शेयर मार्केट में निवेशकों के 4.38 लाख करोड़ स्वाहा, 217 शेयरों ने देखी एक साल में सबसे बड़ी गिरावट

सोमवार को सेंसेक्स और निफ्टी 50 में 1.5% की गिरावट आई. अमेरिका के सिलिकॉन वैली बैंक (Silicon Valley Bank collapse) और सिग्नेचर बैंक (Signature Bank collapse) के दिवालिया होने का असर भारतीय शेयर बाजारों पर भी पड़ा है. आज के दिन, निवेशकों को बीएसई में ₹4.38 लाख करोड़ से अधिक का नुकसान हुआ. चौतरफा बिकवाली के चलते 217 शेयरों ने आज 52 हफ्तों का नया निचला स्तर छू लिया. हैवीवेट रिलायंस इंडस्ट्रीज भी उनमें से एक है.

यह ध्यान देने की जरूरत है कि, बाजार वर्तमान में पांच महीने के निचले स्तर पर हैं और लगातार तीन कारोबारी सत्रों में लाल रंग में बंद हुआ है.

बीएसई के आंकड़ों के अनुसार, सोमवार को सूचीबद्ध कंपनियों का कुल बाजार पूंजीकरण 258.56 लाख करोड़ रुपये से अधिक था. यह पिछले दिन के ₹262.94 लाख करोड़ की तुलना में ₹4.38 लाख करोड़ से कम है.

9 मार्च से सेंसेक्स और निफ्टी 50 दोनों लाल रंग में हैं. सिलिकन वैली बैंक के अचानक बंद होने से दुनिया भर के शेयर बाजारों पर असर पड़ा है, जिसके परिणामस्वरूप इक्विटी में बिकवाली का उन्माद पैदा हो गया है.

तीन कारोबारी सत्रों में, बीएसई-सूचीबद्ध इक्विटी मार्केट कैप ₹7.68 लाख करोड़ से अधिक गिर गया है. 8 मार्च को, जहां आखिरी बार घरेलु शेयर बाजार हरे रंग में थे, बीएसई-सूचीबद्ध कंपनियों का मार्केट कैप ₹266.24 लाख करोड़ था.

9 मार्च से 13 मार्च तक, सेंसेक्स 2,110.24 अंक और निफ्टी 50 600.1 अंक गिर गया.

सोमवार को सेंसेक्स 897.28 अंक या 1.52% की गिरावट के साथ 58,237.85 पर बंद हुआ. जबकि निफ्टी 50 258.60 अंक या 1.49% गिरकर 17,154.30 पर बंद हुआ. भारत का अस्थिरता सूचकांक लगभग 21% आसमान छू गया, जिससे यह एक वर्ष में सबसे बड़ा एकल-दिवसीय उछाल बन गया.

बीएसई पर, कुल 217 शेयरों ने 52-सप्ताह के निचले स्तर को छुआ. हैवीवेट RIL ने सोमवार को ₹ 2,275 के 52-सप्ताह के निचले स्तर पर पहुंचकर निवेशकों को गहरा झटका दिया.

13 मार्च तक जो प्रमुख शेयरों 52-सप्ताह के निचले स्तर हैं, वे हैं - बायोकॉन ₹216.7 पर; जिलेट ₹ 4,532.9 पर; जिंदल पॉली फिल्म्स ₹ 553.45; लौरस लैब्स ₹301.85 पर; मोतीलाल फाइनेंशियल सर्विसेज ₹578.3 पर; मुथूट फाइनेंस ₹925; नजारा टेक ₹483.05 पर; फाइजर ₹3,670 पर; पीवीआर ₹1,483.55 पर; रोसारी बायोटेक ₹ 593; और टाटा कंज्यूमर प्रोडक्ट्स ₹691.9 पर.

दूसरी ओर, बाजार में भारी मंदी के बावजूद 74 शेयरों ने 52-सप्ताह का नया उच्च स्तर छुआ. इनमें कुछ प्रमुख स्टॉक थे - हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स, कल्पतरु पावर, और कमिंस इंडिया आदि.