ITR फाइल करने का आज आखिरी दिन, एक दिन पहले तक इतने करोड़ लोगों ने भरा रिटर्न...

By रविकांत पारीक
July 31, 2022, Updated on : Sun Jul 31 2022 04:27:36 GMT+0000
ITR फाइल करने का आज आखिरी दिन, एक दिन पहले तक इतने करोड़ लोगों ने भरा रिटर्न...
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

देश में वित्त वर्ष 2021-22 का इनकम टैक्स रिटर्न (Income Tax Return filing) भरने की आखिरी तारीख 31 जुलाई 2022 है. 


आयकर रिटर्न भरने की समयसीमा खत्म होने से एक दिन पहले तक (30 जुलाई तक) 5 करोड़ से अधिक रिटर्न भरे जा चुके हैं.


आयकर विभाग (income tax department) ने शनिवार को अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर इसकी जानकारी देते हुए करदाताओं से निर्धारित तिथि 31 जुलाई से पहले आयकर रिटर्न (ITR filing) दाखिल करने का अनुरोध किया.


विभाग ने बताया कि आकलन वर्ष 2022-23 के लिए शनिवार (30 जुलाई रात 8:36 बजे तक) 5 करोड़ से अधिक रिटर्न दाखिल किए जा चुके हैं. अकेले शनिवार को ही शाम छह बजे तक 35 लाख से अधिक रिटर्न भरे गए. इसके पहले 29 जुलाई तक 4.52 करोड़ आईटीआर दाखिल किए जा चुके थे.


आयकर विभाग ने कहा, "आशा है कि आपने भी रिटर्न दाखिल कर दिया होगा, यदि नहीं किया तो कर दीजिए. आकलन वर्ष 2022-23 के लिए आईटीआर दाखिल करने की तय समयसीमा 31 जुलाई 2022 है."


इसके साथ ही आयकर विभाग ने 31 जुलाई को रविवार होने के बावजूद सभी आयकर सेवा केंद्र खोले रखने का आदेश दिया है.


विभाग के मुताबिक, ई-फाइलिंग पोर्टल से जुड़े मुद्दों का तुरंत समाधान किया जा रहा है और करदाताओं की ओर से आने वाली हरेक शंका एवं सवाल का जवाब दिया जा रहा है.


आयकर रिटर्न जमा करने की समयसीमा बढ़ाने की सोशल मीडिया मंचों पर की जा रही मांग के बारे में पूछे जाने पर इस अधिकारी ने कहा कि फिलहाल विभाग इसके बारे में नहीं सोच रहा है.


सरकार की ओर से कहा जा चुका है कि ITR फाइलिंग की आखिरी तारीख बढ़ाने को लेकर विचार नहीं किया जा रहा है. इसका अर्थ यह है कि वित्त वर्ष 2021-22 का इनकम टैक्स रिटर्न बिना किसी पेनल्टी के फाइल करने का मौका 31 जुलाई 2022 तक ही है. इसके बाद आप पर 5000 रुपये तक की पेनल्टी या लेट फीस लगेगी. अगर आपने अभी तक अपना आईटीआर फाइल नहीं किया है तो बाकी बचे दिनों में जल्द से जल्द अपना ITR फाइल करें.


वित्त वर्ष 2020-21 के लिए रिटर्न भरने की समयसीमा 31 दिसंबर, 2021 तक बढ़ाई गई थी. इस दौरान कुल 5.89 करोड़ रिटर्न दाखिल किए गए थे. पिछले साल सरकार ने रिटर्न भरने की समयसीमा 31 दिसंबर तक बढ़ाई थी. पिछली बार 9.10 प्रतिशत रिटर्न अंतिम दिन भरे गये थे. पिछले साल अंतिम दिन 50 लाख रिटर्न दाखिल किए गए थे. इस बार सरकार का अनुमान है कि अंतिम तारीख पर एक करोड़ रिटर्न फाइल किए जाएंगे.