संस्करणों

दुनियाभर में रहने वाले भारतीयों को 48 घंटे से भी कम समय में मिल सकेगा पासपोर्ट

yourstory हिन्दी
25th Nov 2018
1+ Shares
  • Share Icon
  • Facebook Icon
  • Twitter Icon
  • LinkedIn Icon
  • Reddit Icon
  • WhatsApp Icon
Share on

कुछ साल पहले तक पासपोर्ट बनवाने के लिए महीनों दौड़ना पड़ता था, लेकिन नए डिजिटल सुधारों के लागू हो जाने के बाद अब 48 घंटों में ही पासपोर्ट बनवाया जा सकता है।

वॉशिंगटन में पासपोर्ट सेवा का उद्घाटन करते जनरल वीके सिंह

वॉशिंगटन में पासपोर्ट सेवा का उद्घाटन करते जनरल वीके सिंह


इस हफ्ते की शुरुआत में न्यूयॉर्क में भारतीय मिशन ने 48 घंटे से भी कम समय में पासपोर्ट जारी किए थे। सिंह ने कहा कि अब ऐसा पूरी दुनिया में किया जाएगा। 

डिजिटल इंडिया की पहुंच अब विदेशों तक हो गई है। यही वजह है कि सारे सरकारी काम अब ऑनलाइन हो रहे हैं और कम से कम वक्त में नागरिकों को सुविधाएं मुहैया कराने की कोशिश की जा रही है। अभी कुछ साल पहले तक पासपोर्ट बनवाने के लिए महीनों दौड़ना पड़ता था, लेकिन नए डिजिटल सुधारों के लागू हो जाने के बाद अब 48 घंटों में ही पासपोर्ट बनवाया जा सकता है। विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह ने कहा कि विदेश में रह रहे भारतीयों को 48 घंटे से भी कम समय में पासपोर्ट जारी किया जाएगा।

वीके सिंह ने कहा है कि जल्द ही दुनिया भर में बने भारतीय दूतावास विदेशों में रह रहे नागरिकों को 48 घंटे से भी कम समय में पासपोर्ट जारी करेगा। वॉशिंगटन में शनिवार को भारतीय दूतावास में 'पासपोर्ट सेवा' शुरू करने के बाद एक सभा को संबोधित करते हुए वीके सिंह ने कहा कि भारतीय मिशनों में स्थित पासपोर्ट दफ्तरों को डिजिटल तरीके से भारत में डेटा सेंटर से जोड़ा गया है, जिससे पासपोर्ट जारी करने की प्रक्रिया में तेजी आएगी।

पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक इस हफ्ते की शुरुआत में न्यूयॉर्क में भारतीय मिशन ने 48 घंटे से भी कम समय में पासपोर्ट जारी किए थे। सिंह ने कहा कि अब ऐसा पूरी दुनिया में किया जाएगा। विदेश राज्यमंत्री ने जोर देते हुए कहा कि आने वाले दिनों में भारत में सबसे अच्छी पासपोर्ट सेवाएं दी जाएंगी। उन्होंने कहा कि पासपोर्ट आवेदन और दस्तावेजों की जांच पड़ताल से जुड़े नियमों में बड़े बदलाव किए गए हैं और आवेदकों की बहुत सी जानकारियों का डिजिटलीकरण किया जाएगा।

'पासपोर्ट सेवा' की पिछले महीने पहली बार ब्रिटेन में शुरुआत की गई थी। इस सेवा को अमेरिका में 21 नवंबर को अपनाने के बाद शनिवार को शुरू किया गया। सेवा को इसी तरह अटलांटा, हॉस्टन, शिकागो और सान फ्रांसिस्को में भारतीय वाणिज्य दूतावासों में भी लांच किया जाएगा। ब्रिटेन और अमेरिका के बाद इस सेवा को पूरी दुनिया में मौजूद भारतीय मिशनों तक फैलाया जाएगा।

इस मौके पर अमेरिका में भारत के राजदूत नवतेज सरना ने कहा कि इससे हमारी पासपोर्ट सेवाओं में अत्यंत मात्रात्मक और गुणात्मक सुधार देखने को मिलेगा। वीके सिंह ने कहा कि अगले कुछ महीनों में भारत सरकार नए तरह के पासपोर्ट जारी करेगी जिसके डिजाइन को मंजूरी दी जा चुकी है। इन पासपोर्ट में सभी तरह की सुरक्षा विशेषताएं और बेहतर किस्म के कागज और छपाई का इस्तेमाल किया गया है।

यह भी पढ़ें: ऑर्गैनिक फूड्स को खेतों से सीधे आपकी खाने की मेज तक पहुंचा रहा यह स्टार्टअप

1+ Shares
  • Share Icon
  • Facebook Icon
  • Twitter Icon
  • LinkedIn Icon
  • Reddit Icon
  • WhatsApp Icon
Share on
Report an issue
Authors

Related Tags