोथ के लिए फायदेमंद होगा? इन सवालों के सटीक जवाब मिल जाएं तभी सोशल कॉमर्स को लेकर आगे बढ़ें.

शॉर्ट वीडियोज का ट्रेंड

यूट्यूब शॉर्ट्स और इंस्टाग्राम रील्स ने यूजर्स को एक अलग तरह का वीडियो एक्सपीरियंस दिया है. लोगों के कम समय में ही काम की इन्फॉर्मेशन मिल जाती है इसलिए उन्हें शॉर्ड वीडियो काफी पसंद आ रहे हैं.


ये शॉर्ट वीडियो ऑडियंस से एंगेजमेंट जेनरेट कर सकते हैं. आंकड़ों के मुताबिक 73 फीसदी लोग किसी प्रोडक्ट के बारे में जानने या सीखने के लिए शॉर्ट वीडियो को तरजीह देते हैं. इसलिए मार्केटिंग के लिए ये काफी कारगर टूल साबित हो सकता है.


अगर आप यूजर्स को सही तरह का कंटेंट देकर उन्हें रोक पाने में कामयाब रहते हैं तो कंटेंट क्रिएशन आपके लिए और आपके बिजनेस के लिए एक पावरफुल टूल हो सकता है.

AI है फ्यूचर

2023 में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस काफी छाया रहेगा. लोग अपना ज्यादातर समय कंटेंट देखने में बिता रहे हैं. जितना ज्यादा कंटेंट कंज्म्पशन होगा उतनी एक्टिवली एआई आपको कंटेंट रेकमेंड करेंगे.


मिसाल के तौर पर फेसबुक और इंस्टाग्राम सजेस्टेड कंटेंट की मदद से यूजर्स के फीड को उस कंटेंट से भर रहे हैं जो उनके बाइंग पैटर्न और डिसिजन मेकिंग को इंफ्लुएंस करते हैं.

नैनो और माइक्रो-इंफ्लुएंसर्स की डिमांड

आज इंफ्लुएंसर मार्केटिंग सिर्फ सेलेब्रिटी और मेगा इंफ्लुएंसर तक सीमित नहीं रह गया है. ऐसे इन्फ्लुएंसर जिनकी निश ऑडिएंस है यानी कि एक खास तरह की ऑडिएंस है उनकी भी काफी डिमांड है.


इसके अलावा, ऑडिएंस ऑथेंटिक एक्सपीरियंस को काफी पसंद करती है. वो ऐसे ब्रैंड्स और इंफ्लुएंसर्स के साथ इंटरैक्ट करना पसंद करते हैं जो वैल्यू और विश्वसनीयता देते हैं.


इसलिए आने वाले साल में ब्रैंड्स नैनो और माइक्रो इंफ्लुएंसर के साथ कोलैबोरेट और पार्टनरशिप करते नजर आएंगे. नैनो-माइक्रो इंफ्लुएंसर के पास भले ही फॉलोअर्स की संख्या कम है लेकिन उनके पास एंगेजमेंट ज्यादा है.

सस्टेनेबिलिटी

हाल के दिनों में सस्टेनेबिलिटी और एनवायरनमेंट फ्रेंडली इंफ्लुएंसर्स की संख्या बढ़ी है. लोग भी ऐसे इन्फ्लुएंसर को सुन रहे हैं जो ग्रीन और क्लीन एनवायरमेंट को प्रमोट कर रहे हैं.


इसलिए ब्रैंड्स भी अब एनवायरमेंट से जुड़े मुद्दों के हिसाब से ही अपनी स्ट्रैटजी को डिजाइन कर रहे हैं. 2023 में ऐसे इन्फ्लुएंसर और ब्रैंड्स के बीच काफी पार्टनरशिप देखने को मिल सकती है.

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close