संस्करणों
विविध

ट्विटर में बढ़ने वाली है शब्दसीमा, 140 की जगह 280 शब्दों में कहिए अपनी बात

yourstory हिन्दी
27th Sep 2017
Add to
Shares
1
Comments
Share This
Add to
Shares
1
Comments
Share

क्या आप ट्विटर का इस्तेमाल करते हैं? अगर आपने ट्विटर का यूज किया होगा तो आपको पता होगा कि वहां कम शब्दों में अपनी पूरी बात कह देनी होती है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए ट्विटर ने इस शब्द लिमिट को बढ़ाकर दोगुना यान 140 से सीधे 280 करने की घोषणा की है।

ट्विटर की तरफ से आधिकारिक घोषणा

ट्विटर की तरफ से आधिकारिक घोषणा


ट्विटर ने कहा कि, 'हम चाहते हैं कि दुनिया भर में हर व्यक्ति खुद को ट्विटर पर आसानी से अभिव्यक्त कर सके। इसलिए हम कुछ नया कर रहे हैं। इसलिए हम इसकी लिमिट बढ़ाकर 280 कर रहे हैं।

ब्लॉग में कहा गया है कि जापानी, कोरियाई और चीनी भाषाओं में एक कैरक्टर में दोगुनी जानकारी दी जा सकती है, लेकिन अंग्रेजी जैसी अन्य भाषाओं में संभव नहीं होता। 

क्या आप ट्विटर का इस्तेमाल करते हैं? अगर आपने ट्विटर का यूज किया होगा तो आपको पता होगा कि वहां कम शब्दों में अपनी पूरी बात कह देनी होती है। इससे वहां क्रिएटिविटी तो देखने को मिलती है, लेकिन कई बार ऐसा लगता है कि कुछ और शब्दों की छूट होती तो बात और भी दमदार तरीके से कही जा सकती थी। इसी बात को ध्यान में रखते हुए ट्विटर ने इस शब्द लिमिट को बढ़ाकर दोगुना यान 140 से सीधे 280 करने की घोषणा की है। ट्विटर के ऑफिशियल हैंडल से ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी गई कि शब्दसीमा को बढ़ाने के बारे में विचार किया जा रहा है। लोगों से पूछा भी गया है कि क्या आपको वाकई में अपनी बात कहने के लिए और शब्द चाहिए।

ट्विटर ने इस ट्वीट के साथ ही एक ब्लॉग भी पोस्ट किया है जिसमें कैरेक्टर लिमिट को बढ़ाने के कारणों को कुछ उदाहरणों से समझाया गया है। ब्लॉग में कहा गया है कि जापानी, कोरियाई और चीनी भाषाओं में एक कैरक्टर में दोगुनी जानकारी दी जा सकती है, लेकिन अंग्रेजी जैसी अन्य भाषाओं में संभव नहीं होता। इसके पहले ट्विटर ने किसी को रिप्लाई देते वक्त उसके नाम को ट्वीट में न जोड़ने का फैसला किया था। इससे कई सारे कंफ्यूजन भी दूर हो गए थे। ब्लॉग में डायग्राम के जरिए बताया गया है कि जापानी भाषा में अधिकांश ट्वीट 15 कैरक्टर में होते हैं, जबकि अंग्रेजी में 34 कैरक्टर में। हमने पाया कि अंग्रेजी में ट्वीट करने वाले लोगों में इसको लेकर काफी निराशा है। 

ट्विटर ने कहा कि, 'हम चाहते हैं कि दुनिया भर में हर व्यक्ति खुद को ट्विटर पर आसानी से अभिव्यक्त कर सके। इसलिए हम कुछ नया कर रहे हैं। इसलिए हम इसकी लिमिट बढ़ाकर 280 कर रहे हैं। हालांकि, यह अभी कुछ ग्रुप में ही मौजूद है। हम इसे सभी के लिए लॉन्च करने से पहले छोटे ग्रुप में शुरू करना चाहते हैं। हम डेटा इकट्ठा करेंगे और लोगों के फीडबैक लेंगे।'

यह ब्लॉग पोस्ट ट्विटर की प्रॉडक्ट मैनेजर अलीजा रोजेन ने लिखी है। उन्होंने कहा कि कुछ भाषाओं में तो इतने शब्दों में कहानी कही जा सकती है, लेकिन अंग्रेजी जैसी भाषाओं के साथ यह मुश्किल है। आज के जमाने में हर कोई ट्विटर पर अपनी बात कहना चाह रहा है, लेकिन एक निश्चित शब्दसीमा होने की वजह से ऐसा नहीं कर पाता। इसीलिए हम इसे 140 से 280 करने जा रहे हैं। हालांकि कई लोग ऐसे भी हैं जो सालों से 140 शब्द में ही अपनी बात प्रभावी तरीके से करते आए हैं, इस वजह से उन्हें इससे एक खास तरह का लगाव भी था। ट्विटर ने कहा कि उनकी टीम अभी इस पर काम कर रही है और बहुत जल्द ही इसे आपके सामने पेश कर दिया जाएगा।

ये भी पढ़ें: बदल गया गूगल ट्रांसलेशन का रूप, जुड़े ऑफलाइन समेत ये नए फीचर्स

Add to
Shares
1
Comments
Share This
Add to
Shares
1
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags