Brands
YSTV
Discover
Events
Newsletter
More

Follow Us

twitterfacebookinstagramyoutube
Yourstory

Brands

Resources

Stories

General

In-Depth

Announcement

Reports

News

Funding

Startup Sectors

Women in tech

Sportstech

Agritech

E-Commerce

Education

Lifestyle

Entertainment

Art & Culture

Travel & Leisure

Curtain Raiser

Wine and Food

Videos

Trash to Treasure: कचरे के इस्तेमाल पर इनोवेटिव हैकथॉन, जीतने वाले को सरकार देगी 3.6 लाख रुपये

यह विचारों का हैकाथन सभी मदों में 3.6 लाख रुपये तक के नकद पुरस्कार जीतने का मौका विद्यार्थियों को उपलब्ध कराने का अपनी तरह का इकलौता अवसर है.

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ‘मिशन लाइफ’ और सर्कुलर इकोनॉमी के लक्ष्य से प्रेरित होकर 14 मई 2023 को स्नातक और उससे ऊपर के विद्यार्थियों के लिए (वेस्ट टू वेल्थ आइडिएशन हैकथॉन) ‘अनुपयोगी को उपयोगी में बदलने के नवाचार’ विषय पर हैकाथॉन आयोजित कर रहा है. जिसके लिए पंजीकरण इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर किया जा सकता है. इस वेबसाइट पर योग्यता, प्रक्रिया और हैकथॉन से जुड़ी महत्वपूर्ण तिथियों के बारे में आप जानकारी हासिल कर सकते हैं.

दुनिया में कचरे के प्रबंधन की चुनौतियों को हल करने के लिए महाविद्यालय के छात्रों को अखिल भारतीय स्तर पर मंच उपलब्ध कराएगा. इसमें कई वर्ग जैसे (क) प्लास्टिक अपशिष्ट (ख) इलेक्ट्रॉनिक अपशिष्ट (ग) बैटरी अपशिष्ट और (घ) फसल अवशेष को रखा गया है. यह हैकथॉन उन्हें कचरे को निधि या उपयोगी वस्तुओं में बदलने के लिए नवाचार और अपशिष्ट प्रबंधन पर अपनी समझ बनाने में भी मदद करेगा.

यह विचारों का हैकाथन सभी मदों में 3.6 लाख रुपये तक के नकद पुरस्कार जीतने का मौका विद्यार्थियों को उपलब्ध कराने का अपनी तरह का इकलौता अवसर है. हैकाथॉन के दिन यानी 14 मई, 2023 (रविवार) को कचरे से संबंधित चार श्रेणियों में एक-एक समस्या सीपीसीबी यानी केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की वेबसाइट पर सुबह 09:00 बजे दी जाएगी. विद्यार्थियों से दिए गए प्रारूप में इसके निपटान से संबंधित अपने मौलिक विचार w2w.cpcb[at]gov[dot]in पर शाम 5:00 बजे तक ईमेल के माध्यम से भेज सकते हैं. पंजीकरण की अंतिम तिथि 12 मई 2023 (शुक्रवार) है.

समस्या के हर वर्ग में सुझाए गए उत्तम मौलिक विचार को 50,000, 25,000, 15,000 की नकद राशि प्रदान की जाएगी. इसके साथ ही चुने गए विचार को अपनाने हेतु औद्योगिक सहायता और केंद्रीय प्रदूषण कल्याण बोर्ड के वैज्ञानिकों का मार्गदर्शन भी प्राप्त होगा.

यह भी पढ़ें
सरकार ने MSMEs को राहत देने के लिए शुरू की ‘विवाद से विश्वास’ योजना; बजट में की थी घोषणा