Brands
YSTV
Discover
Events
Newsletter
More

Follow Us

twitterfacebookinstagramyoutube
Yourstory
search

Brands

Resources

Stories

General

In-Depth

Announcement

Reports

News

Funding

Startup Sectors

Women in tech

Sportstech

Agritech

E-Commerce

Education

Lifestyle

Entertainment

Art & Culture

Travel & Leisure

Curtain Raiser

Wine and Food

Videos

ADVERTISEMENT

दिल्ली एनसीआर के टेक स्टार्टअप की फंडिंग में 61% की गिरावट आई: रिपोर्ट

दिल्ली एनसीआर के टेक सेक्टर में Lets Venture, Well Found, और Blume सबसे सक्रिय निवेशक रहे. बिलकुल शुरुआती स्तर की फंडिंग में We Founder Circle, Blume, और 100X.VC सबसे सक्रिय थे, जबकि Alkemi Partners, Accel, और Elevation शुरुआती स्तर के निवेशकों में सबसे आगे थे.

दिल्ली एनसीआर के टेक स्टार्टअप की फंडिंग में 61% की गिरावट आई: रिपोर्ट

Thursday February 15, 2024 , 2 min Read

हाइलाइट्स

  • 2023 में दिल्ली एनसीआर के टेक स्टार्टअप की कुल फंडिंग 61% गिरकर 1.5 बिलियन डॉलर हो गयी, जो 2022 में 3.8 बिलियन डॉलर थी 
  • 2023 में 100 मिलियन डॉलर से अधिक फंडिंग वाले सिर्फ दो राउंड हुए, जबकि 2022 में ऐसे सात राउंड हुए थे
  • अधिग्रहण की संख्या 2023 में 52% गिरकर 26 हो गयी, जो 2022 में 54 थी
  • 2023 में रिटेल, एंटरप्राइज एप्लीकेशन, और फिनटेक सबसे ज्यादा फंडिंग पाने वाले सेक्टर थे 

Tracxn जिओ वार्षिक रिपोर्ट के अनुसार, भारत के सबसे ज्यादा फंड पाने वाले राज्यों में एनसीटी (राष्ट्रीय कैपिटल टेरीटरी) क्षेत्र आज की तारीख में कुल मिलाकर 5.7 बिलियन डॉलर के साथ पांचवे स्थान पर है. यह 2023 में भारतीय टेक स्टार्टअप इकोसिस्टम में पांचवा सबसे ज्यादा फंड पाने वाला राज्य भी है. 2023 में इस सेक्टर के स्टार्टअप को 1.5 बिलियन डॉलर की फंडिंग मिली, यह पिछले 10 सालों में देखा गयी अब तक की सबसे कम फंडिंग है. 

2023 में दिल्ली एनसीआर के टेक क्षेत्र में फंडिंग 61% गिरकर 1.5 बिलियन डॉलर हो गयी, जो 2022 में 3.8 बिलियन डॉलर थी. बिलकुल शुरुआती स्तर का निवेश 166 मिलियन डॉलर था, जिनमें यदि 2022 के 342 मिलियन डॉलर से तुलना करें तो 51% की गिरावट आयी है. इस क्षेत्र की कंपनी को 2023 में 454 मिलियन डॉलर की शुरुआती फंडिंग मिली, इसमें 2020 में मिले 14 बिलियन डॉलर के तुलना में 71% की कमी रही. बाद के स्तर पर होने वाली फंडिंग में 55% की कमी देखी गयी, 2022 के 1.9 बिलियन डॉलर से 2023 में 842 मिलियन डॉलर रह गया. 

2023 में 100 मिलियन+ डॉलर के सिर्फ दो राउंड देखे गए, जो पिछले साल के सात राउंड से कम हैं. 2023 में कोई भी यूनिकॉर्न कंपनी नहीं आयी जबकि 2022 में दो यूनिकॉर्न कंपनी थीं और 2021 में नौ यूनिकॉर्न कंपनी थीं. 

2023 में रिटेल, एंटरप्राइज एप्लीकेशन, और फिनटेक सबसे ज्यादा फंड पाने वाले सेक्टर थे. 2023 में रिटेल सेक्टर की कंपनी में 797 मिलियन डॉलर का निवेश आया, यह 2022 से 50% कम था. 2023 में एंटरप्राइज एप्लीकेशन सेक्टर में फंडिंग 273 मिलियन डॉलर रही, इसमें 2022 की तुलना में 72% की कमी आयी. 2023 में फिनटेक सेक्टर की कुल फंडिंग 186 मिलियन डॉलर रही, इसकी यदि 2022 से तुलना की जाए तो 79% की कमी रही और 2021 से तुलना करें तो 84% की कमी रही.

दिल्ली एनसीआर के टेक सेक्टर में Lets Venture, Well Found, और Blume सबसे सक्रिय निवेशक रहे. बिलकुल शुरुआती स्तर की फंडिंग में We Founder Circle, Blume, और 100X.VC सबसे सक्रिय थे, जबकि Alkemi Partners, Accel, और Elevation शुरुआती स्तर के निवेशकों में सबसे आगे थे. 2023 के आखिरी समय में OP Finnfund Global Impact Fund सबसे सक्रिय निवेशक रहा.