3 मार्च: देश-दुनिया के इतिहास में आज के दिन की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ

By रविकांत पारीक
March 03, 2022, Updated on : Thu Mar 03 2022 00:31:33 GMT+0000
3 मार्च: देश-दुनिया के इतिहास में आज के दिन की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ
ग्रेगोरी कैलंडर के अनुसार 3 मार्च वर्ष का 62 वाँ (लीप वर्ष में यह 63 वाँ) दिन है। साल में अभी और 303 दिन शेष हैं।
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

3 मार्च की महत्त्वपूर्ण घटनाएँ

1575 - मुग़ल बादशाह अकबर ने तुकारोई की लड़ाई में बंगाली सेना को हरा था।


1939 - महात्मा गाँधी, भारत के मुंबई शहर में निरंकुश शासन के विरोध में तेज़ी लाये।


1971 - भारत-पाकिस्तान युद्ध की शुरुआत हुई।


1999 - अब्दुल रहमान अरब मूल के ऐसे प्रथम व्यक्ति बने जिन्हें इस्रायली सुप्रीम कोर्ट का न्यायाधीश बनाया गया।


2000 - अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक न्यायाधिकरण द्वारा क्रोएशिया के जनरल तिहोमिर ब्लास्किय को 45 साल क़ैद की सज़ा।


2005 - यूक्रेन के राष्ट्रपति विक्टर यूशचेंकों की अध्यक्षता वाली राष्ट्रीय रक्षा परिषद ने इराक से अपने सैनिक वापस बुलाने का निर्णय लिया।


2006 - फिलीपींस में आपातकाल हटा।


2007 - पाकिस्तान ने हत्फ़-2 अब्दाली बेलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया।


2008 - मेघालय में नई विधानसभा के लिए चुनाव में 75% मतदान हुआ। कन्या भ्रूण हत्या रोकने के केन्द्र सरकार ने धन लक्ष्मी नामक नई योजना शुरू की। दक्षिणी अफ़ग़ानिस्तान में नाटो व अफ़ग़ान सुरक्षा बलों के अभियान में 22 आतंकी मारे गए।


2009 - स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया ने स्मार्ट यूनिट योजना को लांच किया।

3 मार्च को जन्मे व्यक्ति

1997 - योगेश कथुनिया - भारतीय पैरालम्पिक एथलीट हैं।


1976 - राइफ़लमैन संजय कुमार, परमवीर चक्र से सम्मानित भारतीय सैनिक


1955 - जसपाल भट्टी, प्रसिद्ध हास्य अभिनेता।


1931 - ग़ुलाम मुस्तफ़ा ख़ान - भारतीय शास्त्रीय संगीत गायक थे।


1926 - रवि (संगीतकार) - हिन्दी फ़िल्मों में प्रसिद्ध संगीतकार थे।


1902 - रामकृष्ण खत्री - भारत के प्रमुख क्रांतिकारियों में से एक थे।


1880 - अचंत लक्ष्मीपति - आयुर्वेदिक औषधियों के प्रचार-प्रसार के लिए प्रसिद्ध थे।


1839 - जमशेद जी टाटा, भारतीय उद्योगपति।

3 मार्च को हुए निधन

1707 - औरंगजेब, भारत के मुग़ल बादशाह।


1919 - हरि नारायण आपटे - प्रसिद्ध मराठी भाषी उपन्यासकार, नाटककार तथा कवि।


1948 - बालकृष्ण शिवराम मुंजे - स्वतंत्रता सेनानी और हिंदू महासभा के अध्यक्ष थे।


1982 - फ़िराक़ गोरखपुरी प्रसिद्ध उर्दू शायर।


1986 - मोहिंदर सिंह रंधावा - भारतीय इतिहासकार, वनस्पतिशास्त्री, सिविल सेवक, और कला व संस्कृति के प्रवर्तक थे।


2009 - यादवेन्द्र शर्मा 'चन्द्र' - राजस्थान के सर्वाधिक चर्चित व प्रसिद्ध उपन्यासकार, कहानीकार तथा नाटककार।


2002 - जी.एम.सी. बालायोगी, प्रसिद्ध राजनीतिज्ञ, पूर्व लोकसभा अध्यक्ष


2015 - डॉ. राष्ट्रबंधु, बाल साहित्य के प्रसिद्ध साहित्यकार