गूगल से नाता तोड़कर खुद का ऑपरेटिंग सिस्टम लांच करने की तैयारी में फेसबुक

गूगल से नाता तोड़कर खुद का ऑपरेटिंग सिस्टम लांच करने की तैयारी में फेसबुक

Sunday December 22, 2019,

3 min Read

इस समय डेटा लीक मामले पर पूरी दुनिया में तहलका मचा हुआ है। विश्व के 26.7 करोड़ से अधिक फेसबुक यूजर्स के डेटा और गूगल से बड़ी संख्या में पासवर्ड लीक हो जाने के सनसनीखेज घटनाक्रम के बीच फेसबुक कंपनी गूगल पर अपनी निर्भरता खत्म करने के लिए खुद का ऑपरेटिंग सिस्टम लांच करने की तैयारी में है।  

त

फोटो क्रेडिट: सोशल मीडिया

इस समय फेसबुक और गूगल से करोड़ों यूजर्स के डेटा लीक होने से, जहां पूरी दुनिया में तहलका मचा हुआ है, फेसबुक कंपनी गूगल पर अपनी निर्भरता कम करने के लिए खुद का ऑपरेटिंग सिस्टम लांच करने की तैयारी में है।


जिस बात से पूरी दुनिया में तहलका मचा है, वह है, साइबर सिक्यॉरिटी फर्म कॉम्प्रिटच और रिसर्चर बॉब डियाचेंको के मुताबिक, फेसबुक के 26.7 करोड़ से अधिक यूजर्स की पर्सनल का डेटा लीक हो जाना।


बताया गया है कि

267,140,436 फेसबुक यूजर्स की आईडी, फोन नंबर और पूरे नाम एक डेटाबेस में पाए गए हैं। रिपोर्ट में आगाह किया गया है कि ऐसे यूजर्स को स्पैम मेसेज या फिशिंग स्कीम्स से टारगेट किया जा सकता है।




उधर, कई भारतीय यूजर्स उस समय हैरान रह गए, जब उनके मोबाइल और डेस्कटॉप पर डेटा लीक होने का अलर्ट मिला। यह अलर्ट गूगल ने उस समय जारी किया, जब यूजर्स ने क्रोम बाउजर पर कुछ खास तरह की प्रभावित वेबसाइट्स पर विजिट किया।

गूगल ने अपने यूजर्स को जानकारी दी है कि उनके लीक डेटा में उनके पासवर्ड भी हैं। यह अलर्ट भारतीय यूजर्स के मोबाइल, लेपटॉप और डेस्कटॉप पर जारी किया गया, जिसमें उनसे तुरंत अपना पासवर्ड बदलने के लिए कहा गया है। प्रभावित यूजर्स में एक मीडिया संस्थान के लोग भी शामिल हैं। फेसबुक डेटा लीक मामले में अभी यह साफ नहीं कि कितनी संवेदनशील इंफॉर्मेशन उजागर हुई हैं।


अनुमान है कि फेसबुक यूजर्स की पर्सनल इंफॉर्मेशंस को स्क्रैपिंग की अवैध प्रक्रिया के जरिए इकट्ठा किया गया होगा। इस ऑनलाइन हैकर फोरम का नाता एक क्राइम ग्रुप से है।


इस बीच, फेसबुक ने कहा है कि

वह उस रिपोर्ट की पड़ताल कर रहा है, जिसमें कहा गया है कि 26.7 करोड़ से ज्यादा फेसबुक यूजर्स के नाम, फोन नंबर और आईडी को ऑनलाइन उजागर किया गया। हालांकि, अब डेटाबेस तक एक्सेस को हटा दिया गया है।


जहां तक फेसबुक कंपनी के खुद के ऑपरेटिंग सिस्टम लांच करने की बात है, अभी उसकी तारीख तो सामने नहीं आई है लेकिन, एक रिपोर्ट के मुताबिक, संभव है कि फेसबुक का फ्यूचर हार्डवेयर गूगल के सॉफ्टवेयर पर निर्भर न रहे, इससे फेसबुक पर गूगल का कंट्रोल खत्म हो सकता है।


Daily Capsule
Crickpe’s cash rewards raise concerns
Read the full story