जूम कॉल पर 900 लोगों को निकालने वाले CEO विशाल गर्ग पर पूर्व कर्मचारी ने किया मुकदमा

2016 में स्थापित Better.com अपने ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के माध्यम से घर के मालिकों को मॉर्गेज और इंश्योरेंस प्रॉडक्ट प्रदान करती है.

जूम कॉल पर 900 लोगों को निकालने वाले CEO विशाल गर्ग पर पूर्व कर्मचारी ने किया मुकदमा

Thursday June 09, 2022,

2 min Read

Better.com के सीईओ विशाल गर्ग (Vishal Garg) एक बार फिर चर्चा में हैं. यह वही विशाल गर्ग हैं, जिन्होंने पिछले साल क्रिसमस से पहले जूम कॉल पर एक साथ 900 कर्मचारियों की छंटनी कर दी थी और उसके बाद उन्हें खड़ूस बॉस कहा जाने लगा. Better.com के एक पूर्व इंप्लॉई ने कंपनी और सीईओ विशाल गर्ग पर मुकदमा किया है. इंप्लॉई का आरोप है कि Better.com और गर्ग, कंपनी के फाइनेंशियल प्रॉसपेक्ट्स और परफॉरमेंस को लेकर निवेशकों को गुमराह करने वाले स्टेटमेंट उपलब्ध करा रहे हैं.

रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, Better.com की पूर्व एग्जीक्यूटिव वाइस प्रेसिडेंट (सेल्स एंड ऑपरेशंस) सारा पियर्स (Sarah Pierce) ने यह मुकदमा किया है. उनकी ओर से दावा किया गया है कि गर्ग ने SPAC मर्जर डील को आगे बढ़ाने के लिए निवेशकों को Better.com की वित्तीय स्थिति के बारे में निवेशकों को गुमराह किया. गर्ग को डर था कि कंपनी की बदतर होती वित्तीय स्थिति से निवेशक मर्जर एग्रीमेंट से किनारा कर सकते हैं. हालांकि Better.com के एक वकील का कहना है कि आरोपों में कोई दम नहीं है.

क्यों हो रही है SPAC डील

Better.com को जापान की SoftBank का समर्थन है. इसका हेडक्वार्टर न्यूयॉर्क में है. Better.com एक स्पेशल पर्पस एक्वीजीशन कंपनी (SPAC) Aurora Acquisition Corp के साथ एक विलय के माध्यम से सार्वजनिक बनना चाहती है. इस सौदे पर पिछले साल सहमति बनी थी और सौदा पूरा होना अभी बाकी है. इस सौदे के बाद Better.com की वैल्युएशन 7.7 अरब डॉलर हो जाएगी.

छंटनी के बाद लंबी छुट्टी पर चले गए थे गर्ग

2016 में स्थापित Better.com अपने ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के माध्यम से घर के मालिकों को मॉर्गेज और इंश्योरेंस प्रॉडक्ट प्रदान करती है. पिछले साल जूम कॉल पर 900 लोगों की छंटनी का विशाल गर्ग का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था. इसके बाद विशाल गर्ग की काफी निंदा हुई थी और उन्हें माफी मांगनी पड़ी थी. मामले के बाद कंपनी ने उन्हें लंबी छुट्टी पर भेज दिया था लेकिन एक महीने बाद ही उन्होंने फिर पद संभाल लिया था.