Infosys के बोर्ड से रिटायर हुईं किरण मजूमदार-शॉ, जानिए अब कौन लेगा उनकी जगह

किरण मजूमदार शॉ को साल 2014 में इंफोसिस बोर्ड में स्वतंत्र निदेशक के पद पर नियुक्त किया गया था. साल 2018 में वह मुख्य स्वतंत्र निदेशक बन गई थीं.

Infosys के बोर्ड से रिटायर हुईं किरण मजूमदार-शॉ, जानिए अब कौन लेगा उनकी जगह

Thursday March 23, 2023,

2 min Read

देश की दिग्गज सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) कंपनी इंफोसिस Infosys ने कंपनी के बोर्ड में स्वतंत्र निदेशक पद पर कार्यरत किरण मजूमदार शॉ (Kiran Mazumdar-Shaw) के रिटायरमेंट की घोषणा कर दी है. कंपनी ने 23 मार्च को जानकारी दी कि मजूमदार का कार्यकाल 22 मार्च को पूरा हो गया और इसी के साथ वह रिटायर हो गई हैं.

इंफोसिस के चेयरमैन नंदन नीलेकणि (Nandan Nilekani) ने कहा, 'इतने सालों तक इंफोसिस परिवार का हिस्सा बने रहने और सालों तक बोर्ड को गाइडेंस देने और उसको लीड करने के लिए हम किरण को धन्यवाद कहना चाहते हैं. मैं व्यक्तिगत तौर पर उनका आभारी हूं क्योंकि अगस्त, 2017 में इंफोसिस को दोबारा ज्वाइन करने के बाद से बेहतरीन सहकर्मी और सहयोगी रही हैं.'

बता दें कि, मजूमदार को साल 2014 में इंफोसिस बोर्ड में स्वतंत्र निदेशक के पद पर नियुक्त किया गया था. साल 2018 में वह मुख्य स्वतंत्र निदेशक बन गई थीं.

कंपनी ने एक बयान में कहा, 'मजूमदार-शॉ ने नामांकन और पारिश्रमिक समिति और सीएसआर समिति के अध्यक्ष के रूप में और बोर्ड के रिस्ट मैनेजमेंट और ईएसजी समितियों के सदस्य के रूप में भी काम किया है.'

1953 में जन्‍मी 69 वर्ष की किरण मजूमदार शॉ बायोफार्मास्‍यूटिकल कंपनी बायोकॉन Biocon की फाउंडर और चेयरपर्सन हैं. उन्‍होंने 1978 में बायोकॉन की शुरुआत की थी. 2019 में फोर्ब्‍स मैगजीन ने उन्‍हें दुनिया की सबसे ताकतवर महिलाओं की सूची में 68वां स्‍थान दिया था.

डी. सुंदरम नए मुख्य स्वतंत्र निदेशक

वहीं, इंफोसिस ने मजूमदार की जगह डी. सुंदरम को मुख्य स्वतंत्र निदेशक के रूप में नियुक्त किया. उनकी नियुक्ति कंपनी की नामांकन और पारिश्रमिक समिति की सिफारिश पर हुई है. उनकी नियुक्ति 23 मार्च, 2023 से प्रभावी हो गई.

सुंदरम साल 2017 से ही इंफोसिस बोर्ड में शामिल रहे हैं. उन्होंने ऑडिट, रिस्क मैनेजमेंट, स्टेकहोल्डर्स रिलेशनशिप, नामांकन और पारिश्रमिक समिति और साइबर सिक्योरिटी रिस्क सब कमिटी में भी अपनी सेवाएं दी हैं.

इंफोसिस ने अपने प्रेस नोट में कहा, 'फाइनेंस और स्ट्रैटेजी जैसे सेक्टरों में व्यापक अनुभव के कारण वह कंपनी के भविष्य की दिशा तय करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे.'

सुंदरम को नियुक्ति की बधाई देते हुए नीलेकणि ने कहा, 'मुख्य स्वतंत्र निदेशक नियुक्त होने पर हम सुंदरम को भी बधाई देना चाहते हैं. इंफोसिस के विकास और बदलाव की यात्रा में हम उनके सहयोग की निरंतर उम्मीद करते हैं.'

यह भी पढ़ें
छंटनी के शिकार Google के सैकड़ों कर्मचारियों ने सुंदर पिचाई को लिखा ओपन लेटर, जानिए क्या मांग की


Edited by Vishal Jaiswal