देश भर में अकेले घूमने वाली महिलाओं की मदद के लिए OYO ने की पार्टनरशिप

By yourstory हिन्दी
November 11, 2022, Updated on : Fri Nov 11 2022 13:57:23 GMT+0000
देश भर में अकेले घूमने वाली महिलाओं की मदद के लिए OYO ने की पार्टनरशिप
वुमेन ट्रैवल ग्रुप ‘एडवेंचर विमेन इंडिया’ के साथ OYO की पार्टनर‍शिप से महिलाओं को मिलेगा सुरक्षित और बजट फ्रेंडली विकल्‍प.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

भारत में सोलो महिला ट्रैवलर्स यानी किसी पुरुष सुरक्षा गार्ड के बिना अकेले घूमने वाली महिलाओं की संख्‍या लगातार बढ़ रही है, लेकिन ये बढ़ने का अर्थ ये नहीं कि अकेले घूमना महिलाओं के लिए अब एकदम सुरक्षित हो गया है. सोलो ट्रैवल करने वाली लड़कियां बहुत सारी प्‍लानिंग, योजना, सिक्‍योरिटी मेजर्स और सुरक्षा उपायों के साथ घूमती हैं.


लेकिन टूरिज्‍म और हॉस्पिटैलिटी बिजनेस को पिछले काफी समय से इस बात की जरूरत महसूस हो रही है कि अकेले घूमने वाली महिलाओं के ट्रैवलिंग के अनुभव को और सुरक्षित बनाया जाए. महिलाएं आज आर्थिक रूप से आत्‍मनिर्भर हैं, अपने पैसे खुद कमा रही हैं और हॉस्पिटैलिटी बिजनेस के लिए पोटेंशियल बिजनेस ऑपॉर्च्‍युनिटी भी हैं.


इसके लिए हॉस्‍पिटैलिटी टेक्‍नोलॉजी प्‍लेटफॉर्म OYO ने एक विमेन ट्रैवल ग्रुप एडवेंचर विमेन इंडिया (Adventure Women India) के साथ पार्टनर‍शिप की है. एडवेंचर विमेन इंडिया महिलाओं को ट्रैवलिंग और एडवेंचर के लिए प्रेरित करने और एक सपोर्ट‍ सिस्‍टम मुहैया कराने वाला ग्रुप है.


OYO के साथ हुई पार्टनरशिप के तहत अब एडवेंचर विमेन इंडिया के जरिए ट्रैवल करने वाली महिलाओं को सामान्‍य फीचर्स के अलावा कुछ अतिरिक्‍त सुविधाएं भी मुहैया कराई जाएंगी. महिलाओं के लिए खासतौर पर सुरक्षित, साफ और बजट फ्रेंडली एकोमोडेशन का ख्‍याल रखा जाएगा.


अकसर सुरक्षित जगहों की तलाश में महिलाओं को महंगी जगहों का विकल्‍प चुनना पड़ता है. OYO की कोशिश है कि सोलो विमेन ट्रैवलिंग को बढ़ावा देने के लिए उन्‍हें सुरक्षित और बजट फ्रैंडली एकोमोडेशन के विकल्‍प उपलब्‍ध करवाए जाएं.

 

एडवेंचर विमेन इंडिया ट्रैवल और हॉस्पिटैलिटी इंडस्‍ट्री से जुड़े बहुत सारे पार्टनर्स के साथ कोलैबोरेशन में काम करता है ताकि महिलाओं को सुरक्षित यात्रा से लेकर रहने-ठहरने तक के बेहतर और सुरक्षित विकल्‍प उपलब्‍ध किए जा सकें. एडवेंचर विमेन इंडिया के जरिए महिलाओं को कई सारे विकल्‍प मिलते हैं, जिसमें से वे अपने बजट और जरूरत के हिसाब से सबसे बेहतर विकल्‍प चुन सकती हैं.    

 

OYO के साथ इस लांग टर्म पार्टनरशिप के जरिए महिलाओं के लिए अपने लिए बेहतर और सुरक्षित विकल्‍प चुनना आसान हो जाएगा. OYO के द्वारा उपलब्‍ध कराए जा रहे विकल्‍पों को पहले ही महिला सुरक्षा को देखते हुए फिल्‍टर कर दिया जाएगा.


एडवेंचर विमेन इंडिया के साथ 25 वर्ष से लेकर 45 वर्ष तक की करीब डेढ़ लाख औरतें जुड़ी हुई हैं. इस समूह के सदस्‍य भारत के 21 शहरों और दो इंटरनेशनल लोकेशन भूटान और मॉरीशस में सोला ट्रैवलर महिलाओं के लिए नेटवर्किंग और सपोर्ट सिस्‍टम देने का काम करते हैं.  


OYO के चीफ ग्रोथ ऑफीसर कविकृत का कहना है कि आज पूरी दुनिया में महिलाएं अकेले ट्रैवल कर रही हैं. यह बहुत तेजी से बढ़ रहा ट्रेंड है. हम भी महिलाओं के इस इंडीपेंडेंट एडवेंचर में मददगार होना चाहते हैं. एडवेंचर विमेन इंडिया की को-फाउंडर मीनल माथुर कहती हैं कि हम इस पार्टनरशिप को लेकर काफी उत्‍साहित हैं.


Edited by Manisha Pandey

हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें