इस मंदिर में लगाई गयी सेंसर युक्त घंटी, परिसर में संक्रमण रोकने के लिए उठाया गया कदम

By yourstory हिन्दी
June 14, 2020, Updated on : Sun Jun 14 2020 06:31:30 GMT+0000
इस मंदिर में लगाई गयी सेंसर युक्त घंटी, परिसर में संक्रमण रोकने के लिए उठाया गया कदम
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

इस खास घंटी को बजाने के लिए आपको सिर्फ इसके नीचे अपना हाथ दिखाना है और फिर सेंसर की मदद से यह बजना शुरू कर देती है।

(चित्र: सोशल मीडिया)

(चित्र: सोशल मीडिया)



जैसे-जैसे देश में कोरोना वायरस महामारी ने अपने पैर पसारे तो इसे रोकने के लिए सरकरर की तरफ से देश में सम्पूर्ण लॉकडाउन की घोषणा कर दी गई, हालांकि अब लॉकडाउन को धीरे-धीरे खोलने का प्रयास किया जा रहा है। इसी क्रम में मंदिर भी खोले जा रहे हैं, लेकिन कुछ मंदिरों ने संक्रमण के खतरे को देखते हुए इनोवेटिव कदम उठाने शुरू कर दिये हैं।


ऐसा ही तरीका मध्यप्रदेश के मंदसौर स्थित पशुपतिनाथ मंदिर ने अपनाया है। इस मंदिर में सेंसर युक्त घंटी लगाई गयी है, जिसके पास जैसे ही कोई श्रद्धालु पहुंचेगा यह अपने आप बजने लगेगी। मंदिरों में लगी हुई घंटी को हर श्रद्धालु अपने हाथों बजाता है जिससे इस समय संक्रमण का खतरा और बढ़ सकता है, लेकिन इस मंदिर ने इस परेशानी को हल कर लिया है।


मंदिर की सेंसर वाली इस घंटी का वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा है। यह वीडियो अनुराग नाम के एक यूजर ने शेयर किया है। ट्विटर पर इस वीडियो को लगभग 5 सौ बार देखा जा चुका है।


न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार मंदिर में यह खास घंटी नहरू खान नाम के एक शख्स ने लगवाई है। उन्होने एजेंसी से कहा, “हम अज़ान सुनते हैं, इसलिए मैंने सोचा कि घंटियों की आवाज़ को भी सुना जाना चाहिए। यह निकटता सेंसर (शारीरिक संपर्क के बिना वस्तुओं की उपस्थिति का पता लगाने में सक्षम) पर काम करती है।”


इस खास घंटी को बजाने के लिए आपको सिर्फ इसके नीचे अपना हाथ दिखाना है और फिर सेंसर की मदद से यह बजना शुरू कर देती है।