iThink Logistics और India Post ने ई-कॉमर्स डिलीवरी को बढ़ावा देने के लिए की साझेदारी

इंडिया पोस्‍ट और iThink Logistics के बीच इस महत्‍वपूर्ण सहयोग का लक्ष्‍य भारत में D2C स्‍टार्टअप्‍स और SMBs की ई-कॉमर्स लास्‍ट-माइल डिलीवरी की क्षमता को बेहतर बनाने के लिये इंडिया पोस्‍ट की व्‍यापक पहुँच का लाभ उठाना है.

iThink Logistics और India Post ने ई-कॉमर्स डिलीवरी को बढ़ावा देने के लिए की साझेदारी

Saturday October 14, 2023,

4 min Read

भारत के प्रमुख शिपिंग प्‍लेटफॉर्म्‍स में से एक, iThink Logistics ने देश के प्रमुख पोस्‍टल नेटवर्क इंडिया पोस्‍ट के साथ साझेदारी की है. इस गठबंधन की मदद से टेक्‍नोलॉजी को शामिल किया जाएगा, जो लास्‍ट-माइल डिलीवरी के पूरे माहौल को नयापन देगी. इस रणनीतिक साझेदारी से भारत में डायरेक्‍ट-टू-कंज्‍यूमर (D2C) स्‍टार्टअप्‍स और स्‍मॉल एण्‍ड मीडियम बिजनेसेस (SMBs) को बड़ा फायदा होगा.

इस सहयोग के केन्‍द्र में D2C व्‍यवसायों को अपनी पहुँच शहरी केन्‍द्रों से आगे बढ़ाने के लिये मजबूत करने का साझा मिशन है. दूसरे और तीसरे दर्जे के शहरों में ई-कॉमर्स की पहुँच 2022 में शानदार तरीके से 21.4% और 41.5% रही है. मार्केटप्‍लेस की बड़ी कंपनियों, जैसे कि फ्लिपकार्ट, मिंत्रा और मीशो ने इन क्षेत्रों में मजबूती से पहुँच बनाई है, लेकिन स्‍वतंत्र ई-कॉमर्स ब्राण्‍ड्स अक्‍सर सीमित उपयोगिता की चुनौती का सामना करते हैं.

iThink Logistics की अत्‍याधुनिक टेक्‍नोलॉजी और इंडिया पोस्‍ट की व्‍यापक पहुँच का संयोजन सीधे इस चुनौती से निपटता है. देश के दूर-दूर के क्षेत्रों में भी इंडिया पोस्‍ट की बेमिसाल पहुँच को iThink Logistics की अत्‍याधुनिक टेक्‍नोलॉजी और बेहतरीन सेवाओं से मिलाकर लॉजिस्टिक्‍स ऑपरेशंस में एक बहुत बड़ा बदलाव होगा. यह दो महत्‍वपूर्ण घटक D2C कंपनियों के लिये मायने रखते हैं, ताकि वे आज के तेज गति वाले व्‍यावसायिक वातावरण में तरक्‍की कर सकें.

iThink Logistics की को-फाउंडर ज़ैबा सारंग ने कहा, “हम इंडिया पोस्‍ट के साथ इस बेहतरीन साझेदारी को लेकर वाकई उत्‍साहित हैं. हमारे बीच हुआ सहयोग आइडिया एवं इनोवेशन का संयोजन करने का प्रतीक है, जिसमें हम इंडिया पोस्‍ट की व्‍यापक पहुँच एवं टेक्‍नोलॉजी की शक्ति से डायरेक्‍ट-टू-कंज्‍यूमर स्‍टार्टअप्‍स और स्‍मॉल एंड मीडियम बिजनेसेस को लॉजिस्टिक एक्‍सीलेंस के नये जमाने में बढ़ावा देंगे. इस गठजोड़ के साथ हम न सिर्फ भौगोलिक दूरियों को कम कर रहे हैं, बल्कि सभी आकार के बिजनेसेस को ई-कॉमर्स की पूरी क्षमता का फायदा उठाने के लिये मजबूत भी कर रहे हैं, जिससे कि उत्‍पादों का ग्राहकों तक पहुँचने का तरीका और ग्राहक अनुभव बदलेगा.”

इस व्‍यवस्‍था का एक शानदार पहलू है इकोनॉमिक डिलीवरीज निर्मित करने की क्षमता, खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में, जहाँ का लॉजिस्टिक्‍स इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर कम विकसित है. इंडिया पोस्‍ट का अनुभव और व्‍यापक नेटवर्क iThink Logistics की तकनीकी क्षमताओं से बखूबी मेल खाता है और एफिशिएंसी, निर्भरता के साथ ही ग्राहकों की बेहतर संतुष्टि का वादा करता है.

शिपमेंट्स का वॉल्‍यूम बढ़ने के साथ लॉजिस्टिकल से जुड़ी पूछताछ की संभावना भी बढ़ जाती है, जैसे कि 'WISMO' (Where is my order?) जिससे खरीदारों को खरीदारी के बाद एंग्‍ज़ाइटी हो सकती है. इस लिहाज से iThink Logistics‍ की अत्‍याधुनिक टेक्‍नोलॉजी महत्‍वपूर्ण है और कस्‍टमर सपोर्ट के लिये एक बेहतरी नजरिये को बढ़ावा देती है तथा खरीदारी के पूरे अनुभव को बेहतर बनाती है.

अमिताभ सिंह, पीएमजी, मेल्‍स एवं बीडी, महाराष्‍ट्र पोस्‍टल सर्कल, इंडिया पोस्‍ट ने कहा, “बदलाव लाने की इस कोशिश में इंडिया पोस्‍ट को iThink Logistics के साथ साझेदारी करने पर बड़ा गर्व है. दशकों में निर्मित हमारी सेवा की विरासत iThink Logistics की आगे की सोच रखने वाली तकनीकी दक्षता से मिलकर लॉजिस्टिक्‍स उद्योग में एक नये युग की शुरूआत कर रही है. यह सहयोग परंपरा और इनोवेशन का संगम है और भारत में हर टचपॉइंट तक पहुँचने के नये रोमांचक अवसर देता है. देश के कोने-कोने में फैला हमारा राष्‍ट्रव्‍यापी नेटवर्क iThink Logistics के अत्‍याधुनिक समाधानों के बिल्‍कुल अनुकूल है.”

इंडिया पोस्‍ट और iThink Logistics के बीच यह गठबंधन एक यादगार सहयोग है, जोकि देश में लास्‍ट-माइल डिलीवरी के ऑपरेशंस को बेहतरीन बनाने के लिये दोनों संस्‍थाओं की ताकत का इस्‍तेमाल करता है. ज्‍यादा पहुँच, ऑपरेशनल एफिशिएंसी, और बेजोड़ ग्राहक अनुभवों पर ध्‍यान देने के साथ यह साझेदारी ईकॉमर्स के विकसित हो रहे माहौल में, D2C स्‍टार्टअप्‍स और एसएमबी की ग्रोथ को प्रेरित करने के लिये तैयार है.

यह भी पढ़ें
साल के सबसे बड़े क्रिकेट इवेंट Swiggy लाया 'मैच डे मेनिया'; एक झलक खास ऑफर पर...


Edited by रविकांत पारीक