अभिनेता पंकज त्रिपाठी ने एग्रीटेक स्‍टार्टअप Krishi Network में किया निवेश, ब्रांड एंबेसडर भी बने

कंपनी किसानों को ऑनलाइन तथा ऑफलाइन सपोर्ट देती है और इसने कई एग्री ब्रैंड्स, एग्री-इनपुट मर्चेंट्स तथा कृषि सप्‍लाई चेन से जुड़े अन्‍य कई हितधारकों को भी जोड़ा है।

अभिनेता पंकज त्रिपाठी ने एग्रीटेक स्‍टार्टअप Krishi Network में किया निवेश, ब्रांड एंबेसडर भी बने

Thursday February 10, 2022,

4 min Read

एग्रीटेक प्‍लेटफार्म Krishi Networkने सुपर स्‍टार पंकज त्रिपाठी को कंपनी में निवेशक और ब्रांड एंबेसडर बनाने की घोषणा की है।

पंकज त्रिपाठी के साथ इस गठबंधन के चलते स्‍टार्टअप आम जनता तक पहुंच में विस्‍तार करने के साथ-साथ, जमीनी स्‍तर पर भी किसानों से जुड़ेगा। पंकज पहले किसान रह चुके हैं और उनकी यह पृष्‍ठभूमि इस स्‍टार्टअप के किसानों को बेहतर मुनाफे का लाभ दिलाने में मदद करने के ध्‍येय के अनुरूप है। कंपनी किसानों को खेती संबंधी कई महत्‍वपूर्ण सवालों के तत्‍काल जवाब देकर उन्‍हें महत्‍वपूर्ण फैसले लेने में मदद करती है।

Agritech startup

सांकेतिक चित्र

इस गठबंधन के बारे में पंकज त्रिपाठी का कहना है, "किसानी की पृष्‍ठभूमि के चलते, मैं हमेशा से उन प्रयासों में मदद देने को उत्‍सुक रहता हैं जो किसानों को अपने कारोबार को बढ़ावा देने वाली जानकारी सुलभ कराते हैं। जब मैं खेती-बाड़ी किया करता था तो सही जानकारी प्राय: उपलब्‍ध नहीं होती थी, लेकिन Krishi Network जिस तरह से आज किसानों को सपोर्ट दे रहा है, वह वाकई सराहनीय पहल है।"

Krishi Network की स्‍थापना IIT खड़गपुर के पूर्व छात्रों आशीष मिश्रा और सिद्धांत भूमिया ने की है और यह इंटरनेट की गांवों-देहातों में बढ़ती पैठ का लाभ उठाकर ऐसा प्‍लेटफार्म उपलब्‍ध करा रहा है जिसकी मदद से किसानों की पहुंच ऐसी महत्‍वपूर्ण जानकारी तक होती है जो उन्‍हें अपनी भूमि से अधिक लाभ कमाने में मददगार साबित होती है। कंपनी किसानों को ऑनलाइन तथा ऑफलाइन सपोर्ट देती है और इसने कई एग्री ब्रैंड्स, एग्री-इनपुट मर्चेंट्स तथा कृषि सप्‍लाई चेन से जुड़े अन्‍य कई हितधारकों को भी जोड़ा है।

Krishi Network ऐप फिलहाल हिंदी, मराठी, पंजाबी और अंग्रेजी में उपलब्‍ध है तथा जल्‍द ही इसे अन्‍य कई भाषाओं में भी लॉन्‍च करने की योजना है।

इस घोषणा के बारे में Krishi Network के फाउंडर आशीष मिश्रा ने बताया, "हमने भारतीय कृषि क्षेत्र में बदलाव लाने के मकसद से Krishi Network की शुरुआत की थी और इसके लिए हम किसानों को पूरे भरोसे के साथ बदलाव को अपनाने के लिए तैयार करते हैं। हम उन्‍हें अपने स्‍थानीय क्षेत्र से बाहर तक के विशेषज्ञों तथा अन्‍य कृषि-व्‍यवसायों से जुड़ने का लाभ दिलाते हैं। हमें इस पहल के लिए जताए गए भरोसे को देखकर खुशी है और हम आगे भी भारतीय किसानों के विकास की राह में पेश आने वाली अड़चनों को दूर करने के लिए अथक प्रयास जारी रखेंगे।"

इससे पहले Krishi Network ने अन्‍य निवेशकों – संजीव रंग्रास (ITC ), सुनील खैरनार (Indigram Labs), वकेंट तड़ंकी (Anvaya Ventures), रुशांक वोरा (ICICI Ventures), अनीश रेड्डी (Capillary), अभिषेक गोयल (Tracxn), अगम खरे (Absolute Foods), सूरज साहरन (Delhivery), रोहित राजदान (ClearTax) तथा कनव हसीजा (Innovaccer) आदि से भी निवेश प्राप्‍त किया है। अब इस ताजा निवेश को प्राप्त करने के बाद कंपनी देशभर में अपने एआई आधारित टेक्‍नोलॉजी प्‍लेटफार्म को बढ़ावा दे सकती है।

बाएं से दाएं - करण चावला, आशीष मिश्रा, पंकज त्रिपाठी, सिद्धांत भोमिया

बाएं से दाएं - करण चावला, आशीष मिश्रा, पंकज त्रिपाठी, सिद्धांत भोमिया

कंपनी के एक निवेशक संजीव रंग्रास (ग्रुप हैड – आर एंड डी, सस्‍टेनेबिलिटी, आईटीसी) का कहना है, "किसान सही मायने में उद्यमी होते हैं और वे एक जटिल कारोबार का प्रबंधन करते हैं। Krishi Network ऐसा इंजन है जिसे किसानों के समुदायों का समर्थन हासिल है। मुझे आशीष और सिद्धांत के नेतृत्‍व वाले Krishi Network को देखते ही यह लग गया था कि इससे किसानों की दुनिया में बदलाव आएगा।"

कंपनी द्वारा जारी एक बयान के मुताबिक, यह फिलहाल 30 लाख किसानों से जुड़ी है और अपने नेटवर्क में और विस्‍तार को उत्‍सुक है। कंपनी किसी भी कृषि सेवा से जुड़े सवालों के लिए ’15 मिनट में जवाब’ देने की पेशकश करती है, और यह इस प्‍लेटफार्म पर रजिस्‍टर्ड 8000 से अधिक विशेषज्ञों के चलते संभव हुआ है। Krishi Network किसानों को विभिन्‍न हितधारकों से संपर्क का अवसर दिलाता है। साथ ही, यह समूचे एग्री-इकोसिस्‍टम के लिए भी फायदेमंद है और किसानों के लिए दोतरफा संचार का जरिया बनता है।