सैलरी के बजाय रिमोट वर्किंग को प्राथमिकता दे रहे हैं एम्पलॉई: Indeed सर्वे

जॉब सर्च वेबसाइट Indeed India के इस सर्वे में 561 नियोक्ताओं और 1,249 नौकरी चाहने वालों सहित कुल 1,810 व्यक्तियों से बात की गई

सैलरी के बजाय रिमोट वर्किंग को प्राथमिकता दे रहे हैं एम्पलॉई: Indeed सर्वे

Sunday July 23, 2023,

2 min Read

कोविड-19 महामारी ने कर्मचारियों के काम करने के तरीके को बदल दिया है. बड़ी संख्या में कर्मचारी रिमोट वर्किंग यानी कहीं भी बैठकर काम करने की लचीली व्यवस्था को वेतन से अधिक प्राथमिकता दे रहे हैं.

विशेषज्ञों का मानना है कि इसके साथ ही ऑफिस की जगह घर या किसी अन्य स्थान से काम करने की अनुमति देने से कंपनियों को प्रतिभावान कर्मचारी पाने और उन्हें कंपनी में बनाए रखने में मदद मिल रही है.

हाल ही में प्रकाशित Indeed India के ‘द जॉब सर्च प्रोसेस: ए लुक फ्रॉम द इनसाइड आउट’ टाइटल वाले एक सर्वे के अनुसार, दो-तिहाई लोगों ने मिलीजुली व्यवस्था या रिमोट वर्किंग को प्राथमिकता दी है. इनमें से 71 फीसदी उत्तरदाताओं का मानना है कि उन्होंने नौकरी खोजते समय घर से काम करने की आजादी, काम के घंटों में लचीलापन और आवश्यकतानुसार ब्रेक लेने की सुविधा को प्राथमिकता दी.

जॉब सर्च वेबसाइट Indeed India के इस सर्वे में 561 नियोक्ताओं और 1,249 नौकरी चाहने वालों सहित कुल 1,810 व्यक्तियों से बात की गई. सर्वे में 63 फीसदी नौकरी चाहने वालों ने मिलीजुली व्यवस्था यानी घर और ऑफिस दोनों जगह से काम करने की सुविधा को प्राथमिकता दी, जबकि 51 फीसदी कंपनियों ने भी अपने संचालन में इस तरह के लचीलेपन की पेशकश की.

यह भी पढ़ें
अगले सप्ताह खुलेगा Yatharth Hospital का IPO, जानिए शेयरों की कीमत...


Edited by रविकांत पारीक