‘या तो परफॉरमेंस सुधारें या छंटनी के लिए तैयार रहें’, Google की अपने इंप्लॉइज को खरी-खरी

By yourstory हिन्दी
August 17, 2022, Updated on : Wed Aug 17 2022 05:57:15 GMT+0000
‘या तो परफॉरमेंस सुधारें या छंटनी के लिए तैयार रहें’, Google की अपने इंप्लॉइज को खरी-खरी
गूगल कर्मचारी छंटनी से डर रहे हैं क्योंकि कंपनी ने चुपचाप इस महीने अपनी हायरिंग फ्रीज को बिना किसी घोषणा के एक्सटेंड कर दिया.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

हो सकता है कि जल्द ही आपको Googleद्वारा छंटनी किए जाने की खबर सुनने को मिल जाए. रिपोर्ट हैं कि गूगल एग्जीक्यूटिव्स ने कर्मचारियों को चेतावनी दी है कि अगर चीजें उम्मीद से खराब रहीं तो इसका नतीजा छंटनी के रूप में सामने आ सकता है. IANS की रिपोर्ट में कहा गया है कि गूगल एग्जीक्यूटिव्स ने कर्मचारियों को चेताया है कि या तो परफॉर्मेंस अच्छी करें या फिर छोड़कर जाने के लिए तैयार रहें. अगर अगली तिमाही में कमाई अच्छी नहीं हुई तो छंटनी होगी.


अन्य तकनीकी कंपनियों ने या तो कर्मचारियों की छंटनी की है या मौजूदा आर्थिक मंदी में धीमी गति से काम पर रखा है, उनमें लिंक्डइन, मेटा, ओरेकल, ट्विटर, एनवीडिया, स्नैप, उबर, स्पॉटिफाई, इंटेल और सेल्सफोर्स शामिल हैं.


इनसाइडर द्वारा देखे गए एक कंपनी संदेश में, गूगल क्लाउड सेल्स लीडरशिप ने कर्मचारियों को सेल्स प्रॉडक्टिविटी और सामान्य प्रॉडक्टिविटी के ओवरऑल एग्जामिनेशन के साथ यह धमकी दी है. द न्यूयॉर्क पोस्ट की रिपोर्ट के अनुसार, गूगल कर्मचारी छंटनी से डर रहे हैं क्योंकि कंपनी ने चुपचाप इस महीने अपनी हायरिंग फ्रीज को बिना किसी घोषणा के एक्सटेंड कर दिया. कंपनी ने अब कथित तौर पर कर्मचारियों को अच्छे परिणाम नहीं देने पर छंटनी की चेतावनी दी है.

क्या कहना है सीईओ का

अल्फाबेट इंक और गूगल के सीईओ सुंदर पिचई (Sundar Pichai) ने पिछले महीने के अंत में कर्मचारियों से कहा था कि उन्हें भयंकर आर्थिक बाधाओं के कारण प्रॉडक्टिविटी में सुधार करना चाहिए. पिचई ने कहा था कि चिंता इस बात को लेकर है कि समग्र रूप से हमारी प्रॉडक्टिविटी उस स्तर पर नहीं है, जहां हमारे हेड काउंट के हिसाब से इसे होना चाहिए. गूगल ने जुलाई में अपनी हेडकाउंट जरूरतों की समीक्षा करने और भविष्य की कार्रवाई के बारे में निर्णय लेने के लिए दो सप्ताह के लिए हायरिंग पर रोक लगा दी थी. कंपनी ने इससे पहले बाकी बचे साल के लिए हायरिंग को धीमा करने की घोषणा की थी.

अप्रैल-जून में आय उम्मीद से कमजोर

पिचाई के अनुसार, यह स्पष्ट है कि हम आगे और अधिक अनिश्चितता के साथ एक चुनौतीपूर्ण मैक्रो वातावरण का सामना कर रहे हैं. गूगल की मूल कंपनी अल्फाबेट ने अप्रैल-जून की अवधि के लिए उम्मीद से कमजोर आय और राजस्व की सूचना दी. पिछले साल की समान तिमाही में राजस्व वृद्धि 62 प्रतिशत से घटकर 13 प्रतिशत रह गई.


Edited by Ritika Singh