किताब न मिलने पर आईआईएम अहमदाबाद के छात्रों ने खुद ही लिख डाली किताब

By yourstory हिन्दी
January 28, 2020, Updated on : Thu Jan 30 2020 03:19:22 GMT+0000
किताब न मिलने पर आईआईएम अहमदाबाद के छात्रों ने खुद ही लिख डाली किताब
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

प्रॉडक्ट मैनेजमेंट पर टेक्स्टबुक न मिल पाने पर आईआईएम अहमदाबाद के छात्र अरुण नंदेवाल और उनके 20 अन्य साथियों ने इस विषय पर टेक्स्टबुक लिखने का फैसला लिया। 6 महीनों की मेहनत के बाद 125 पन्नों की यह किताब अब सबके सामने है।

आईआईएम अहमदाबाद

आईआईएम अहमदाबाद



आईआईएम अहमदाबाद के छात्रों ने टेक्स्टबुक न मिल पाने पर खुद ही टेक्स्टबुक लिख डालने का कारनामा कर दिखाया है। ये छात्र आईआईएम अहमदाबाद में  2018 से 2020 बैच के पीजीपी छात्र है। इस किताब को Futuristic Outlook to Product Management Industry Review Guide 2019 का नाम दिया गया है।


छात्रों को प्रॉडक्ट मैनेजमेंट पर टेक्स्टबुक की आवश्यकता थी, लेकिन उन्हे इस विषय पर सिर्फ एक ही किताब मिल सकी, जिसे आईआईटी मद्रास के पूर्व छात्र ने लिखा था। इस दौरान आईआईएम अहमदाबाद के छात्र अरुण नंदेवाल और उनके 20 अन्य साथियों ने इस विषय पर टेक्स्टबुक लिखने का फैसला लिया।


छात्रों ने अपनी किताब में हाल में हुए विकास जैसे ई-कॉमर्स वेबसाइट्स और कैब एग्रीग्रेटर्स समेत अन्य को शामिल किया है। गौरतलब है कि छात्रों की इस टीम ने पिछले साल जून के महीने में यह किताब लिखनी शुरू की थी। छात्रों ने 6 महीने का समय लेते हुए कुल 125 पन्नों की यह किताब लिख डाली।


छात्रों के अनुसार यह किताब शुरुआती दौर के लिए है। यह किताब नौकरी बदलने और इंटरव्यू की तैयारी करने में काम आएगी। इस किताब को लिखने वाले प्रत्येक छात्र को एक क्षेत्र में काम करने का अनुभव है।


यह किताब डाइनेमिक है, इसका मतलब यह हुआ कि किताब में समय-समय पर बदलाव होते रहेंगे। टीम का मानना है कि संस्थान में आने वाले सालों में जो छात्र आएंगे, वे इसे अपडेट करते रहेंगे। फिलहाल इस टेक्स्टबुक की अन्य बैचमेट्स द्वारा समीक्षा की जा रही है।


गौरतलब है कि आईआईएम अहमदाबाद भारत का श्रेष्ठ बिजनेस स्कूल है। इस संस्थान को एशिया रीज़न में दूसरा स्थान हासिल है, जबकि आईआईएम बेंगलुरु तीसरे और आईआईएम कोलकाता चौथे स्थान पर है। वैश्विक स्तर पर आईआईएम अहमदाबाद को 21वां स्थान हासिल है।