क्रिप्टो मार्केट पर संकट का साया, आ सकते हैं और भी बुरे दिन: IMF

0 CLAPS
0

क्रिप्टो मार्केट पर संकट के काले बादल गहराते जा रहे हैं. ऐसे में निवेशकों के लिए एक और बुरी ख़बर है. हाल ही में इंटरनेशनल मॉनिटरी फंड (IMF) की ओर से क्रिप्टो मार्केट को लेकर एक बयान आया है. इंटरनेशनल मॉनिटरी फंड में मॉनिटरी और कैपिटल मार्केट के डायरेक्टर टोबिआस एड्रियन (Tobias Adrian) ने कहा है कि क्रिप्टो के हाल अभी और भी बुरे हो सकते हैं. उन्होंने एक बयान में यह बात कही है कि आने वाले समय में कुछ क्रिप्टो प्रोजेक्ट्स पर बड़ी गाज गिर सकती है और कई प्रोजेक्ट्स फेल भी हो सकते हैं.

Tobias Adrian ने Yahoo! Finance को दिए एक इंटरव्यू में कहा है कि क्रिप्टोकरेंसी सेक्टर के हाल आने वाले समय में और बुरे हो सकते हैं. पिछले दिनों TerraUSD के क्रैश होने के बाद से ही क्रिप्टोकरेंसी मार्केट को जैसे नजर लग गई. उसके बाद से मार्केट में गिरावट आनी शुरू हो गई और यह सिलसिला अभी तक जारी है. हालांकि, पिछले कुछ दिनों में निवेशकों को राहत की सांस मिली है क्योंकि कीमतों में कुछ सुधार आना शुरू हुआ है. लेकिन IMF के डायरेक्टर ने निवेशकों की इस उम्मीद पर फिर से चोट कर दी है.

एड्रिआन ने कहा कि आने वाले समय में कुछ और क्रिप्टो प्रोजेक्ट्स क्रैश होने की संभावना है. उन्होंने कहा कि फिएट मनी के सहारे से चल रहे स्टेबल कॉइन्स के लिए आने वाला समय ठीक नहीं है. उन्होंने खास तौर पर इसमें Tether का जिक्र किया. Tether अग्रणी स्टेबल कॉइन जारीकर्ता है. हालांकि, एड्रिआन ने ये भी कहा कि कुछ स्टेबल कॉइन ऐसे भी हैं जिनके लिए ऐसा कोई खतरा पैदा होने की संभावना नहीं है.

इसके आगे IMF के डायरेक्टर ने कहा कि अमेरिकी अर्थव्यवस्था में मंदी का दौर छाया हुआ है. ऐसे में बिकवाली अधिक तीव्रता पकड़ सकती है और आने वाले समय में क्रिप्टो मार्केट में तेज बिकवाली भी देखी जा सकती है. इनफ्लेशन को रोकने के लिए सेंट्रल बैंक फिर से दरों में बढ़ोत्तरी की घोषणा कर सकता है, ऐसी संभावना बनी हुई है.

Massachusetts की सिनेटर एलीजबेथ वॉरेन (Elizbeth Warren) ने हाल ही में अमेरिकी फेडरल रिजर्व की एग्रेसिव मॉनिटरी पॉलिसी के बारे में कटाक्ष कर कहा था कि यह पॉलिसी एक भयानक मंदी का कारण बन सकती है.

वहीं, अगर बात की जाए आज के मार्केट के हालात की तो लगभग एक हफ्ते के बाद बिटकॉइन की कीमत में आज बड़ी बढ़त देखी गई है. बिटकॉइन $23,000 (लगभग 18.4 लाख रुपये) के पार जा चुका है. पिछले 24 घंटों में इसकी कीमत में 3.54 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी हुई है और यह अब 24 हजार डॉलर के करीब पहुंच चुका है. भारतीय एक्सचेंज कॉइनस्विच कुबेर पर बिटकॉइन की कीमत 24,240 डॉलर यानि कि लगभग 19.4 लाख रुपये पर ट्रेड कर रही है जो कि पिछले 24 घंटों में 2.69 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी है. 

ग्लोबल क्रिप्टो मार्केट कैपिटलाइजेशन 4.44 प्रतिशत से बढ़ गया है. Solana, Polygon, TRON, Cardano, Chainlink जैसे सभी पॉपुलर ऑल्टकॉइन्स में आज बढ़त देखी गई है. जबकि Monero में 3.34 प्रतिशत का नुकसान दर्ज हुआ है. ऐसे में देखना होगा कि मार्केट क्या रूख लेता है?

Latest

Updates from around the world