Moneyboxx Finance ने जुटाई 20.77 करोड़ रुपये की इक्विटी

Moneyboxx टीयर 3 कस्बों और उससे भी छोटे क्षेत्रों के माइक्रो एंड स्मॉल एंटरप्राइजेस को अनसिक्योर्ड व सिक्योर्ड बिजनेस लोन उपलब्ध कराती है.

Moneyboxx Finance ने जुटाई 20.77 करोड़ रुपये की इक्विटी

Monday June 06, 2022,

2 min Read

Moneyboxx Finance Limited (Moneyboxx) ने 2 जून 2022 को नॉन प्रमोटर इन्वेस्टर्स से प्राइवेट प्लेसमेंट के माध्यम से 20.77 करोड़ रुपये की इक्विटी कैपिटल जुटाई है. इससे पहले कंपनी ने दिसंबर 2021 में 14.42 करोड़ रुपये की इक्विटी जुटाई थी. Moneyboxx एक बीएसई लिस्टेड नॉन-बैंकिंग फाइनेंस कंपनी है. यह टीयर 3 कस्बों और उससे भी छोटे क्षेत्रों के माइक्रो एंड स्मॉल एंटरप्राइजेस को अनसिक्योर्ड व सिक्योर्ड बिजनेस लोन उपलब्ध कराती है.

कंपनी ने हाल ही में इक्विटी फंड जुटाने के साथ अपनी पूंजी की स्थिति को मजबूत किया है. Moneyboxx ने अपने संचालन के पैमाने और विकास के अवसरों के विस्तार के लिए इस पैसे का उपयोग करने की योजना बनाई है. मार्च 2022 में कंपनी का एयूएम 119 करोड़ रुपये तक पहुंच गया, जो पिछले साल की तुलना में 92% की मजबूती से बढ़ रहा है और मौजूदा शाखाओं में बढ़ते कारोबार द्वारा समर्थित है.

अभी 5 राज्यों में 30 ब्रांच

Moneyboxx की योजना पांच राज्यों में 30 शाखाओं के अपने मौजूदा नेटवर्क को वित्त वर्ष 2023 तक 60 शाखाओं तक और वित्त वर्ष 2024 तक 100 से अधिक शाखाओं तक ले जाने की है. कंपनी ऐसा मौजूदा राज्यों में अपने परिचालन का विस्तार करके और नए राज्यों में प्रवेश करके करेगी. इसके अलावा कंपनी एयूएम को वित्त वर्ष 2023 तक 400 करोड़ रुपये से अधिक और FY24 तक 1,000 करोड़ से अधिक करने की तैयारी में भी है.

क्या कहते हैं को-फाउंडर

Moneyboxx Finance Ltd के को-फाउंडर दीपक अग्रवाल का कहना है, “मनीबॉक्सएक्स फाइनेंस में हमारा लक्ष्य अंडरसर्व्ड माइक्रो बिजनेसेज और उद्यमियों को लागत प्रभावी और पारदर्शी तरीके से ऋण प्रदान करना है. हमारे उधारदाताओं से बढ़ते और निरंतर समर्थन के साथ-साथ इक्विटी फंड जुटाने से हमें योग्य माइक्रो एंटरप्राइजेस का समर्थन करने और इस सेगमेंट में सकारात्मक प्रभाव पैदा करने के अपने उद्देश्य को आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी.”

आगे कहा, “हमने एक अच्छा बिजनेस मॉडल बनाया है और हमारा पोर्टफोलियो COVID-19 महामारी द्वारा पैदा की गईं चुनौतियों के बावजूद लचीला बना हुआ है. यह हमारी उच्च संग्रह दक्षता और बहुत कम एनपीए में परिलक्षित होता है, जिसका श्रेय हमारी मजबूत, तकनीक-संचालित अंडरराइटिंग प्रैक्टिसेज, मजबूत ग्राहक जुड़ाव और जमीनी उपस्थिति को जाता है. हमने 10 लाख रुपये के अंदर के लोन सेगमेंट में एक स्केलेबल और टिकाऊ व्यापार मॉडल बनाया है.”