एंजेल नेटवर्क FAAD को 300 करोड़ रुपये का अल्टरनेट इन्वेस्टमेंट फंड लॉन्च करने के लिए SEBI ने दी मंजूरी

By रविकांत पारीक
December 12, 2022, Updated on : Mon Dec 12 2022 13:16:52 GMT+0000
एंजेल नेटवर्क FAAD को 300 करोड़ रुपये का अल्टरनेट इन्वेस्टमेंट फंड लॉन्च करने के लिए SEBI ने दी मंजूरी
FAAD द्वारा एंजेल नेटवर्क को वर्ष 2019 में लॉन्च किया गया था. FAAD ने 60+ स्टार्टअप्स में 75 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश किया है. इसकी कुछ पोर्टफोलियो कंपनियों में BluSmart, Battery Smart, Hesa, WCube, ClearDekho, Huviair और Beyond Snacks शामिल हैं.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

अर्ली-स्टेज इन्वेस्टर नेटवर्क (शुरुआती चरण के स्टार्टअप्स में निवेश करने वाली कंपनी) Faad को कैटेगरी 1 के 300 करोड़ रुपये के वैकल्पिक निवेश कोष (Alternate Investment Funds - AIF) के लिए सेबी (SEBI) ने मंजूरी दे दी है. कंपनी आने वाले महीनों में सीरीज़ ए टेक्नोलॉजी कंपनियों के शुरुआती चरण के प्री-सीड में सेक्टरों में निवेश करेगा. FAAD हेल्थटेक, एग्रीटेक, डीप टेक और क्लीनटेक स्पेस पर विशेष ध्यान देने का इच्छुक है.


जबकि फंडिंग विंटर (फंडिंग मार्केट में गिरावट) ने ग्रोथ स्टेज कैपिटल को प्रभावित किया है, अर्ली-स्टेज स्टार्टअप में निवेश पर गौर करें तो प्री-सीरीज़ ए और सीरीज़ ए कंपनियों के लिए FY22 की पहली तिमाही में 2 बिलियन डॉलर का निवेश दर्ज हुआ है. हाल के नवंबर 2022 तक के फंडिंग डेटा के अनुसार, अधिकांश डील्स का नेतृत्व अर्ली-स्टेज की कंपनियों ने किया है.


FAAD द्वारा एंजेल नेटवर्क को वर्ष 2019 में लॉन्च किया गया था. FAAD ने 60+ स्टार्टअप्स में 75 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश किया है. कुछ पोर्टफोलियो कंपनियों में BluSmart, Battery Smart, Hesa, WCube, ClearDekho, Huviair और Beyond Snacks शामिल हैं.


FAAD को करण वर्मा (डायरेक्टर) और डॉ. दिनेश सिंह (डायरेक्टर) द्वारा सह-स्थापित किया गया है. आदित्य अरोड़ा 2018 में FAAD में सीईओ के रूप में शामिल हुए.


FAAD के को-फाउंडर और डायरेक्टर करण वर्मा ने कहा, "एंजल्स, HNIs (High Net-Worth Individuals) और VCs (Venture Capital) की एक नई लहर है जो मूल्यवर्धन में गहराई से विश्वास करते हैं कि टेक्नोलॉजी-बेस्ड इनोवेशन समाज में ला सकते हैं और हमेशा ऐसे उद्यमियों की तलाश में रहते हैं जो नेतृत्व कर सकें. जबकि स्टार्टअप इकोसिस्टम में फंडिंग विंटर के बारे में बहुत कुछ कहा गया है, जब अर्ली-स्टेज की कंपनियों की बात आती है, तो पूंजी समर्थन के लिए उत्साह बढ़ रहा है. FAAD नेटवर्क नेकनीयत निवेशकों को भी आकर्षित करता है जो सहायता और समर्थन करना चाहते हैं. हम AIF को लॉन्च करने के लिए तैयार हैं और इसे एक मजबूत ताकत के रूप में देखते हैं जो हमारे निवेशकों के बढ़ते नेटवर्क से संयुक्त ऊर्जा, समर्थन और पूंजी के साथ युवा स्टार्टअप को बढ़ावा देगा."


FAAD के को-फाउंडर और डायरेक्टर डॉ. दिनेश सिंह ने कहा, "FAAD प्री-सीरीज़ ए और सीरीज़ ए स्टार्टअप्स के लिए अपने व्यावसायिक विचारों को बनाने और विकसित करने के लिए बेहतरीन इन्वेस्टर नेटवर्क में से एक है. अर्ली-स्टेज आइडिया को फंडिंग और नेटवर्क सपोर्ट देना जारी रखने का कारण यह है कि समय के साथ-साथ इनोवेशन की क्वालिटी और नए ऑन्त्रप्रेन्योर्स की बिजनेस स्किल्स भी विकसित हुई है जो एंजल्स, HNIs और VCs के बीच शुरुआती दांव से न शर्माने के लिए बहुत अधिक विश्वास पैदा करता है.”


FAAD ने हाल ही में AIF लॉन्च करने के लिए SEBI से लाइसेंस प्राप्त किया है.


भारत, सिंगापुर, दुबई, अमेरिका, ब्रिटेन और कनाडा में निवेशकों के समुदाय में 1600+ एंजेल्स, HNIs और VCs शामिल हैं.


नेटवर्क टेक्नोलॉजी कंपनियों में शुरुआती दांव लगाने वाले निवेशकों के लिए एक मजबूत स्क्रीनिंग मैकेनिज्म लाता है, जोखिमों को साझा करने के लिए सौदों पर एक निवेशक सिंडिकेट मुहैया करता है, पोर्टफोलियो विविधीकरण में सुधार करता है और अच्छे सौदों तक पहुंच प्रदान करता है. FAAD की पोर्टफोलियो कंपनियों में कुछ उल्लेखनीय को-इन्वेस्टर्स में Tiger Global, Blume Ventures, 9Unicorns, Chiratae Ventures, Orios Venture Partners, और Pentathlon Ventures शामिल हैं.