मिल्क स्टार्टअप Puresh Daily ने सीड राउंड में जुटाए 1.2 करोड़ रुपये

रांची स्थित मिल्क स्टार्टअप अपने प्रोडक्ट बेस का विस्तार करने के लिए फंडिंग का उपयोग कम से कम 10 टीयर II शहरों में 20,000 ग्राहकों के लिए करेगा।

Sujata Sangwan

रविकांत पारीक

मिल्क स्टार्टअप Puresh Daily ने सीड राउंड में जुटाए 1.2 करोड़ रुपये

Monday April 12, 2021,

2 min Read

रांची स्थित Puresh Daily - जो 'भारत' में एंड-कस्टमर्स को डेयरी और ताजा कृषि उपज प्रदान करता है - ने शनिवार को कहा कि उसने अपने सीड फंडिंग राउंड में Alfa Ventures के धियानु दास से और Agility Venture Partners से 1.2 करोड़ रुपये जुटाए हैं।


Puresh Daily के फाउंडर मनीष पीयूष ने कहा, "हम इस सीड राउंड के दौरान निवेशकों के विश्वास से काफी उत्साहित हैं कि उन्होंने हमारे स्टार्टअप को ओवरसब्सक्राइब कर दिया है। इन फंड्स के साथ, हम अपने प्रोडक्ट बेस का विस्तार कम से कम 10 टीयर II शहरों के 20,000 ग्राहकों और विभिन्न उद्यमियों के साथ करेंगे।"


बिट्स और आईआईएम-पूर्व छात्र डेयरी स्टार्टअप के लिए मार्केटिंग और बिजनेस डेवलपमेंट भी संभालते हैं। दुनिया के विभिन्न हिस्सों में काम करने के बाद, पीयूष TATA ग्रुप में एक TAS अधिकारी के रूप में 14+ साल का लीडरशिप अनुभव रखते हैं।

ि

(L-R): मनीष पीयूष और आदित्य कुमार

मनीष पीयूष और आदित्य कुमार द्वारा 2019 में स्थापित, Puresh Daily दुग्ध उत्पादन के लिए एक सदस्यता प्रदान करता है, जो तीन शहरों - रांची, रामगढ़, और बोकारो में अपने आठ फ्रेंचाइजी खेतों से 1,200 ग्राहकों को प्रदान करता है।


स्टार्टअप एआई द्वारा संवर्धित मूल्य श्रृंखलाओं के माध्यम से कैमिकल-फ्री प्रोडक्ट्स भी प्रदान करता है। यह इसे ट्रेस करने योग्य लॉजिस्टिक, ग्रीन पैकेजिंग और स्मार्ट भुगतान विकल्प प्रदान करने की अनुमति देता है।


Puresh Daily के को-फाउंडर आदित्य कुमार ने कहा, "हम उम्मीद करते हैं कि आने वाले महीनों में फ़ार्म-टू-होम स्पेस में शानदार उछाल होगा। टाटा और रिलायंस जैसी बड़ी कंपनियां निवेश और अधिग्रहण के माध्यम से भी बाजार में प्रवेश कर रही हैं। रांची में हमारे व्यापार मॉडल को उकेरने से, हमने साबित कर दिया है कि 'भारत' के उपभोक्ता ऐसी सेवाओं के लिए प्रीमियम का भुगतान करने के लिए तैयार है।"


आदित्य, बिट्स के पूर्व छात्र स्टार्टअप के लिए टेक्नोलॉजी, फायनेंस और प्रोडक्ट डेवलपमेंट को संभालते हैं।


बिजनेस डेवलपमेंट, टेक्नोलॉजी और ब्रांड निर्माण में निवेश करने के लिए Puresh Daily नए फंड का उपयोग करेगा। आदित्य ने कहा, 'हम प्रोडक्ट्स और पैकेजिंग में इनोवेशन में अपना समय और संसाधन लगाना चाहते हैं।'


Agility Venture Partners के फाउंडर प्रशांत नारंग के अनुसार, "सबसे पहले, दूध एक मंदी से मुक्त व्यवसाय है, जो कोविड-19 समय में विकास करने में सक्षम है। यह अत्यधिक असंगठित है, जिसमें कई डेयरी फार्मों को अपग्रेड करने और बाजार तक पहुंचने की सख्त जरूरत है। उनके विचार में भारी क्षमता है।”