टाइटैनिक में क्या जैक का बचना संभव था? जानिए जेम्स कैमरून के साइंस एक्सपेरिमेंट में क्या सामने आया

दिसंबर, 1997 में ऑस्कर विजेता और ब्लॉकबस्टर फिल्म Titanic के दुनियाभर में रिलीज होने के बाद से, कई फैंस का मानना रहा कि जैक और रोज (केट विंसलेट) दोनों के लिए फ्लोटिंग डूर पर पर्याप्त जगह थी.

टाइटैनिक में क्या जैक का बचना संभव था? जानिए जेम्स कैमरून के साइंस एक्सपेरिमेंट में क्या सामने आया

Sunday February 05, 2023,

4 min Read

दुनिया की सबसे चर्चित फिल्मों में से एक टाइटैनिक (Titanic) के क्लाइमेक्स सीन को लेकर शुरू हुई डिबेट आज तक खत्म नहीं हुई है.

दिसंबर, 1997 में ऑस्कर विजेता और ब्लॉकबस्टर फिल्म के दुनियाभर में रिलीज होने के बाद से, कई फैंस का मानना रहा कि जैक और रोज (केट विंसलेट) दोनों के लिए फ्लोटिंग डूर पर पर्याप्त जगह थी. हालांकि, फिल्म में दिखाया गया था कि केवल रोज के लिए ही राफ्ट पर जगह थी, जबकि जैक अटलांटिक के ठंडे पानी में जम कर मर गया.

इस सीन को लेकर होने वाली डिबेट सिनेमाहॉल से निकलकर अखबारों और टेलीविजन तक पहुंची. बदलते दौर के साथ सोशल मीडिया ने इस बहस को हमेशा के लिए जिंदा कर दिया. यही कारण है कि फिल्म के डायरेक्टर जेम्स कैमरून (James Cameron) ने जब टाइटैनिक की 25वीं सालगिरह पर वैलेंटाइन डे से पहले फिल्म को सिनेमाहॉल में दोबारा रिलीज करने की तैयारी की तब उन्होंने एक चौंकाने वाली घोषणा कर डाली.

दिसंबर में उन्होंने बताया कि उन्होंने जैक और रोज के सीन पर साइंटिफिक एक्सपेरिमेंट किया है कि क्या मलबे के तैरते हुए टुकड़े पर प्रेमी जोड़े के लिए वास्तव में पर्याप्त जगह थी. फिल्म के 10 फरवरी को थियेटर में फिर से रिलीज होने से पहले, 68 वर्षीय फिल्म निर्माता ने नेशनल ज्योग्राफिक डॉक्यूमेंट्री 'टाइटैनिक: 25 इयर्स लेटर विद जेम्स कैमरून' में अटकलों पर विराम लगा दिया.

कैमरून ने अपने साइंटिफिक एक्सपेरिमेंट उन्हीं हालात में किए जो उस रात जैक और रोज के सामने थे. इसके लिए दो स्टंट एक्टर्स को लिया गया और वैज्ञानिकों के एक ग्रुप ने इसकी देखरेख की. उन्होंने वे सभी तरीक अपनाए, जो जैक को बचने के लिए संभव हो सकते थे.

इस टेस्ट के बाद कैमरून ने माना कि जैक डावसन का कैरेक्टर जहाज की तबाही से बचने में सक्षम हो सकता है.

गुड मॉर्निंग अमेरिका पर प्रसारित एक वीडियो में कैमरूम ने माना है कि अगर जैक और रोज दोनों ने अपने ऊपरी शरीर को पानी से बाहर रखने के लिए दरवाजे का उपयोग किया होता और अगर रोज ने उसे अपना लाइफ जैकेट दिया होता, जो उसे गर्म रखने में मदद करता तो जैक की जान बच सकती थी. वीडियो में कैमरून ने कहा, 'जैक भले ही ज़िंदा रहा सकता था, लेकिन उसके लिए भी कई संभावनाएं हो सकती थीं.'

पहले भी सीन को लेकर किए गए एक्सपेरिमेंट

हालांकि, यह पहली बार नहीं है जब इस बहुचर्चित सीन को लेकर कोई टेस्ट करने की कोशिश की गई हो. इससे पहले साल 2013 में टेलीविजन प्रोग्राम मिथबस्टर्स ने इस सीन को लेकर टेस्ट करने की कोशिश की थी. इसमें ऐसे माना गया था कि अगर जैक ने लाइफ जैकेट को डूर के नीचे की तरफ बांध दिया होता तो इससे उसका उछाल बढ़ जाता.

हालांकि, इसके कुछ ही साल बाद, कैमरून ने इस सिद्धांत का मजाक उड़ाया था. उन्होंने कहा था कि 28 डिग्री पानी में हाइपोथर्मिया (शरीर की वह स्थिति होती है जिसमें तापमान, सामान्य से कम हो जाता है.) होने के बाद भी जैक का कुछ कर पाना संभव नहीं था.

जैक और रोज ने क्या कहा?

इस बहस में रोज का कैरेक्टर निभाने वाली 47 वर्षीय अभिनेत्री केट विंसलेट भी पिछले साल कूद पड़ी थीं. उन्होंने कहा था कि उन्हें नहीं लगता है कि जोड़ी बच सकती थी. हालांकि, उन्होने कहा था कि दोनों फ्लोटिंग डूर पर फिट आ सकते थे.

वहीं, जैक का कैरेक्टर निभाने वाले डिकैप्रियो ने इस बहस से हमेशा दूरी बनाई रखी. उन्होंने इस मामले पर कोई भी कमेंट करने से इनकार कर दिया.

इसलिए खास है टाइटैनिक

टाइटैनिक दुनियाभर के फिल्म के इतिहास में एक मील का पत्थर साबित हुई है. फिल्म को दर्शकों ने खूब पसंद किया. इस फिल्म ने 14 ऑस्कर नॉमिनेशन हासिल किए थे और 11 अवॉर्ड जीतकर इतिहास रच दिया था. आज भी बॉक्स ऑफिस पर 2.2 बिलियन डॉलर की कमाई के साथ टाइटैनिक तीसरी सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म बनी हुई है.


Edited by Vishal Jaiswal