एग्री-फिनटेक स्टार्टअप Hesa 30 हजार गांवों के किसानों को फाइनेंशियल सॉल्यूशन मुहैया कराएगा

By Vishal Jaiswal
July 12, 2022, Updated on : Tue Jul 12 2022 12:33:15 GMT+0000
एग्री-फिनटेक स्टार्टअप Hesa 30 हजार गांवों के किसानों को फाइनेंशियल सॉल्यूशन मुहैया कराएगा
यह सुविधा ग्रामीण भारत में बिल भुगतान, पैसे निकालने के लिए खाता खोलने, मोबाइल रिचार्ज, बस टिकट बुकिंग, डीमैट खाते खोलने, सावधि जमा खाता खोलने और बिजली बिल आदि जैसी छोटी-छोटी जरूरतों को पूरा करने में आसानी प्रदान करेगी.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

हैदराबाद स्थित एग्री-फिनटेक स्टार्टअप हेसा ने तेलंगाना के टियर 2 और 2 शहरों के 30 हजार गांवों के किसानों सहित 60 हजार हेसाथियों के लिए फाइनेंशियल सॉल्यूशन उपलब्ध कराने की घोषणा की.


यह सुविधा ग्रामीण भारत में बिल भुगतान, पैसे निकालने के लिए खाता खोलने, मोबाइल रिचार्ज, बस टिकट बुकिंग, डीमैट खाते खोलने, सावधि जमा खाता खोलने और बिजली बिल आदि जैसी छोटी-छोटी जरूरतों को पूरा करने में आसानी प्रदान करेगी.


इसके साथ, ऐप का उद्देश्य एक फिजिटल (Phygital) नजरिए का उपयोग करके फाइनेंशियल सर्विस प्रोवाइडर्स और उनके लक्षित उपभोक्ताओं के बीच की खाई को पाटना है.


बता दें कि, Phygital एक ऐसा सिद्धांत है जो टेक्नोलॉली का इस्तेमाल करके यूजर्स के अनोखा अनुभव देने के लिए डिजिटल वर्ल्ड और फिजिकल वर्ल्ड के बीच की दूरी को पाटता है.


यह व्यवसायों को खरीदने और बेचने, प्रौद्योगिकी और मानवीय क्षमताओं का लाभ उठाने के लिए ग्रामीण वैल्यू चेन तक पहुंचने का अधिकार देता है. इसका उद्देश्य ग्राहकों और सेवा प्रदाताओं के लिए समान रूप से प्रौद्योगिकी को सक्षम करके ग्रामीण आबादी की वित्तीय चुनौतियों को कम करना है.


ऐप वर्तमान में तेलंगाना, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक में चालू है. फर्म की योजना अगली तिमाही में महाराष्ट्र से शुरू होकर पांच अन्य राज्यों में अपनी सेवाओं का विस्तार करने की है.


वित्तीय सेवाएं भी किसानों की उत्पादकता को बढ़ा रही हैं क्योंकि यह बड़ी संख्या में किसानों के लिए बैंक खाते न होने के कारण होने वाली चुनौतियों को खत्म करती हैं. यह उन सभी पर लागू होता है जो ग्रामीण बाजार में अलग-अलग व्यवसाय कर रहे हैं.


बता दें कि, हेसा एक यूनिफाइड सोशल, डिजिटल एंड फिजिकल (Phygital) कॉमर्स प्लेटफॉर्म है जो कि ग्रामीण भारत में प्रोडक्ट्स एवं सेवाओं के डिजिटल ट्रांजैक्शन को सक्षम बनाता है.


तेलंगाना मुख्यालय स्थित हेसा बिजनेस-टू-बिजनेस (B2B) मार्केटप्लेस में सक्षम होने के साथ ही लगभग डूरस्टेप एक्सेस के साथ विभिन्न प्रोडक्ट्स और सेवाओं को बेचने और खरीदने की सुविधा उपलब्ध कराता है.


अपनी शुरुआत के एक साल में ही इसने 30 हजार गांवों के नेटवर्क के साथ 7 लाख ग्राहकों तक अपनी सेवा पहुंचाने में सफल रहा है. हेसा की आज 65 से अधिक ब्रांडों के साथ पार्टनरशिप है.