Maruti Suzuki ने 9125 वाहनों को किया रिकॉल, इस गड़बड़ी के चलते उठाया कदम

By yourstory हिन्दी
December 06, 2022, Updated on : Tue Dec 06 2022 12:08:49 GMT+0000
Maruti Suzuki ने 9125 वाहनों को किया रिकॉल, इस गड़बड़ी के चलते उठाया कदम
कंपनी की अधिकृत डीलरशिप की ओर से जल्द ही प्रभावित वाहनों के मालिकों से इस बारे में संपर्क किया जाएगा.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

देश की प्रमुख कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (MSI) ने सियाज, ब्रेजा, एर्टिगा, XL6 और ग्रैंड विटारा की 9,125 यूनिट्स बाजार से वापस मंगाई हैं. कंपनी ने इन यूनिट्स को फ्रंट सीट बेल्ट में संभावित गड़बड़ी को ठीक करने के लिए रिकॉल किया है. मारुति ने शेयर बाजारों को भेजी सूचना में कहा कि इन प्रभावित वाहनों की मैन्युफैक्चरिंग 2 से 28 नवंबर, 2022 के दौरान हुई है.


Maruti Suzuki India ने कहा, ‘‘आगे की सीट बेल्ट्स की शोल्डर हाइट एडजस्टर असेंबली के एक चाइल्ड पार्ट में कुछ संभावित गड़बड़ी का पता चला है. इससे सीट बेल्ट खुल सकती है.’’ कंपनी ने कहा है कि ग्राहकों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए वह प्रभावित वाहनों को जांच के लिए वापस मंगा रही है.

फ्री में बदली जाएगी खराब सीट बेल्ट

मारुति सुजुकी का कहना है कि खराब सीट बेल्ट को नि:शुल्क (Free of Cost) बदला जाएगा. कंपनी की अधिकृत डीलरशिप की ओर से जल्द ही प्रभावित वाहनों के मालिकों से इस बारे में संपर्क किया जाएगा. कंपनी भारत में Alto K10, Alto, Wagon R, Celerio, Swift, Dzire, S-PRESSO, Ertiga, Brezza, Eeco, XL6, Grand Vitara, Baleno, Ciaz, Ignis कारों की बिक्री करती है.

सितंबर तिमाही में मुनाफा 4 गुना से अधिक बढ़ा

मारुति सुजुकी इंडिया का एकीकृत शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष की सितंबर तिमाही में चार गुना से अधिक बढ़कर 2,112.5 करोड़ रुपये हो गया. जुलाई-सितंबर तिमाही में रिकॉर्ड बिक्री से कंपनी का मुनाफा बढ़ा है. कंपनी ने पिछले वित्त वर्ष की समान तिमाही में 486.9 करोड़ रुपये का एकीकृत शुद्ध लाभ कमाया था. आलोच्य तिमाही में कुल परिचालन आय एक साल पहले के 20,550.9 करोड़ रुपये से बढ़कर 29,942.5 करोड़ रुपये हो गयी. मारुति ने दूसरी तिमाही के दौरान कुल 5,17,395 वाहनों की बिक्री की, जो किसी भी तिमाही की तुलना में उसकी सर्वाधिक बिक्री है. इस दौरान कंपनी की घरेलू बाजार में बिक्री 4,54,200 यूनिट रही.


मारुति सुजुकी ने कहा है कि इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की किल्लत होने से करीब 35,000 वाहनों के उत्पादन पर असर पड़ा. पिछले साल की समान तिमाही में भी इन उपकरणों की भारी किल्लत होने से कंपनी की बिक्री 3,79,541 यूनिट रही थी.

यह भी पढ़ें
Tata की कार खरीदनी है तो अभी सही मौका, नए साल में बढ़ सकते हैं दाम

Edited by Ritika Singh