स्कूल छोड़ने के 32 साल बाद, मेघालय की इस दादी ने पास की 12 वीं कक्षा, बन गई सोशल मीडिया स्टार

By yourstory हिन्दी
July 15, 2020, Updated on : Wed Jul 15 2020 07:01:31 GMT+0000
स्कूल छोड़ने के 32 साल बाद, मेघालय की इस दादी ने पास की 12 वीं कक्षा, बन गई सोशल मीडिया स्टार
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

मेघालय के एक दूरदराज के गांव की 50 वर्षीय स्कूल ड्रॉप आउट दादी ने साबित कर दिया कि उम्र महज एक नंबर है, उन्होंने कक्षा 12 की बोर्ड परीक्षाएं दी है। अपनी उपलब्धि के लिए प्रशंसा अर्जित कर रही दादी अब सोशल मीडिया स्टार बन गई हैं।


क

फोटो साभार: TimesNie


बोर्ड की वेबसाइट के मुताबिक, मेघालय बोर्ड के हायर सेकेंडरी स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट (HSLLC), आर्ट्स स्ट्रीम के नतीजे सोमवार को घोषित किए गए और लक्कीट्यू सिइमलीह (Lakyntiew Syiemlieh) ने परीक्षाएं पास कर ली हैं।


लक्कीट्यू सबसे पुरानी छात्रा थीं और उन्होंने दो वर्षों तक रिहोई जिले के बालावन कॉलेज में कक्षाओं में भाग लेने के दौरान गर्व से यूनिफॉर्म पहनी थी।


"मैं बहुत खुश हूँ क्योंकि मैंने परीक्षा पास कर ली है।" लक्कीट्यू ने पीटीआई को बताया।


उन्होंने कहा कि वह अपने प्रमुख विषय के रूप में भाषा के साथ आगे का अध्ययन जारी रखना चाहती है।


दादी ने 1988 में स्कूल छोड़ दिया था क्योंकि गणित विषय उन्हें खास पसंद नहीं था।


लक्कीट्यू बताती है,

"मैंने स्कूल जाना बंद कर दिया क्योंकि गणित को समझना मेरे लिए बहुत मुश्किल था। मुझे 2008 में प्री-स्कूलर्स को पढ़ाने के लिए नौकरी की पेशकश की गई थी और यह मेरे लिए फिर से सीखने की शुरुआत थी।"

शिक्षा मंत्री लाहमेन राइमबुई ने लक्कीट्यू सिइमलीह को उनकी उम्र के बावजूद उनके पराक्रम के लिए बधाई दी।



Edited by रविकांत पारीक

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close