Meesho ने इनफ्लुएंशर्स को क्यों थमाया लीगल नोटिस ? क्या है पूरा मामला...

सोशल मीडिया यूजर्स, जिनके हजारों में फॉलोअर्स थे, को Meesho और उसके निवेशकों के बारे में सभी प्लेटफॉर्म पर अपनी प्रोफाइल से ट्वीट करने के लिए कहा गया था. इन इनफ्लुएंशर्स को इसके बदले में पैसे देने का आश्वासन दिया गया था. लेकिन अब Meesho ने ऐसे लोगों के खिलाफ एक्शन लेते हुए उन्हें लीगल नोटिस भेजा है.

Meesho ने इनफ्लुएंशर्स को क्यों थमाया लीगल नोटिस ? क्या है पूरा मामला...

Wednesday June 08, 2022,

2 min Read

सोशल ई-कॉमर्स यूनिकॉर्न Meeshoने कुछ सोशल मीडिया इनफ्लुएंशर्स समेत उन लोगों को कानूनी नोटिस भेजा है, जिन्होंने कंपनी को कथित तौर पर बदनाम करने के लिए इन इनफ्लुएंशर्स से संपर्क किया था.

सोशल मीडिया यूजर्स, जिनके हजारों में फॉलोअर्स थे, को Meesho और उसके निवेशकों के बारे में सभी प्लेटफॉर्म पर अपनी प्रोफाइल से ट्वीट करने के लिए कहा गया था. इन इनफ्लुएंशर्स को इसके बदले में पैसे देने का आश्वासन दिया गया था.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मीशो ने एक बयान में कहा, “2 जून, 2022 को, ट्विटर यूजर रविसुतंजनी कुमार (@Ravisutanjani) ने Meesho के खिलाफ चल रहे एक ठोस अभियान का पर्दाफाश किया. इसमें उन्होंने बताया कि कैसे कई इनफ्लुएंशर्स ने कंपनी के निवेशकों को टैग करते हुए ट्वीट करने के लिए कहा. उनका (इनफ्लुएंशर्स का) उद्देश्य कथित रूप से झूठ फैलाकर कंपनी की प्रतिष्ठा को खराब करना था. खुलासा होने के बाद, कुछ इनफ्लुएंशर्स ने स्वीकार किया कि इस तरह के ट्वीट करने के लिए उन्हें पैसे मिले थे जबकि अन्य ने अपने पोस्ट हटा दिए.”

बयान में कहा गया है, "यह पहली बार नहीं है जब कंपनी को बदनाम करने की चाहत रखने वाले निहित स्वार्थ वाले लोगों ने Meesho को निशाना बनाया है."

SaltPe की को-फाउंडर उदिता पाल और Polygon में इनवेस्टमेंट लीड आशिमा अरोड़ा ने कहा कि मौद्रिक लाभ के लिए कंपनी के बारे में नकारात्मक टिप्पणियों को ट्वीट करने के लिए उनसे वर्ष की शुरुआत में संपर्क किया गया था.

उदिता पाल ने अपने एक ट्वीट में कहा, "आशिमा अरोड़ा और मैं सार्वजनिक रूप से सामने आए. Meesho को बदनाम करने के लिए हमसे संपर्क किया जा रहा था. हमने ऐसा करने से इनकार कर दिया." उन्होंने एक स्क्रीनशॉट भी शेयर किया.

हालांकि, मंगलवार को कंपनी ने यह भी घोषणा की कि जनवरी से मार्च, 2022 की तिमाही के लिए उसके प्लेटफॉर्म पर औसत दैनिक ऑर्डर साल-दर-साल 5 गुना बढ़कर 2.4 मिलियन हो गए थे. बयान में यह भी कहा गया है कि Meesho ने अपने 3PL शिपमेंट में 16 प्रतिशत की वृद्धि देखी है.

बहरहाल, Meesho इस स्थिति की निगरानी करना जारी रखेगा और कंपनी के बारे में गलत सूचना और झूठ फैलाने वालों के खिलाफ सख्त कानूनी सहारा लेने पर विचार करेगा.