केरल में फोटोग्राफर की सजगता के चलते जिंदा हो गया ‘मृत व्यक्ति’

By yourstory हिन्दी
July 15, 2020, Updated on : Wed Jul 15 2020 05:31:30 GMT+0000
केरल में फोटोग्राफर की सजगता के चलते जिंदा हो गया ‘मृत व्यक्ति’
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

टॉमी कथित तौर पर मृत युवक की तस्वीर खींच रहे थे, तभी उन्हे कुछ संदेह हुआ जिसके बारे में उन्होने फौरन पुलिसकर्मियों को सूचित किया।

टॉमी थॉमस (चित्र साभार: द न्यूज़ मिनट)

टॉमी थॉमस (चित्र साभार: द न्यूज़ मिनट)



कहते हैं जाको ‘राखे साइयाँ, मार सके न कोय’, एक ऐसा ही मामला केरल से सामने आया है, जहां एक फोटोग्राफर की सगाजता के चलते एक युवक की जान बच गई। इसके पहले युवक को मृत समझ लिया गया था, जिसके बाद अधिकारियों द्वारा बुलाये जाने पर फोटोग्राफर युवक की तस्वीर खींचने आया था।


यह घटना एर्नाकुलम की है, जहां रविवार के दिन टॉमी थॉमस को एडाथला पुलिस स्टेशन में अधिकारियों ने एर्नाकुलम जिले के कलामासेरी के पास एक घर में एक मृत व्यक्ति की तस्वीर खींचने के लिए बुलाया था। तस्वीर खींचना पुलिस की जांच का हिस्सा था, लेकिन जब जब टॉमी तस्वीरें लेने वाले थे, तभी कुछ चौंकाने वाली बात हुई।


इस दौरान फोटोग्राफर ने एक धीमी सी आवाज़ सुनी जो मृत व्यक्ति के आ रही थी, उसने फौरन ही मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों को इस बारे में बताया और संदेह व्यक्त किया कि शायद वह व्यक्ति जिंदा है।


फोटोग्राफर का संदेह सही साबित हुआ और उस समय मृत समझा जाने वाला व्यक्ति शिवदासन इस समय त्रिशूर के जुबली मिशन अस्पताल के आईसीयू में है।


शिवदासन उच्च रक्तछाप के चलते नीचे गिर गए थे, जिसके चलते उनका सिर बेड के कोने से टकरा गया था और फिर वे बेहोशी की हालत में पाये गए थे।


द न्यूज़ मिनट की रिपोर्ट के अनुसार फोटोग्राफर टॉमी बीते 25 सालों से पुलिस के साथ इसी तरह के असाइनमेंट में काम कर रहा है। टॉमी की इस सजगता ने एक व्यक्ति की जान बचाने का काम किया है।


Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close