Google की पैरेंट कंपनी 10,000 और HP 6,000 कर्मचारियों को निकालने की तैयारी में

By रविकांत पारीक
November 23, 2022, Updated on : Thu Nov 24 2022 11:11:01 GMT+0000
Google की पैरेंट कंपनी 10,000 और HP 6,000 कर्मचारियों को निकालने की तैयारी में
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

Twitter, Meta, Microsoft और Amazon के बाद में अब Google भी कर्मचारियों को नौकरी से निकालने की योजना बना रही है. दुनियाभर में चल रही मंदी की वजह से अबतक कई कंपनियां कर्मचारियों की छंटनी कर चुकी हैं. HP Inc. वित्तीय वर्ष 2025 के अंत तक 6,000 नौकरियों में कटौती कर सकती है.


एक रिपोर्ट के मुताबिक, गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट (Alphabet) अब खराब प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखाएगी. कंपनी ने 10,000 कर्मचारियों की लिस्ट बना ली है. यह गूगल में काम करने वाले सिर्फ 6 फीसदी कर्मचारी हैं.


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गूगल ने अपने कर्मचारियों की परफॉर्मेंस को देखने के लिए एक खास परफॉर्मेंस रेटिंग सिस्टम बनाया है, जिसके तहत ही कर्मचारियों की परफॉर्मेंस को मापा जाएगा. इसी सिस्टम के आधार पर कर्मचारियों को निकाला जाएगा.


इस नए परफॉर्मेंस रेटिंग सिस्टम को कर्मचारियों के मैनेजरों को नए साल की शुरुआत तक मिल जाएगा. इसके बाद में मैनेजर इसके हिसाब से रेटिंग देकर जो भी नॉन परफॉर्मिंग कर्मचारी होंगे उनको बाहर का रास्ता दिखाएंगे. इसके साथ ही उनके मैनेजर उनको बोनस और स्टॉक देने से भी मना कर सकते हैं.


टीम मैनेजर्स से 'रैंकिंग और प्रदर्शन सुधार योजना' के तहत कर्मचारियों का मूल्यांकन करने के लिए कहा गया है. छंटनी की शुरुआत 2023 के प्रारंभ में हो सकती है.


गूगल और अल्फाबेट के सीईओ सुंदर पिचाई ने कुछ महीने पहले इसका संकेत दिया था. उन्होंने कहा था कि एक कंपनी के रूप में Google मानता है कि जब आपके पास पहले की तुलना में कम संसाधन होते हैं, तो आपको काम करने के लिए सही चीजों को प्राथमिकता देनी चाहिए. ऐसे में यह देखना पड़ता है की क्या आपके कर्मचारी वास्तव में प्रोडक्टिव हैं'.


गूगल ने पिछली तिमाही में तेजी से हायरिंग की और ढेरों कर्मचारी Google से जुड़े हैं. एक्सपर्ट्स पहले भी कंपनी को इसकी तेजी से बढ़ती वर्कफोर्स और उसकी सैलरी से जुड़ी चेतावनी देते रहे थे. अरबपति इन्वेस्टर क्रिस्टोफर हॉन ने दावा किया था कि गूगल अपने कर्मचारियों को इंडस्ट्री के मुकाबले ज्यादा भुगतान कर रही है और जरूरत से ज्यादा कर्मचारी हायर कर रही है.


टेक कंपनी ने पहले घोषणा की थी कि इसकी ओर से साल की आखिरी तिमाही में हायरिंग की प्रक्रिया धीमी कर दी जाएगी. हालांकि, मौजूदा हालातों के चलते इस कंपनी को सामान्य स्थितियों से करीब तीन गुना कर्मचारियों को निकालना पड़ रहा है.


आपको बता दें कंपनी की ओर से इस बारे में अभी तक कोई भी अधिकारिक जानकारी नहीं दी गई है. कंपनी में इस समय कुल कर्मचारियों की संख्या 1,87,000 है. वहीं, कंपनी ने सितंबर तिमाही में 13.9 अरब डॉलर का शुद्ध मुनाफा कमाया है.


अमेरिकी सिक्योरिटिज एंड एक्सचेंज कमीशन (SEC) फाइलिंग के मुताबिक अल्फाबेट में काम करने कर्मचारी का औसत वेतन 2,95,884 डॉलर है. अमेरिकी अर्थव्यवस्था पर संकट और मंदी की आशंका के चलते 2022 की तीसरी तिमाही में अल्फाबेट का मुनाफा 27 फीसदी घटकर 13.9 अरब डॉलर रहा है. जबकि रेवेन्यू 6 फीसदी बढ़कर 69.1 अरब डॉलर रहा है. 


रिपोर्ट के मुताबिक जिन लोगों को निकाला जाना उनमें से कुछ लोगों को अल्फाबेट ने कंपनी में नई भूमिका में आवेदन करने के लिए 60 दिनों का समय दिया है. गूगल ने नई हायरिंग पर भी रोक लगा दी है. 

HP में 6000 नौकरियों में कटौती

एचपी इंक ने मंगलवार को कहा कि वित्तीय वर्ष 2025 के अंत तक 6,000 नौकरियों में कटौती की जा सकती है. यह इसकी ग्लोबल वर्कफोर्स का लगभग 12% है. ख़बर ऐसे समय में आई जब पर्सनल कंप्यूटर और लैपटॉप की बिक्री घट रही है क्योंकि दुकानदार बजट को कड़ा कर रहे हैं.


पीसी निर्माता ने भी पहली तिमाही के लिए उम्मीद से कम लाभ का अनुमान लगाया है क्योंकि उसे उपभोक्ता और वाणिज्यिक मांग दोनों में नरमी की उम्मीद है.


कंपनी के चीफ़ फाइनेंस ऑफिसर मैरी मायर्स ने कहा, "वित्त वर्ष 22 में हमने जो हालिया चुनौतियां देखी हैं, उनमें से कई वित्तीय वर्ष 23 में जारी रहेंगी."


एचपी का अनुमान है कि वित्तीय वर्ष 2023 में लगभग 600 मिलियन डॉलर के साथ पुनर्गठन और अन्य शुल्कों से संबंधित श्रम और गैर-श्रम लागत में लगभग 1.0 बिलियन डॉलर खर्च होंगे और शेष अगले दो वर्षों के बीच विभाजित होंगे.


कंपनी, जो लगभग 50,000 लोगों को रोजगार देती है, ने कहा कि यह 4,000-6,000 कर्मचारियों का निकाल सकती है.

1100 लोगों ने इस स्टोरी को पसंद किया

4000 कर्मचारियों को नौकरी से निकाल रही Cisco