दिल्ली दंगों के गुनहगारों को पकड़ने के लिए दिल्ली पुलिस ने आम लोगों से मांगी मदद, की यह खास अपील

दिल्ली दंगों के गुनहगारों को पकड़ने के लिए दिल्ली पुलिस ने आम लोगों से मांगी मदद, की यह खास अपील

Thursday March 12, 2020,

2 min Read

23 फरवरी की शाम से उत्तर-पूर्वी दिल्ली में शुरू हुए दंगों ने देश की राजधानी दिल्ली के साथ-साथ पूरे देश को हिलाकर रख दिया। इन दंगों में 50 से अधिक लोगों की जान गई और 500 के करीब लोग घायल हुए। जहां एक कॉन्सटेबल, एक आईबी अफसर की मौत हुई, वहीं शाहदरा डीसीपी अमित शर्मा गंभीर रूप से घायल हो गए। स्थानीय लोगों का कहना था कि दंगाई बाहर से आए थे। इन दंगों के मामले में दिल्ली पुलिस ने कई लोगों पर FIR दर्ज की है।


k

फोटो क्रेडिट: twitter



अब दिल्ली पुलिस ने दंगाइयों की धरपकड़ के लिए आम लोगों और मीडियाकर्मियों से एक 'खास' अपील की है। दिल्ली पुलिस ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर एक फोटो पोस्ट किया है। फोटो के साथ कैप्शन में लिखा है, 'अपील।' फोटो में लिखा है,

'दिल्ली पुलिस दिल्ली के निवासियों तथा मीडिया कर्मियों से उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुए दंगों की फुटेज/फोटो या अन्य संबंधित जानकारी भेजने के लिए सहयोग का अनुरोध करती है जो कि दंगों की घटना की जांच में दिल्ली पुलिस के लिए सहायक होगी। इन्हें यहां साझा करें।'

साथ में दिल्ली पुलिस ने कुछ नंबर्स जारी किए हैं। अगर कोई दंगों से संबंधी जानकारी व्हाट्सऐप पर भेजना चाहे तो वह 8750871243 पर मेसेज या फोटो सेंड कर सकता है। इसके अलावा अगर कोई बयान दर्ज करवाना चाहे तो वह 8750871221, 8750871227, 22829334 और 22829335 पर फोन भी कर सकता है। मेल करने के लिए [email protected] मेल आईडी दी गई है।


इसके अलावा अगर कोई अपने सबूत पोस्ट करना चाहे तो 'पुलिस आयुक्त दिल्ली, पोस्ट बॉक्स नंबर- 171, जीपीओ, नई दिल्ली पर भेज सकते हैं। साथ में दिल्ली पुलिस ने सुनिश्चित किया है कि किसी तरह की मदद करने वाले शख्स की पहचान गोपनीय रखी जाएगी।


मालूम हो, 23 फरवरी की शाम से नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली के जाफराबाद से शुरू हुई हिंसा ऐसी फैली कि आसपास के सीलमपुर, करावल नगर, मौजपुर सहित कई इलाकों को अपनी चपेट में ले लिया। हिंसा ऐसी कि आसपास के लोग कई दिनों तक घरों से बाहर नहीं निकल सके। दंगे भड़काने और आईबी अधिकारी अंकित शर्मा की हत्या के आरोप में AAP से निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन के साथ उसके तीन साथियों को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है।


Montage of TechSparks Mumbai Sponsors