एशिया के सबसे बड़े ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस OneGreen ने जुटाई 12 करोड़ रुपये की फंडिंग

By yourstory हिन्दी
December 05, 2022, Updated on : Mon Dec 05 2022 08:32:14 GMT+0000
एशिया के सबसे बड़े ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस OneGreen ने जुटाई 12 करोड़ रुपये की फंडिंग
फंडिंग का उपयोग वनग्रीन द्वारा विकास के अपने अगले चरण में प्रवेश करने और किराने का सामान, नाश्ते के आवश्यक सामान, स्नैक्स, पेय पदार्थ, होम केयर, और बहुत कुछ जैसे जागरूक उत्पादों की पहुंच और उपलब्धता में सुधार के लिए किया जाएगा.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

एशिया के सबसे बड़े ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस वनग्रीन OneGreen ने प्री-सीरीज फंडिंग राउंड में 12.25 करोड़ रुपये जुटाए. भारत के पहले इंटीग्रेटेड इनक्यूबेटर और स्टार्टअप्स के लिए एक लीडिंग अर्ली स्टेज इंवेस्टमेंट प्लेटफॉर्म वेंचर कैटेलिस्ट्स Venture Catalysts ने आज घोषणा की कि उसने सचेत, टिकाऊ और पर्यावरण के अनुकूल उत्पादों के लिए इस फंडिंग राउंड को लीड किया.


फंडिंग का उपयोग वनग्रीन द्वारा विकास के अपने अगले चरण में प्रवेश करने और किराने का सामान, नाश्ते के आवश्यक सामान, स्नैक्स, पेय पदार्थ, होम केयर, और बहुत कुछ जैसे जागरूक उत्पादों की पहुंच और उपलब्धता में सुधार के लिए किया जाएगा.


संधार टेक्नोलॉजी जैसे प्रतिष्ठित फैमिली ऑफिसेज और शौम्यान बिस्वास (Ex-CMO Flipkar, CMO Tata Digital), सुनील कामथ (CBO Koo), वरुण दुग्गीराला (Founder Glitch), वरुण लाल (बोर्ड, XpressBees) और BYJU's जैसे रणनीतिक निवेशक और अन्य यूनिकॉर्न्स ने भी फंडिंग राउंड में भाग लिया.


वनग्रीन की शुरुआत अभिजीत भट्टाचार्य (सीबीओ) और नेहा गहलोत (सीजीओ) ने की थी. उनके पास ई-कॉमर्स मार्केटिंग, बिजनेस डेवलपमेंट और एंटरप्रेन्योरशिप का संयुक्त अनुभव है. अभिजीत ने फ्लिपकार्ट के बिग बिलियन डेज़, PayU के LazyPay, Match.com के लिए OkCupid  के लिए काम किया है. वहीं, नेहा एक प्रैक्टिस्ड ब्रांड और कंज्यूमर रिसर्चर हैं, जिन्होंने L’Oreal जैसे बड़े FMCG संगठनों में काम किया है.


बता दें कि, देशभर में 13 करोड़ से अधिक उपभोक्ताओं के साथ, भारतीय क्लीन टेक इंडस्ट्री का मूल्य 90,000 करोड़ रुपये है. लेकिन, केवल 30 फीसदी ब्रांड ही अपने उत्पादों की संरचना और प्रभाव के अपने दावों का पालन करते हैं. वनग्रीन 500 से अधिक ब्रांडों के 18,000 उत्पादों की पेशकश करता है जो 100 फीसदी प्रमाणित शाकाहारी, टॉक्सिन फ्री, प्रीजर्वेटिव फ्री, ग्लुटन फ्री और इको-फ्रेंडली (पर्यावरण के अनुकूल) हैं.


प्लेटफ़ॉर्म वनग्रीन इंडेक्स नामक एक यूनिक प्रोपरायटरी टूल मुहैया कराता है, जो श्रेणियों में जागरूक उत्पादों के लिए तीन-चरणीय गुणवत्ता और विश्वसनीयता मूल्यांकन प्रदान करता है. कंपनी के 80 फीसदी ऑडियंस स्वास्थ्य और कल्याण के प्रति जागरूक आधुनिक महिलाएं हैं, जिनमें से आधी माताएं हैं. वनग्रीन भारतीय उपभोक्ता के लिए एक पारदर्शी, ईमानदार और 100 फीसदी सुनिश्चित उत्पाद बाजार बनाना चाहता है.


बता दें कि, वेंचर कैटेलिस्ट्स स्टार्टअप्स के लिए भारत का पहला इंटीग्रेटेड इनक्यूबेटर है. यह स्टार्टअप्स के लिए पूंजी, सलाह और नेटवर्क को जोड़ता है और संयुक्त अरब अमीरात, हांगकांग, ब्रिटेन, अमेरिका, कनाडा और सिंगापुर में अंतरराष्ट्रीय मौजूदगी के साथ पूरे भारत के 47 शहरों में मौजूद है.


बता दें कि, वेंचर कैटेलिस्ट्स हाई नेटवर्थ इंडीविजुअल्स (HNI), फैमिली ऑफिस, CXOs आदि के नेटवर्क के जरिए प्रति स्टार्टअप 2 से 15 करोड़ रुपये की रेंज में निवेश करता है.


Edited by Vishal Jaiswal