‘मेक इन इंडिया’ सप्ताह: झारखंड को मिले 62,000 करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव

    By योरस्टोरी टीम हिन्दी
    February 17, 2016, Updated on : Thu Sep 05 2019 07:18:13 GMT+0000
    ‘मेक इन इंडिया’ सप्ताह: झारखंड को मिले 62,000 करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव
    • +0
      Clap Icon
    Share on
    close
    • +0
      Clap Icon
    Share on
    close
    Share on
    close


    झारखंड सरकार ने कहा कि उसे अदाणी तथा वेदांता जैसी बड़ी कंपनियों से 62,000 करोड़ रपये के निवेश प्रस्ताव मिले हैं। इन कंपनियों ने बिजली, उर्वरक, इस्पात और रसायन जैसे क्षेत्रों में रूचि दिखायी है।

    image


    झारखंड के मुख्यमंत्री रघुबर दास ने यहां ‘मेक इन इंडिया’ सप्ताह के दौरान अलग से बातचीत में संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमने तापीय बिजली संयंत्र तथा उर्वरक विनिर्माण इकाई लगाने के लिये अदाणी समूह के साथ 50,000 करोड़ रपये के निवेश के लिये सहमति पत्र पर दस्तखत किये हैं।’’ दास ने कहा, ‘‘हमें वेदांता से 2,000 करोड़ रपये का निवेश प्रस्ताव मिला है और इसके लिये हमने एमओयू पर हस्ताक्षर किये हैं। इसके अलावा हमें रसायन, आईटी, कपड़ा तथा निर्माण जैसे क्षेत्रों में कंपनियों से 10,000 करोड़ रपये के निवेश के 11 आशय पत्र प्राप्त हुए हैं।’’ झारखंड सरकार ने गौतम अदाणी की अगुवाई वाले समूह के साथ 15,000 करोड़ रपये का एक समझौता तापीय बिजली सयंत्र लगाने के लिये किया है। इसकी क्षमता 1,600 मेगावाट होगी। इस इकाई से उत्पादित बिजली बांग्लादेश ग्रिड को दी जाएगी।

    शेष 35,000 करोड़ रपये निवेश कोयला आधारित मिथेन उर्वरक उत्पादन के लिये इकाई लगाने में किया जाएगा। दास ने कहा कि झारखंड में देश का 40 प्रतिशत खनिज है और एकमात्र राज्य है जहां कोयला तथा लौह अयस्क दोनों के भंडार हैं।