डॉलर और ब्याज दरों में तेजी के डर से तीन सप्ताह के निचले स्तर पर पहुंचा गोल्ड

By yourstory हिन्दी
October 19, 2022, Updated on : Wed Oct 19 2022 18:18:59 GMT+0000
डॉलर और ब्याज दरों में तेजी के डर से तीन सप्ताह के निचले स्तर पर पहुंचा गोल्ड
स्पॉट गोल्ड के दाम बुधवार को 0.6 फीसदी लुढ़कर 1,641.51 डॉलर प्रति औंस पर आ गए. इससे पहले 28 सितंबर को गोल्ड के दाम इस स्तर पर पहुंचे थे. यूएस गोल्ड फ्यूचर्स भी 0.6 फीसदी 1,646.20 डॉलर पर आ गए थे.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

ग्लोबल आर्थिक स्थितियों का असर गोल्ड की कीमतों पर भी पड़ रहा है. बुधवार को गोल्ड के दाम तीन सप्ताह के निचले स्तर पर पहुंच गए. दरअसल निवेशकों को डर है कि फेडरल बैंक एक बार फिर इंटरेस्ट रेट बढ़ा सकता है. इस चक्कर में अमेरिकी डॉलर और ट्रेजरी यील्ड में और उछाल नजर आया जिसका असर गोल्ड की कीमतों पर देखा गया.


स्पॉट गोल्ड के दाम 0.6 फीसदी लुढ़कर 1,641.51 डॉलर प्रति औंस पर आ गए. इससे पहले 28 सितंबर को गोल्ड के दाम इस स्तर पर पहुंचे थे. यूएस गोल्ड फ्यूचर्स भी 0.6 फीसदी 1,646.20 डॉलर पर आ गए थे. डॉलर इंडेक्स भी 0.2 फीसदी ऊपर पहुंच गया, वहीं अमेरिका का बेंचमार्क 10 ईयर ट्रेजरी यील्ड उछलकर 14 साल के हाई पर ट्रेड कर रहा है.


रॉयटर्स की रिपोर्ट में एक इंडिपेंडेंट एनालिस्ट रॉस नॉरमन ने कहा, ‘एक बार फिर चुनौतियां आ रही हैं और इस बार ज्यादा परेशानियों के साथ. डॉलर इंडेक्स तो पहले ही रेकॉर्ड स्तर पर ट्रेड कर रहा है. जबकि, 10 ईयर ट्रेजरी यील्ड 4 पर्सेंट के अहम लेवल पर आ गया है. गोल्ड अब 1620 डॉलर के लो लेवल तक पहुंच सकता है, जो इसने एक महीने पहल छुआ था.’


गोल्ड को अमूमन महंगाई के सामने सेफ असेट माना जाता है, मगर जब साथ में ब्याज दरें बढ़ाने का दौर होता है तो गोल्ड कुछ खास फायदा नहीं देता. मिनीपोलिस फेड प्रेजिडेंट नील काशकारी ने मंगलवार को कहा था कि अगर अमेरिका में महंगाई के हालात नहीं सुधरे तो अमेरिकी सेंट्रल बैंक को अपनी ब्याज दरों को 4.75 पर्सेंट के ऊपर ले जाना पड़ सकता है.


जब तक ये नहीं तय हो जाता कि फेड ब्याज दरों में कहां तक बढ़ोतरी करेगा तब तक गोल्ड की कीमतों में तेजी आना मुश्किल है. मगर कुछ जानकारों का मानना है कि जिस हिसाब से महंगाई बढ़ रही है उसमें लगता नहीं कि हाल फिलहाल में ब्याज दरों के थमना का सिलसिला रुकेगा. 


इस बीच रूस की फाइनैंस मिनिस्ट्री के अधिकारियों ने कहा है कि वो लोग शांघाई गोल्ड एक्सचेंज में रूस के स्थानीय रिफानरी से निकलने वाले गोल्ड बार को लिस्ट कराने के लिए बातचीत कर रहे हैं ताकि रूसी गोल्ड ट्रेड को थोड़ा सपोर्ट मिल सके.


उधर सिल्वर का भी वही हाल है. स्पॉट सिल्वर 1.2 फीसदी गिरकर 18.54 डॉलर प्रति औंस पर आ गया. प्लैटिनम भी 2 फीसदी से ज्यादा फिसलकर 888.49 डॉलर पर और पैलेडियम 0.1 फीसदी नीचे आकर 2,010.38 डॉलर पर आ गया है.


Edited by Upasana

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close