सरकार का एक फैसला और 7% नीचे आ गया RIL शेयर, ONGC 13% और ऑयल इंडिया 15% टूटा

सरकार ने शुक्रवार को पेट्रोल, डीजल और विमान ईंधन पर निर्यात कर और स्थानीय स्तर पर उत्पादित कच्चे तेल के मामले में अप्रत्याशित लाभ पर कर लगाने का फैसला किया.

सरकार का एक फैसला और 7% नीचे आ गया RIL शेयर, ONGC 13% और ऑयल इंडिया 15% टूटा

Friday July 01, 2022,

2 min Read

सरकार ने शुक्रवार को पेट्रोल, डीजल और विमान ईंधन (ATF) पर निर्यात शुल्क बढ़ाने की घोषणा की. इस घोषणा के बाद एनर्जी और ऑयल व गैस कंपनियों के शेयरों में भारी बिकवाली देखी गई. बिकवाली दबाव के चलते मुकेश अंबानी की Reliance Industries के शेयरों में 7 प्रतिशत से अधिक की गिरावट आई और बाजार पूंजीकरण 1.25 लाख करोड़ रुपये घट गया.

सरकार ने शुक्रवार को पेट्रोल, डीजल और विमान ईंधन पर निर्यात कर और स्थानीय स्तर पर उत्पादित कच्चे तेल के मामले में अप्रत्याशित लाभ पर कर लगाने का फैसला किया. ब्रिटेन सहित कई देश ऐसा पहले ही कर चुके हैं. इसके बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज समेत कई ऑयल एंड गैस कंपनियों के शेयरों में गिरावट आई.

अब क्या रह गई RIL के शेयर की कीमत

NSE पर रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 7.31 प्रतिशत टूटकर 2406 रुपये पर बंद हुआ. वहीं बीएसई पर कंपनी का शेयर 7.14 प्रतिशत की गिरावट के साथ 2408.95 रुपये के स्तर पर आ गया. पूरे दिन के कारोबार में आरआईएल के शेयर ने 2365 रुपये का निचला स्तर और 2591 रुपये का उच्च स्तर छुआ. इस वक्त कंपनी का मार्केट कैप 1,25,447.5 करोड़ रुपये घटकर 16,29,684.50 करोड़ रुपये पर आ चुका है.

ONGC गिरकर 131.15 रुपये पर

RIL के अलावा एनर्जी और ऑयल व गैस सेक्टर की अन्य कंपनियों के शेयरों में भी तगड़ी गिरावट देखने को मिली. बीएसई पर ONGC का शेयर 13.40 फीसदी गिरकर 131.15 रुपये पर बंद हुआ है. वेदांता का शेयर 4.04 फीसदी की गिरावट के साथ 213.95 रुपये पर बंद हुआ. इसके अलावा ऑयल इंडिया में 15.07 प्रतिशत, मैंगलोर रिफाइनरी एवं पेट्रोकेमिकल्स में 9.99 प्रतिशत, चेन्नई पेट्रोलियम कॉरपोरेशन में 5.23 प्रतिशत और हिंदुस्तान ऑयल एक्सप्लोरेशन कंपनी में 3.18 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई. बीएसई ऊर्जा सूचकांक 3.99 फीसदी गिरकर 7,635.10 पर आ गया.