न्यूयॉर्क सिटी में भी दिवाली पर स्कूल रहा करेंगे बंद, जानें कब से लागू हो रहा बदलाव

यह निर्णय लंबे समय से लंबित था और यह फैसला बच्चों को रोशनी के त्योहार के बारे में जानने के लिए प्रोत्साहित करेगा.

न्यूयॉर्क सिटी में भी दिवाली पर स्कूल रहा करेंगे बंद, जानें कब से लागू हो रहा बदलाव

Friday October 21, 2022,

3 min Read

अमेरिका के न्यूयॉर्क शहर में 2023 से दिवाली पर स्कूलों में सार्वजनिक अवकाश रहेगा. न्यूयॉर्क शहर के मेयर एरिक एडम्स ने कहा कि यह महत्वपूर्ण निर्णय शहर के समावेश के महत्व के बारे में एक संदेश देता है. उन्होंने कहा कि यह निर्णय लंबे समय से लंबित था और यह फैसला बच्चों को रोशनी के त्योहार के बारे में जानने के लिए प्रोत्साहित करेगा. न्यूयॉर्क एसेंबली की सदस्य जेनिफर राजकुमार और न्यूयॉर्क सिटी स्कूल के चांसलर डेविड बैंक्स के साथ एडम्स ने गुरुवार को कहा कि राज्य को बेहतर तरीके से कैसे चलाएं, इस मुद्दे के इर्द गिर्द कई कैंपेन्स पर बातचीत के दौरान उन्होंने दिवाली के बारे में काफी कुछ जाना और यह भी जाना कि इस त्योहार का मतलब क्या है.

उन्होंने कहा कि न्यूयॉर्क के स्कूलों में दिवाली को छुट्टी घोषित करके हम उन अनगिनत लोगों को एक स्पष्ट संदेश देना चाहते हैं जो इस उत्सव के महत्व को समझते हैं. आगे कहा कि साथ ही यह एक शैक्षिक क्षण है क्योंकि जब हम दिवाली को स्वीकार करते हैं, तो हम बच्चों को दिवाली के बारे में जानने के लिए प्रोत्साहित करने जा रहे हैं. हम उन्हें इस बारे में बात करने के लिए प्रोत्साहित करने जा रहे हैं कि रोशनी का त्योहार क्या है, और कैसे अपने भीतर प्रकाश को जागृत किया जाए.

न्यूयॉर्क में भारत के महावाणिज्य दूत रणधीर जायसवाल ने दिवाली के मौके पर स्कूलों में सार्वजनिक अवकाश घोषित करने के लिए एडम्स को धन्यवाद दिया. उन्होंने कहा कि यह भारतीय-अमेरिकी समुदाय की लंबे समय से मांग थी. यह फैसला न्यूयॉर्क शहर में विविधता और बहुलवाद का प्रतीक है. राजकुमार ने कहा कि लोग कहते थे कि न्यूयॉर्क सिटी स्कूल कैलेंडर में दिवाली की छुट्टी के लिए पर्याप्त जगह नहीं है.

हाल ही में पेश हुआ था विधेयक

इस हफ्ते, राजकुमार ने राज्य की राजधानी में विधेयक पेश किया था, जो स्कूल कैलेंडर में दिवाली को भी स्थान देता है. राजकुमार अभी तक की पहली दक्षिण एशियाई-अमेरिकी महिला हैं, जिन्हें न्यूयॉर्क में किसी सरकारी कार्यालय के लिए चुना गया है. उन्होंने आगे कहा, 'मुझे यह कहते हुए गर्व हो रहा है कि हमारा समय आ गया है. हिंदू, बौद्ध, सिख और जैन धर्मों के 200,000 से अधिक न्यू यॉर्कर को पहचानने का समय आ गया है, जो रोशनी का त्योहार दिवाली मनाते हैं."

ईद और चंद्र नव वर्ष जैसे सार्वजनिक अवकाशों की पहचान

एडम्स ने कहा, "हमारे आस-पास काफी अंधेरा है, जिससे हम डील करते हैं. ऐसे में हम अपने आस-पास भारी मात्रा में मौजूद प्रकाश को महसूस करने में असफल रहते हैं. और जब हम दिवाली को स्वीकार करने के लिए इस अवधि को चुनते हैं, तो हम उस प्रकाश को स्वीकार कर रहे हैं जो हमारे भीतर है. प्रकाश जो स्पष्ट रूप से अंधकार को दूर भगा सकता है और इसलिए यह इतना महत्वपूर्ण है." एडम्स ने कहा कि शहर ने ईद और चंद्र नव वर्ष जैसे सार्वजनिक अवकाशों की पहचान की है.


Edited by Ritika Singh