बीजिंग में लगेगा सबसे बड़ा वायु शोधक

    By PTI Bhasha
    October 20, 2016, Updated on : Thu Sep 05 2019 07:17:15 GMT+0000
    बीजिंग में लगेगा सबसे बड़ा वायु शोधक
    यह वायु शोधक लड़ेगा धुंए की धुंध से।
    • +0
      Clap Icon
    Share on
    close
    • +0
      Clap Icon
    Share on
    close
    Share on
    close

    चीन धुंए की धुंध से घिरी अपनी राजधानी की हवा को साफ करने के लिए दुनिया का सबसे बड़ा बाहरी वायु शोधक लगाने वाला है। इस वायु शोधक को डच इंजीनियर ने डिजाइन किया है।

    image


    शहर पर मंडराने वाली इस प्रदूषित धुंध के कारण लोगों को घरों के भीतर रहने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।

    डच डिजाइनर डान रूसेगार्डे द्वारा डिजाइन किए गए सात मीटर उंचे इस टावर का बीजिंग के 751 डी पार्क आर्ट क्षेत्र में अंतिम चरण का परीक्षण किया जा रहा है।

    <div style=

    बीजिंग की हवाओं में धुंधa12bc34de56fgmedium"/>

    सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने चीन के पर्यावरण संरक्षण मंत्रालय के तहत आने वाले एनजीओ चाइना फोरम ऑफ एनवायरमेंटल जर्नलिस्ट्स के हवाले से कहा कि स्मॉग फ्री टावर को जल्दी ही सार्वजनिक कर दिया जाएगा और इसे देशभर में ले जाया जाएगा।

    यह टावर अपने आसपास मौजूद सूक्ष्म कणों पीएम 2.5 और पीएम 10 की लगभग 75 प्रतिशत मात्रा को अवशोषित करके शुद्ध हवा छोड़ सकता है। 

    इससे इसके आसपास ताजा हवा फैल जाती है। यह टावर अपनी पेटेंट वाली ओजोन मुक्त आयन प्रौद्योगिकी की मदद से एक घंटे में 30 हजार घन मीटर हवा को साफ कर सकता है।

    अक्तूबर की शुरूआत से ही बीजिंग धुंए वाली भारी धुंध से घिरा है। शहर के पर्यावरण अधिकारियों ने मंगलवार को वायु प्रदूषण को लेकर पीला अलर्ट जारी किया था।

    भारत में भी प्रदूषण यदि इसी गति से बढ़ता रहा, तो बहुत जल्दी वायु शोधक की ज़रूरत यहां भी पड़ सकती है। 

    हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें