JioMart अब बेच रहा दैनिक उपयोग का सामान, इन चुनिंदा स्थानों पर शुरू की डिलीवरी

सोशल-मीडिया कंपनी फेसबुक के साथ एक सौदा हासिल करने के कुछ दिनों के भीतर, किराने के सामान के लिए RIL का ई-कॉमर्स ऐप - JioMart - आवश्यक वस्तुओं की डिलीवरी शुरू करने वाले प्लेटफॉर्म के साथ लाइव हो गया है।

JioMart अब बेच रहा दैनिक उपयोग का सामान, इन चुनिंदा स्थानों पर शुरू की डिलीवरी

Monday April 27, 2020,

2 min Read

सोशल-मीडिया कंपनी फेसबुक के साथ एक सौदा हासिल करने के चंद दिनों बाद, किराने के लिए RIL का ई-कॉमर्स ऐप - JioMart - नवी मुंबई, ठाणे और कल्याण जैसे चुनिंदा स्थानों में आवश्यक वस्तुओं की डिलीवरी शुरू करने वाले प्लेटफॉर्म के साथ लाइव हो गया है।


k

सांकेतिक चित्र (फोटो क्रेडिट: entrackr)


कंपनी द्वारा एक संदेश द्वारा इन स्थानों पर उपयोगकर्ताओं को सूचित किया गया था। आरआईएल की सहायक कंपनी रिलायंस जियो ने हाल ही में अमेरिका स्थित फेसबुक के साथ एक समझौता किया है जो भारत में व्हाट्सएप भी चलाता है। इस सौदे के साथ, रिलायंस जियो के पास अब लगभग 400 मिलियन व्हाट्सएप यूजर्स हैं और उम्मीद की जा रही है कि वह अपनी JioMart सेवाओं को आगे बढ़ाएगा।


विभिन्न मीडिया हाउसेस की रिपोर्ट्स के अनुसार,

"यूजर्स अब JioMart के साथ रजिस्टर करके और कॉन्टेक्ट्स में JioMart के मोबाइल नंबर को जोड़कर दैनिक उपयोग की वस्तुओं के लिए ऑर्डर दे सकते हैं। प्लेटफॉर्म तब व्हाट्सएप पर ग्राहकों के लिए एक लिंक भेजता है। JioMart अरबपति मुकेश अंबानी की एक बड़ी परियोजना है, जिसका उद्देश्य भारत की ई-कॉमर्स इंडस्ट्री को बदलना है।"


अपनी पहुँच को व्यापक बनाने के लिए, कंपनी ने फेसबुक के साथ एक सौदा किया जिसके द्वारा बाद में रिलायंस जियो में 43,574 करोड़ रुपये के निवेश के लिए 9.99% इक्विटी हिस्सेदारी प्राप्त हुई।


ग्राहकों द्वारा प्राप्त संदेश के अनुसार, JioMart के साथ रजिस्टर करने के लिए, ग्राहकों को मोबाइल नंबर, क्षेत्र, इलाके और सोसायटी का नाम जैसे विवरण प्रदान करने होते हैं। JioMart स्थानीय स्तर पर ऑर्डर पूरा करने के लिए ग्राहकों को पास के किराना स्टोर से जोड़ता है।


आरआईएल के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने सौदे को हासिल करने के बाद एक वीडियो बयान में कहा,

''बहुत निकट भविष्य में, JioMart - Jio का डिजिटल नया कॉमर्स प्लेटफॉर्म - और व्हाट्सएप लगभग 3 करोड़ छोटी भारतीय किराना दुकानों को अपने ग्राहकों के साथ डिजिटल रूप से लेन-देन करने का अधिकार देगा। फेसबुक के साथ, यह दर्शाता है कि सौदा केंद्र में खुदरा है। कंपनी निकट भविष्य में किसानों को JioMart सेवाओं का विस्तार करना चाहती है। मुकेश अंबानी ने यह भी कहा कि यह सौदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया के सपने के अनुरूप है।"


Edited by रविकांत पारीक