कौन हैं रुचिर मोदी, जो अब पिता की 4555 करोड़ की विरासत के उत्‍तराधिकारी होंगे

बिगड़ती सेहत के चलते ललित मोदी कारोबार की कमान बेटे रुचिर को सौंप रहे हैं.

कौन हैं रुचिर मोदी, जो अब पिता की 4555 करोड़ की विरासत के उत्‍तराधिकारी होंगे

Monday January 16, 2023,

3 min Read

भारत के जाने-माने बिजनेसमैन और आईपीएल के पूर्व अध्‍यक्ष ललित मोदी इन दिनों काफी बीमार चल रहे हैं. तीन दिन पहले ही उन्‍हें मैक्सिको से हवाई जहाज से लंदन लाया गया था, जहां इस वक्‍त वे एक अस्‍पताल में ऑक्‍सीजन सपोर्ट पर हैं. दो हफ्ते के भीतर उन्‍हें दूसरी बार कोरोना हुआ है. इन तथ्‍यों को देखते हुए स्‍वास्‍थ्‍य के लिहाज से इस वक्‍त उनकी हालत काफी नाजुक है.

अपनी बिगड़ती सेहत के चलते एक बड़ा फैसला लेते हुए ललित मोदी ने अपने कारोबार की कमान अपने बेटे रुचिर मोदी को सौंपने का फैसला लिया है. उन्‍होंने अपने फैमिली ट्रस्ट से इस्तीफा दे दिया है और उसका दायित्‍व अब रुचिर को सौंपने की घोषणा की है. उन्‍होंने कहा है कि यह फैसला उन्‍होंने अपनी बेटी आलिया के साथ मशविरा करने के बाद लिया है.

ललित मोदी ने ट्वीट करके इस बात की सार्वजनिक घोषणा की है. साथ ही अपने इस्तीफे का भी ऐलान किया है. ललित मोदी ने अपने ट्वीट में कहा है कि अब मेरे रिटायर होने का वक्‍त आ गया है. मेरे लिए अब ये आगे बढ़ने और बच्‍चों को आगे बढ़ाने का वक्‍त है. मैं सबकुछ अब उन्‍हें सौंप रहा हूं.  

हालांकि ललित मोदी की मां बीना और बहन के बीच इस ट्रस्ट को लेकर पहले से एक कानूनी लड़ाई चल रही है.

कौन हैं रुचिर मोदी, जो अब पिता की 4555 करोड़ की संपत्ति के उत्‍तराधिकारी होंगे

रुचिर मोदी की उम्र 28 साल है और वह तकरीबन 23 साल की उम्र से न सिर्फ पिता के बिजनेस से जुड़े हुए हैं, बल्कि पिछले कुछ सालों में उनकी सक्रियता भी काफी बढ़ी है. पिता द्वारा उत्‍तराधिकार की घोषणा किए जाने से पहले रुचिर मोदीकेयर और गॉडफ्रे फिलिप इंडिया लिमिटेड के डायरेक्टर का पद संभाल रहे थे. रुचिर ट्वेंटी फोर सेवन कन्वीनियंस स्टोर्स और कंपनी के कॉस्मेटिक प्रोडक्‍ट बनाने वाले ब्रांड कलर बार की भी कमान संभाल रहे हैं.

ललित मोदी की कंपनी की वेबसाइट पर इस बात की जानकारी दी गई है कि रुचिर ‘मोदी वेंचर्स’ के फाउंडर हैं.

हालांकि विभिन्‍न कारणों से रुचिर पहले भी कई बार खबरों की सुर्खियों में बने रहे हैं. कुछ साल पहले वह अचानक खबरों में छा गए थे, जब उन्‍होंने एक पर्पल रंग की McLaren 720S कार खरीदी थी. इस कार की अनुमानित कीमत 5 से 7 करोड़ रुपए है. रुचिर को वैसे भी कारों का बहुत शौक है. उनके अपने पर्सनल कलेक्‍शन में दुनिया भर के नामी ब्रांड्स की लक्‍जरी कारें हैं.

कारों के साथ-साथ रुचिर क्रिकेट का भी शौक रखते हैं. रुचिर राजस्थान के अलवर जिले के डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन के प्रेसिडेंट भी हैं. रुचिर ने लंदन से बिजनेस मैनेजमेंट की पढ़ाई की है.  

रुचिर की एक बहन भी है, जिसका नाम आलिया है. कुछ साल पहले ललित मोदी की पत्‍नी और रुचिर की मां मीनल को कैंसर हो गया था और फिर 2018 में उनकी कैंसर से मृत्‍यु हो गई. रुचिर की एक सौतेली बहन भी है, जिसका नाम करीमा सागरनी है.

मोदी परिवार में संपत्ति और ट्रस्‍ट को लेकर चल रहा घरेलू विवाद  

ललित मोदी की फैमिली में एक लंबा पारिवारिक विवाद भी है, जिसकी वजह केके मोदी ग्रुप है. केके मोदी ग्रुप यूं तो उनके दादा केके मोदी का है, लेकिन इसमें ललित मोदी और रुचिर मोदी, दोनों की हिस्‍सेदारी है. 2019 में दादाजी के निधन के बाद ललित मोदी ने केके मोदी ग्रुप के कुछ शेयर्स और प्रॉपर्टी बेचनी चाही, जिसमें उनकी मां बीना मोदी, भाई समीर मोदी और बहन चारू को ऐतराज था. इस मामले को लेकर अब तक कोई फैसला नहीं हुआ है और अभी भी सिंगापुर के आर्बिट्रेशन कोर्ट में लंबित है.


Edited by Manisha Pandey