OLA लॉन्च करेगी 10,000 इलेक्ट्रिक कैब

भारत में ई-मोबिलिटी इंडस्ट्री को बढ़ावा देने की दिशा में आगे बढ़ते हुए, OLA ने कहा कि वह जल्द ही प्रीमियम इलेक्ट्रिक कैब लॉन्च करेगी.

Aparajita Saxena

रविकांत पारीक

OLA लॉन्च करेगी 10,000 इलेक्ट्रिक कैब

Thursday January 05, 2023,

3 min Read

राइड-हेलिंग दिग्गज ओला (Ola) ने कहा कि वह आने वाले हफ्तों में 10,000 इलेक्ट्रिक कार टैक्सियां लॉन्च करने जा रही है, जो भारत में इस इंडस्ट्री के लिए प्रोत्साहन की बात है.

ओला ने एक बयान में कहा, नया "प्रीमियम" फ्लीट (बेड़ा), वर्तमान में पायलट मोड में है. इसे टॉप रेटेड ड्राइवरों द्वारा संचालित किया जाएगा, और कैब के आवंटन के बाद 100% सवारी आश्वासन मुहैया करेगा, जीरो कैंसिलेशन और 100% कैशलेस पेमेंट के साथ.

ओला के फाउंडर और सीईओ भाविश अग्रवाल ने कहा, "राइड-हेलिंग फ्लीट का विद्युतीकरण इंडस्ट्री को बढ़ावा देने की दिशा में सही कदम है और मोबिलिटी के भविष्य की दिशा में एक बड़ा कदम है."

भारत में ई-मोबिलिटी इंडस्ट्री के समर्थक, ओला की सहायक कंपनी ओला इलेक्ट्रिक (Ola Electric), पर्सनल मोबिलिटी स्पेस के लिए इलेक्ट्रिक टू-व्हीलर में एक प्रमुख खिलाड़ी है. ओला भी अपने चार्जिंग नेटवर्क के जरिए इस सेक्टर में विस्तार कर रही है.

ब्लूस्मार्ट (BluSmart) वर्तमान में भारत में सबसे बड़ी इलेक्ट्रिक व्हीकल राइड-हेलिंग कंपनी है. इसके पास लगभग 3,000 इलेक्ट्रिक कारें पहले से ही सड़कों पर दौड़ रही हैं. BluSmart अपने EV को निर्माताओं से लीज पर लेती है, और बिना किसी अतिरिक्त लागत जैसे कि ईंधन, EMI, किराए या कमीशन के भुगतान के बिना उन्हें चलाती है.

ड्राइवरों को एक निश्चित कमाई दी जाती है, जो उनकी कुल सैलरी का लगभग 30% है, और एक परिवर्तनीय आय (70%) है, जो इस बात पर निर्भर करती है कि वे अपने वाहन और ग्राहकों के साथ कैसा व्यवहार करते हैं.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, ओला अपने ईवी बेड़े की खरीद और लीज पर देने के साथ-साथ अपने ड्राइवरों को भी इसी तरह मुआवजा दे सकती है.

ओला की प्रतिद्वंद्वी Uber भी दिल्ली-एनसीआर के कुछ हिस्सों में इसी तरह की सेवा चला रही है.

कंपनी (Ola) ने कहा कि वह सबसे पहले बेंगलुरू में 1,000 कारें लॉन्च करेगी और वहां से आगे बढ़ेगी. इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, यह सर्विस ओला ऐप पर एक अलग कैटेगरी के रूप में उपलब्ध होगी.

ओला इलेक्ट्रिक ने सोमवार को घोषणा की है कि उसने दिसंबर 2022 में भारत में 25,000 से अधिक इलेक्ट्रिक स्कूटर बेचे. इसके परिणामस्वरूप ईवी निर्माता कंपनी ने 30 प्रतिशत से अधिक की बाजार हिस्सेदारी हासिल कर ली. ऑटो कंपनी ने दावा किया है कि कंपनी न केवल अपनी ग्रोथ रेट को बनाए रखने में कामयाब रही, बल्कि ऑटोमोबाइल बिक्री के लिए दिसंबर का महीना धीमा होने के बावजूद भारत में ईवी निर्माता ने रिकॉर्ड बिक्री हासिल की है.

ओला D2C (डायरेक्ट टू कस्टमर) मॉडल के साथ अपना व्यवसाय शुरू करते हुए ओला इलेक्ट्रिक ने हाल ही में अपने एक्सपीरियंस सेंटर के विस्तार पर भी ध्यान देना शुरू किया है. ऑटो कंपनी के वर्तमान में देश भर में 100 एक्सपीरियंस सेंटर हैं. कंपनी मार्च 2023 के अंत तक 200 और आउटलेट खोलने की भी योजना बना रही है. ओला ने आगे दावा किया है कि यह इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए एक मजबूत रोडमैप बनाने की दिशा में काम कर रही है, ताकि दुनिया के इलेक्ट्रिक मोबिलिटी में परिवर्तन को गति दी जा सके.

ओला S1 इलेक्ट्रिक स्कूटर को देश में बड़ी सफलता मिली है. बढ़ते नेटवर्क और बढ़ती डिमांड के साथ ओला इलेक्ट्रिक काफी तेजी से ग्रोथ कर रही है. अपनी बिक्री प्रदर्शन के बारे में बात करते हुए ओला इलेक्ट्रिक के संस्थापक एडवरटाइजमेंट सीईओ भाविश अग्रवाल ने कहा कि 2022 ग्लोबल ईवी हब बनने की दिशा में भारत की यात्रा में एक महत्वपूर्ण बिंदु साबित हुआ है.