Amazon, Flipkart जल्द ही ONDC से जुड़ेंगी: DPIIT सचिव

Amazon, Flipkart जल्द ही ONDC से जुड़ेंगी: DPIIT सचिव

Saturday December 17, 2022,

3 min Read

DPIIT (Department for Promotion of Industry and Internal Trade) के सचिव अनुराग जैन ने हाल ही में कहा कि Amazon और Flipkart सहित बड़ी कंपनियां जल्द ही ओपन नेटवर्क फॉर डिजिटल कॉमर्स (Open Network For Digital Commerce (ONDC)) से जुड़ सकती हैं.

ई-कॉमर्स सेक्टर की दिग्गज कंपनियां Amazon और Flipkart वर्तमान में देश में एक छत्र राज कर रही हैं.

अनुराग जैन ने कहा, “हमने उन सभी के साथ बातचीत शुरू कर दी है और शुरुआती संकेत हैं कि वे इसमें शामिल होंगे. शीर्ष चार के साथ बातचीत विभिन्न चरणों में है और कमोबेश उनकी इसमें दिलचस्पी दिखती है.“

नेटवर्क पर निपटान की दक्षता को और बढ़ाने के लिए, ओएनडीसी ने सुलह और निपटान का समर्थन करने के लिए एक फ्रेमवर्क तैयार किया है, यह सुनिश्चित करने के लिए कि डिजिटल कॉन्ट्रैक्ट्स और सेवा-स्तर के समझौतों में परिभाषित समय सीमा के भीतर सही संस्थाओं को भुगतान सही ढंग से किया जा सके.

इस सिस्टम के जनवरी 2023 तक लाइव होने की उम्मीद है और Kotak Mahindra Bank और Protean द्वारा इसका सफलतापूर्वक परीक्षण और कार्यान्वयन किया गया है. इस बीच, ओएनडीसी इकोसिस्टम के साथ भारत बिल पे सिस्टम (BBPS) का एकीकरण विकास के उन्नत चरणों में है.

DPIIT के अतिरिक्त सचिव अनिल अग्रवाल के अनुसार, ONDC के अगले दो वर्षों में अधिक लोगों तक पहुंचने की उम्मीद है. हालाँकि, उन्होंने किसी भी संस्था को ऑनबोर्ड करने के लिए सरकार की ओर से किसी भी प्रोत्साहन या सब्सिडी से इंकार किया.

वर्तमान में, देश में ई-कॉमर्स की पैठ लगभग 5-7% है, जैन ने कहा, यह बताते हुए कि बड़ी संख्या में विक्रेता और खरीदार ऑनलाइन इकोसिस्टम से बाहर हैं.

ओएनडीसी के मैनेजिंग डायरेक्टर और सीईओ टी कोशी ने कहा, "ओएनडीसी का अब 85 शहरों में परीक्षण किया जा रहा है, छोटे शहरों और स्थानीय किराना और व्यापारियों तक इसकी पहुंच बढ़ाने की योजना है."

ओएनडीसी कई नई पहल भी कर रहा है, जिनमें गुरुवार से एक बार का प्रोत्साहन कार्यक्रम शुरू किया गया था. कोशी ने कहा, "इस एक बार के प्रोत्साहन कार्यक्रम के माध्यम से, भारत भर में 700 से अधिक व्यापारियों के वर्तमान नेटवर्क को F&B और किराने के सामान में विभिन्न श्रेणियों में 20,000 से अधिक व्यापारियों तक पहुंचाने का लक्ष्य है."

ONDC एक सरकार समर्थित डिजिटल नेटवर्क है जो देश भर में छोटे व्यापारियों और मॉम-एंड-पॉप स्टोर्स को ग्राहकों तक पहुंचने की सुविधा देगा. इसका उद्देश्य डिजिटल कॉमर्स के लिए UPI - यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस - भुगतान के लिए नेटवर्क के समान इंटरऑपरेबल नेटवर्क बनाना है.

हालांकि ये एक नई पहल है, इसका सफल और पूर्ण पैमाने पर निष्पादन भारतीय ई-रिटेल इकोसिस्टम को खास प्रोत्साहन दे सकता है. साइन अप करने वाली कंपनियों में Shiprocket, Ekart, Kotak Mahindra Bank और Snapdeal शामिल हैं.

NPCI (National Payments Corporation of India) कई बैंकों, एNSDL, CDSL, NSE, BSE, Nabard और Sidbi के साथ ओएनडीसी में शेयरधारक है.

सितंबर से, ITC, EkSecond Technologies, Meesho, Uengage, Grab, Delhivery, Shiprocket और अन्य के साथ कई अन्य खरीदार, विक्रेता और लॉजिस्टिक्स एप्लिकेशन लाइव हो गए हैं, और 70 से अधिक प्रतिभागी इंटीग्रेशन की एडवांस स्टेज में हैं.