Brands
YSTV
Discover
Events
Newsletter
More

Follow Us

twitterfacebookinstagramyoutube
Yourstory

Brands

Resources

Stories

General

In-Depth

Announcement

Reports

News

Funding

Startup Sectors

Women in tech

Sportstech

Agritech

E-Commerce

Education

Lifestyle

Entertainment

Art & Culture

Travel & Leisure

Curtain Raiser

Wine and Food

Videos

ADVERTISEMENT

BBC की दुनिया की 100 प्रभावशाली महिलाओं की सूची में चार भारतीय महिलाएं

बीबीसी हर साल दुनिया भर से ऐसी महिलाओं को चुनता है, जिन्‍होंने उस वर्ष अपने काम और उपलब्धियों से कोई खास पहचान बनाई हो.

BBC की दुनिया की 100 प्रभावशाली महिलाओं की सूची में चार भारतीय महिलाएं

Thursday December 08, 2022 , 4 min Read

BBC (ब्रिटिश ब्रॉडकास्टस्टिंग कॉरपोरेशन) ने वर्ष 2022 की विश्‍व की प्रभावशाली और ताकतवर महिलाओं की एक सूची जारी की है. इस सूची में दुनिया भर से महिलाओं को चुना गया है. इस लिस्‍ट में भारत की भी चार महिलाएं हैं. ये महिलाएं हैं- अभिनेत्री और फिल्म निर्माता प्रियंका चोपड़ा जोनस (Priyanka Chopra Jonas), बुकर अवार्ड विनर हिंदी लेखिका गीतांजलि श्री (Geetanjali Shree), एविएशन इंजीनियर सिरिशा बांदला (Sirisha Bandla) और सामाजिक कार्यकर्ता स्‍नेहा जावाले (Sneha Jawale).  

बीबीसी हर साल दुनिया भर से ऐसी महिलाओं को चुनता है, जिन्‍होंने उस वर्ष अपने काम और उपलब्धियों से कोई खास पहचान बनाई हो. जिन्‍होंने समाज में बदलाव लाने में महत्‍वपूर्ण योगदान दिया हो. इसमें सफल बिजनेस वुमन से लेकर, लेखक, कलाकार, वैज्ञानिक और जमीनी स्‍तर पर काम करने वाली एक्टिविस्‍ट महिलाओं तक के नाम शामिल किए जाते हैं.

इस साल भारत से जिन 4 महिलाओं को चुना गया है, वो किसी परिचय की मोहताज नहीं हैं. आइए फिर भी जानते हैं इस वर्ष उनके काम और उपलब्धियों के बारे में.

गीतांजलि श्री

गीतांजलि श्री हिंदी की जानी-मानी लेखिका हैं. इस साल भारत और हिंदी भाषा के लिए बहुत खास रहा, जब उनके उपन्‍यास ‘रेत समाधि’ के अंग्रेजी अनुवाद ‘टूंब ऑफ सैंड’ के लिए उन्‍हें अंतरराष्ट्रीय बुकर पुरस्कार से सम्‍मानित किया गया. यह पुरस्‍कार पाने वाली वह हिंदी की पहली लेखिका हैं. इस किताब के फ्रेंच अनुवाद को एमिली गुमेट प्राइज के लिए भी चयनित किया गया था.

प्रियंका चोपड़ा

हिंदी सिनेमा की मशहूर अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा अब अंतर्राष्‍ट्रीय स्‍तर की शख्सियत बन चुकी हैं. सिनेमा में अभिनय के साथ-साथ वह पर्पल पेबल्‍स पिक्‍चर्स नाम से अपनी प्रोडक्‍शन कंपनी भी चलाती हैं. उनकी प्रोडक्‍शन कंपनी की फिल्‍म ‘द व्‍हाइट टाइगर’ पिछले साल एकेडमी अवॉर्ड्स के लिए नॉमिनेट हुई थी. इसके अलावा वह कई राष्‍ट्रीय फिल्‍म पुरस्‍कारों से सम्‍मानित फिल्‍में ‘द स्‍काय इज पिंक’, ‘वेंटिलेटर’, ‘पानी’ और ‘इविल आई’ का भी प्रोडक्‍शन कर चुकी हैं.  

bbc’s 100 women list of influential figures of 2022 has 4 indian women

सिरिशा बांदला

सिरिशा बांदला स्‍पेस में जाने वाली भारत की दूसरी महिला हैं. वह भारत के ऐतिहासिक मिशन ‘यूनिटी 22’  का हिस्‍सा थीं. बचपन से ही अंतरिक्ष में रचि रखने और एस्‍ट्रॉनॉट बनने का सपना देखने वाली सिरिशा ने अमेरिका से  वैमानिकी इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है.

स्‍नेहा जावाले

बीबीसी की इस सूची में चौथा नाम स्‍नेहा जावाले का है. स्‍नेहा एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं, जो घरेलू हिंसा से पीडि़त महिलाओं के बीच काम करती हैं. स्‍नेहा खुद घरेलू हिंसा का शिकार रही हैं. इतना ही नहीं, ससुराल वालों की दहेज की मांग पूरी न करने पर उनके पति ने उन पर कैरोसिन छिड़ककर उन्‍हें जलाने की भी कोशिश की थी, जिसमें वह बुरी तरह झुलस गई थीं. स्‍नेहा का 70 फीसदी से ज्‍यादा चेहरा और शरीर जला हुआ है.

इतना सब होने के बाद उनके परिवार वालों ने पति और ससुराल वालों के खिलाफ कोई शिकायत दर्ज नहीं करवाई. स्‍नेहा ने बिना किसी मदद और सहारे के अपने बलबूते फिर से नया जीवन शुरू करने की ठानी. आज वो एक सफल टैरो कार्ड रीडर, स्क्रिप्‍ट राइटर और सोशल एक्टिविस्‍ट हैं.   

सूची में शामिल अन्‍य महिलाएं

भारत से चुनी गई चार महिलाओं के अलावा दुनिया भर की जिन महिलाओं ने इस लिस्‍ट में जगह बनाई है, उनमें अपने संगीत से पूरी दुनिया में धमाल करने वाली बिलि एलिश, यूक्रेन की फर्स्ट लेडी ओलेना जेलेंस्का, एक्‍स्‍ट्रेस लेमा ब्लेयर, रूसी पॉप म्यूजिक स्टार अला पुगाचेवा, ईरानी पर्वतारोही इलनाज रेकाबी, ट्रिपल जंप एथलीट यूलिमार रोजास और घाना की लेखिका नाना दारको सेकियामाह शामिल हैं.

पिछले वर्ष इस सूची में सबसे कम उम्र में नोबेल पुरस्कार से सम्‍मानित होने वाली मलाला यूसुफजई, वैक्सीन कॉन्‍फ़िडेंस प्रोजेक्ट की हेड हेयडी जे. लॉर्स, सामोआ की पहली महिला प्रधानमंत्री फियामे नाओमी माताफा और मशहूर लेखिका चिमामांदा नगोजी अदिची को भी जगह मिली थी.


Edited by Manisha Pandey