12वीं में टॉप करने वाली लड़की बनी एक दिन के लिए डीसीपी

By yourstory हिन्दी
May 13, 2019, Updated on : Thu Sep 05 2019 07:32:07 GMT+0000
12वीं में टॉप करने वाली लड़की बनी एक दिन के लिए डीसीपी
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

रिचा सिंह

कोलकाता की रिचा सिंह को उस वक्त खुशी का ठिकाना नहीं रहा जब उन्होंने बारहवीं की परीक्षा में टॉप किया। इसके बाद उन्हें कोलकाता पुलिस ने एक दिन के लिए कोलकाता का पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) बनाकर सम्मानित किया। आईएससी द्वारा आयोजिक बारहवीं की परीक्षा में 99.25 प्रतिशत अंक लाते हुए रिचा ने चौथी रैंक हासिल की है। वह जीडी बिड़ला सेंटर फॉर एजुकेशन की छात्रा हैं।


रिचा सिंह के पिता राजेश सिंह भी पुलिस में काम करते हैं और फिलहाल गरियाहाट पुलिस स्टेशन में ड्यूटी ऑफिसर के तौर पर तैनात हैं। बीते 8 मई को रिचा की उल्लेखनीय उपलब्धि के कारण उ्होंने सुबह 6 बजे से लेकर 12 बजे तक कोलकाता पुलिस उपायुक्त (दक्षिण पूर्वी डिवीजन) बनाया गया। इस निर्धारित समय में, ऋचा को अपने पिता के साथ दो पुलिस स्टेशनों का दौरा करने का अवसर मिला, जहाँ उन्होंने सीसीटीवी कैमरे के माध्यम से क्षेत्र के संचालन और निरीक्षण किया। रिचा ने आदेश भी जारी किए और अधिकारियों को उसे रिपोर्ट करने का आदेश दिया।


इस अनुभव के बारे में इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए रिचा ने कहा, 'चूंकि मुझे कोई भी एक आदेश देने की अनुमति देनी थी इसलिए मैंने अपने पिता को जल्दी घर लौटने का आदेश देना पसंद किया। सच कहूं तो यह दिन मेरे लिए खास था। इसके बाद मेरे पिता घर चले गए।' रिचा के पिता अपनी बेटी के इस फैसले काफी अभिभूत हुए।


रिचा ने मानविकी विषयों के साथ बारहवीं की परीक्षा पास की हैं। अब वह आगे इतिहास या समाजशास्त्र की पढ़ाई करने की योजना बना रही है। वे आगे चलकर यूपीएससी की परीक्षा पास कर आईएएस भी बनना चाहती हैं। आईएससी परीक्षा 4 फरवरी से 25 मार्च, 2019 के बीच आयोजित की गई थी, और परिणाम 8 मई को घोषित किए गए थे। लगभग 96.52 प्रतिशत छात्रों ने इस परीक्षा में सफलता हासिल की और दो छात्रों ने 100 प्रतिशत अंक हासिल करते हुए इतिहास रच दिया।


यह भी पढ़ें: बंधनों को तोड़कर बाल काटने वालीं नेहा और ज्योति पर बनी ऐड फिल्म