कर्मचारी के खाते में गलती से आई 286 गुना ज्यादा सैलरी, इस्तीफा देकर हुआ फुर्र

By Ritika Singh
June 29, 2022, Updated on : Wed Jun 29 2022 11:03:01 GMT+0000
कर्मचारी के खाते में गलती से आई 286 गुना ज्यादा सैलरी, इस्तीफा देकर हुआ फुर्र
कहा जा रहा है कि वह आदमी Consorcio Industrial de Alimentos में काम करता था, जो चिली में कोल्ड कट्स के सबसे बड़े उत्पादकों में से एक है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

चिली (Chile) में एक व्यक्ति के खाते में उसकी कंपनी की ओर से गलती से उसके वेतन का 286 गुना ट्रान्सफर हो गया. अब वह व्यक्ति पैसा लेकर चंपत हो चुका है. चिली के लोकल मीडिया में चल रहीं रिपोर्ट्स में ऐसा कहा जा रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जब घटना की जानकारी हुई, तो कर्मचारी ने अपने बॉस से वादा किया कि वह अधिक भुगतान की गई धनराशि को वापस कर देगा. लेकिन उस आदमी ने ऐसा करने के बजाय इस्तीफा दे दिया और पैसे लेकर गायब हो गया.


कहा जा रहा है कि वह आदमी Consorcio Industrial de Alimentos (Cial) में काम करता था, जो चिली में कोल्ड कट्स के सबसे बड़े उत्पादकों में से एक है. मई में कंपनी ने गलती से कर्मचारी को 43,000 रुपये (500,000 पेसो) के मासिक वेतन के बजाय लगभग 1.42 करोड़ रुपये (165,398,851 चिली पेसो) का भुगतान कर दिया. दिलचस्प बात यह है कि इसी कर्मचारी ने एचआर विभाग में एक डिप्टी मैनेजर को भुगतान में गलती के बारे में अलर्ट किया था.

पैसा लौटाने को हो गया राजी

जब कंपनी के प्रबंधन ने उनके रिकॉर्ड की जांच की, तो उन्हें इस गलती का पता चला. जब कंपनी को भनक लगी कि उन्होंने कर्मचारी को उसके मासिक वेतन का लगभग 286 गुना भुगतान किया गया है, तो वे कर्मचारी के पास पहुंचे. वह व्यक्ति कथित तौर पर अपने बैंक का दौरा करने और सरप्लस अमाउंट वापस करने के लिए सहमत हो गया. लेकिन उसने ऐसा किया नहीं.

2 जून को दे दिया इस्तीफा

जब कंपनी को कर्मचारी से धनराशि वापस नहीं मिली, तो उन्होंने उस व्यक्ति तक पहुंचने और अपडेट प्राप्त करने का प्रयास किया. लेकिन कोई कम्युनिकेशन नहीं था. बाद में उस व्यक्ति ने कंपनी से संपर्क किया और कहा कि वह सो गया था और जल्द ही बैंक का दौरा करेगा. लेकिन 2 जून को उस व्यक्ति ने अपना इस्तीफा सौंप दिया. अब हाल की रिपोर्टों से पता चलता है कि वह आदमी गायब हो गया है. पैसे की वसूली के लिए कंपनी ने अधिकारियों से संपर्क किया है और कर्मचारी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की है.