FAME II सब्सिडी: सरकार इन चार ई-स्कूटर कंपनियों को देगी 500 करोड़ रुपये

सरकार ने कुछ साल पहले इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए 10,000 करोड़ रुपये की FAME II योजना की घोषणा की थी, खासकर सार्वजनिक परिवहन के लिए इस्तेमाल होने वाले वाहनों के लिए.

सरकार ने FAME II योजना के तहत चार कंपनियों - ओला इलेक्ट्रिक (Ola Electric), एथर (Ather Energy), टीवीएस (TVS Motor Company) और हीरो मोटोकॉर्प (Hero MotoCorp) को 500 करोड़ रुपये से अधिक की सब्सिडी जारी करने का फैसला किया है. यह ख़बर ऐसे समय में आई है जब इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर मैन्युफैक्चरिंग कंपनियों ने चार्जर के बदले में अपने ग्राहकों को रिफंड देने का फैसला किया है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, भारी उद्योग मंत्रालय से ओला को करीब 370 करोड़ रुपये मिलेंगे, जोकि सब्सिडी की राशि में सबसे ज्यादा है. इसके बाद एथर के लिए लगभग 275 करोड़ रुपये होंगे. सरकारी सूत्रों ने TOI को बताया कि टीवीएस को 150 करोड़ रुपये से अधिक मिलने की संभावना है. जबकि हीरो मोटोकॉर्प के लिए तय किया जाने वाला सब्सिडी बिल 28-30 करोड़ रुपये होगा.

सूत्रों ने कहा कि शेष राशि, जो 288 करोड़ रुपये तक होती है, कंपनियों द्वारा उनके ग्राहकों को दिए गए रिफंड की डिटेल्स देने के बाद जारी की जाएगी. एथर को इलेक्ट्रिक टू व्हीलर के एथर 450X मॉडल के 95,000 खरीदारों को लगभग 140 करोड़ रुपये का रिफंड देना है. इसी तरह, ओला को सरकार द्वारा धनराशि जारी करने से पहले Ola S1 Pro के लगभग 1 लाख खरीदारों को लगभग 130 करोड़ का बिल चुकाना होगा.

सरकार ने कुछ साल पहले इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए 10,000 करोड़ रुपये की FAME II योजना की घोषणा की थी, खासकर सार्वजनिक परिवहन के लिए इस्तेमाल होने वाले वाहनों के लिए. हालाँकि, शिकायतों के मद्देनजर कंपनियों को भुगतान में देरी के कारण यह योजना संकट में पड़ गई. इस वित्त वर्ष में मंत्रालय 5,000 करोड़ रुपये के बिलों का निपटान करना चाहता है.

वहीं, बीते हफ्ते ख़बर आई थी कि ओला इलेक्ट्रिक 30 मार्च, 2023 तक Ola S1 Pro इलेक्ट्रिक स्कूटर खरीदने वाले लगभग 1 लाख ग्राहकों को लगभग 130 करोड़ रुपये का भुगतान करेगी.

यह भी पढ़ें
Ola Electric ग्राहकों को ईवी चार्जर के 130 करोड़ रुपये लौटाएगी