ChatGPT की पैरेंट OpenAI ने करीब 29 अरब डॉलर की वैल्यूएशन पर जुटाए 30 करोड़ डॉलर: रिपोर्ट

ChatGPT जैसे जनरेटिव आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (AI) सिस्टम ने टेक्नोलॉजी की दुनिया में खूब सुर्खियां बटोरी हैं. ChatGPT आपके लिए निबंध, यूट्यूब वीडियो की स्क्रिप्ट, कवर लेटर, बायोग्राफी, छुट्टी की एप्लीकेशन आदि लिख सकता है. इसे बीते साल 2022 में 30 नवंबर को लॉन्च किया गया था.

ChatGPT की पैरेंट OpenAI ने करीब 29 अरब डॉलर की वैल्यूएशन पर जुटाए 30 करोड़ डॉलर: रिपोर्ट

Saturday April 29, 2023,

2 min Read

एक रिपोर्ट के अनुसार चैटबॉट ChatGPT की पैरेंट कंपनी OpenAI ने 27 से 29 बिलियन डॉलर की वैल्यूएशन पर शेयर बेचकर 300 मिलियन डॉलर (30 करोड़ डॉलर) की फंडिंग जुटाई है.

TechCrunch ने आधिकारिक दस्तावेजों का हवाला देते हुए Tiger Global, Sequoia Capital, Andreessen Horowitz, Thrive और K2 Global सहित वीसी फर्मों ने नए शेयर खरीदे हैं.

OpenAI ने जनवरी में घोषणा की थी कि उसने Microsoft से फंडिंग जुटाई है. दोनों कंपनियों ने डील के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं दी. लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया कि माइक्रोसॉफ्ट ने स्टार्टअप में 10 अरब डॉलर का निवेश किया है. Microsoft ने OpenAI में पहले ही 3 बिलियन डॉलर से अधिक का निवेश किया था.

ChatGPT जैसे जनरेटिव आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (AI) सिस्टम ने टेक्नोलॉजी की दुनिया में खूब सुर्खियां बटोरी हैं. ChatGPT आपके लिए निबंध, यूट्यूब वीडियो की स्क्रिप्ट, कवर लेटर, बायोग्राफी, छुट्टी की एप्लीकेशन आदि लिख सकता है. इसे बीते साल 2022 में 30 नवंबर को लॉन्च किया गया था.

कंपनी का कहना है कि यह हमारे प्रश्नों का उत्तर दे सकता है, अपनी गलतियां मान सकता है. इसके अलावा यह अनुमान भी लगा सकता है कि उससे पूछा जाने वाला अगला सवाल क्या होगा? इतना ही नहीं GPT उन अनुरोधों को अस्वीकार भी कर सकता है, जो उसे सही नहीं लगते हैं. दुनियाभर के कई नामचीन विशेषज्ञों द्वारा यह तक कहा जा रहा है कि आने वाले भविष्य में ChatGPT दिग्गज टेक कंपनी Google तक को टक्कर दे सकता है.

Y Combinator के हैड Sam Altman ने एलन मस्क के साथ मिलकर के साल 2015 में ChatGPT को शुरू किया था. हालांकि जब इसकी शुरुआत की गई थी तभी यह एक नॉन-प्रॉफिट कंपनी थी लेकिन बाद में एलन मस्क ने इस प्रोजेक्ट को बीच में ही छोड़ दिया.

मस्क के छोड़ने के बाद, ऑल्टमैन ने OpenAI को एक फ़ायदेमंद कंपनी के रूप में फिर से बनाया ताकि वह अपनी रिसर्च के लिए आवश्यक फंडिंग जुटा सके.

OpenAI ने पिछले महीने अपने बेहद लोकप्रिय चैटबॉट ChatGPT का सबसे पावरफुल वर्जन GPT-4 लॉन्च किया था.

यह भी पढ़ें
Aksum ने Inflection Point Ventures के नेतृत्व में जुटाई 1 मिलियन डॉलर की फंडिंग