केनरा बैंक ने पेश किया प्रीपेड कार्ड

यह प्रीपेड कार्ड नकदी रहित भुगतान के लक्ष्य को हासिल करने के लिए पेश किया गया है, जो छोटे मूल्य के लेनदेन में नकद भुगतान की जगह लेगा।

केनरा बैंक ने पेश किया प्रीपेड कार्ड

Friday December 09, 2016,

2 min Read

सरकार द्वारा डिजिटल तरीके से भुगतान पर प्रोत्साहनों की घोषणा के बाद केनरा बैंक ने एक प्रीपेड कार्ड पेश किया है। अधिक से अधिक लोगों को नकदीरहित लेनदेन के लिए प्रोत्साहित करने के प्रयासों के तहत यह कार्ड पेश किया गया है।

image


केनरा बैंक के प्रबंध निदेशक राकेश शर्मा ने कहा कि नकदी रहित भुगतान के लक्ष्य को हासिल करने के लिए प्रीपेड कार्ड पेश किया गया है जो छोटे मूल्य के लेनदेन में नकद भुगतान की जगह लेगा। केनरा बैंक ने बयान में कहा कि कार्डधारक प्रीपेड कार्ड के जरिये नकदी निकासी, पाइंट आफ सेल या इंटरनेट के जरिये खरीद को कर सकेंगे।

साथ ही सरकार के नकदी रहित अर्थव्यवस्था की ओर मजबूती से कदम उठाए जाने के बीच एकीकृत भुगतान इंटरफेस (यूपीआई) एक परिवर्तनकारी भूमिका निभाने के लिए तैयार है, जिससे ग्राहकों को कम लागत पर प्रभावी और सुरक्षित डिजिटल भुगतान विकल्प मिलेगा।यह जानकारी देते हुए वित्त मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि इस नयी भुगतान प्रक्रिया से फोन जल्द ही वरचुअल डेबिट कार्ड के तौर पर कार्य करने लगेंगे और ग्राहकों को तत्काल धन भेजने और पाने की सुविधा मिलेगी। अधिकारी ने कहा कि मोबाइल की पहुंच बढ़ने और डिजिटल भुगतान को गति मिलने से यूपीआई का उपयोग बढ़ेगा। यूपीआई में मोबाइल वालेट सुविधा देने वाली कंपनियों को कड़ी टक्कर देने की क्षमता है। अभी 28 से ज्यादा बैंकों की एप में यह सुविधा है जिसमें एसबीआई, पीएनबी, आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक और केनरा बैंक भी शामिल हैं।

यूपीआई में मोबाइल वालेट सुविधा देने वाली कंपनियों को कड़ी टक्कर देने की क्षमता है। इसका विकास भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम ने भारतीय रिजर्व बैंक और भारतीय बैंक संघ के सहयोग से किया है।

निगम रेपो कार्ड से भुगतान ढांचा का परिचालन करता है, जो मास्टर कार्ड और वीजा कार्ड की तरह है। इससे विभिन्न बैंकों को एक क्षण में घरेलू आधार पर कोष को स्थानांतरित करने की सुविधा देता है।

Montage of TechSparks Mumbai Sponsors
    Share on
    close